Monday, Feb 18 2019 | Time 04:13 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ‘नयी सुविधाओं’ से जवानों के काफिले को सुरक्षित बनाया जाएगा: भटनागर
  • फ्रांस में सरकार विरोधी प्रदर्शन के तीन महीने पूरे
  • लीबिया में खुफिया विभाग के पूर्व प्रमुख डोरडा हुआ रिहा
  • केरल में युवक कांग्रेस के दो कार्यकर्ताओं की हत्या
  • गृह मंत्रालय ने जम्मू-श्रीनगर क्षेत्र में सीआरपीएफ जवानों के लिए हवाई सुविधा मामले में स्पष्टीकरण दिया
बिजनेस Share

खान मार्केट में किराये में 17 फीसदी तक की बढोतरी

नयी दिल्ली 04 सितंबर (वार्ता) दुनिया भर के प्रमुख बड़े ब्रांडों के भारतीय बाजार में प्रवेश करने की लगी होड़ से देश के मुख्य शहरों दिल्ली एनसीआर, मुंबई, पुणे, बेंगलुरू और हैदराबाद के महंगे इलाके में स्थित बाजारों में किराये में बढोतरी दर्ज की गयी। इसी क्रम में राजधानी के प्रसिद्ध खान मार्केट के किराये में आठ से 17 फीसदी की बढोतरी हुयी है। हालांकि आमतौर पर देश के प्रमुख शहरों में किराये में लगभग स्थिरता रही है।
वर्ष 2018 की पहली छमाही के दौरान दिल्ली एनसीआर के खान मार्केट और डीएलएफ गैलेरिया , बेंगलुरु के कॉमर्शियल स्ट्रीट, जयानगर, हैदराबाद के जुबिली हिल्स रोड नंबर 36 , मुंबई के लिंकिंग रोड और पुणे के औंध तथा एमजी रोड जैसे महंगे बाजारों में किराया बढ़ा है। रियल एस्टेट सलाहकार कंपनी सीबीआरई दक्षिण एशिया ने मंगलवार को यहां जारी अपनी रिपोर्ट में यह बात कही है। उसने कहा कि दिल्ली-एनसीआर वैश्विक कंपनियों के लिए भारतीय बाजार में प्रवेश करने का द्वार बना हुआ है। ऐसी कंपनियों की दिल्ली एनसीआर पर नजर है जो अपना परिचालन शुरू करने या उसका विस्तार करने के लिए शानदार जगहों की तलाश कर रहे हैं। अंतरराट्रीय ब्रांड बाथ एंड बॉडी वर्क्स ने शहर में कदम रखा।
रिपोर्ट में कहा गया है कि पहली छमाही में घरेलू और अंतरराष्ट्रीय कंपनियां लीजिंग के कामकाज में लगी रहीं। इन गतिविधियों में एक्सेसरीज़ रिटेलर्स सबसे आगे रहे जिसके बाद आभूषण, इलेक्ट्रॉनिक्स, फर्नीचर और खिलौना कंपनियों का नंबर आता है। दिल्ली-एनसीआर के सभी स्थानों में किराये में बढ़ोतरी देखने को मिली। साकेत डिस्ट्रिक्ट सेंटर और नोएडा में अधिकांश माइक्रो-मार्केट में प्रमुख मॉल में छमाही आधार पर किराये में 5-8 फीसदी की बढ़ोतरी देखने को मिली। हालांकि वसंत कुंज और गुड़गांव जैसी जगहों में छमाही आधार पर 8-15 फीसदी तक किराये में बढ़ोतरी हुई जिसका मुख्य कारण सीमित खाली जगह और खास जगहों पर स्थान लेने की दिलचस्पी है। दूसरी तरफ खान मार्केट और डीएलएफ गैलेरिया जैसी महंगी जगहों पर किराया छमाही आधार पर 8-17 फीसदी तक बढ़ा।
शेखर अर्चना
जारी/ वार्ता
image