Tuesday, Nov 20 2018 | Time 18:47 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • सस्ते दर पर गुणवत्तापूर्ण दवाओं से लोगों के 15 हजार करोड़ बचे:मंडाविया
  • सस्ते दर पर गुणवत्तापूर्ण दवाओं से लोगों के 15 हजार करोड़ बचे:मंडाविया
  • राम मंदिर निर्माण के लिए सरकार अध्यादेश लाये:गिरिराज
  • उत्तराखंड नगर निकाय चुनाव में भाजपा आगे
  • विजयराघवगढ़ में संजय पाठक की प्रतिष्ठा दांव पर, रोचक मुकाबले की उम्मीद
  • उच्च शिक्षा का औसत 30 प्रतिशत करने को प्रतिबद्ध : नीतीश
  • आस्ट्रेलिया में विजयी शुरूआत के लिये उतरेगी टीम विराट
  • मानव सेवा ही सबसे श्रेष्ठ सेवा, मिलती है धर्म और कर्तव्य की झलक: आर्य
  • ट्रंप ने अर्जेंटीना पनडुब्बी हादसे में मारे गये लोगों के परिवारों के प्रति संवेदना
  • सुषमा का फैसला निजी मामला: कांग्रेस
  • एडिडास से जुड़े हॉकी कप्तान मनप्रीत सिंह
  • गुरुप्रताप बोपाराय फॉक्सवैगन इंडिया के भी प्रबंध निदेशक होंगे
  • पुणे से सिंगापुर के लिए उड़ान शुरू करेगी जेट एयरवेज
  • सिन्हा के हलफनामे पर जवाब दें मोदी : कांग्रेस
  • रुपये में लगातार छठे दिन तेजी
बिजनेस Share

दूध को ‘फोर्टीफाइड’ करने की अनिवार्यता पर जोर

दूध को ‘फोर्टीफाइड’ करने की अनिवार्यता पर जोर

नयी दिल्ली 05 सितम्बर (वार्ता) भारतीय खाद्य सुरक्षा एवं संरक्षा मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई) ने कुपोषण की समस्या को दूर करने के लिए सामान्य दूध को विटामिन ए , डी और सूक्ष्म पोषक तत्वों से भरपूर बनाने के लिए इसे ‘फॉटीफाइड ’ करने को अनिवार्य बनाने पर बल दिया है ।

एफएसएसएआई के मुख्य कार्यकारी अधिकारी पवन अग्रवाल ने आज यहां टाटा ट्रस्ट की ओर आयोजित मिल्क फॉर्टीफिकेशन पर राष्ट्रीय विचार विमर्श के दौरान कहा कि पूरी दुनिया में दूध को सूक्ष्म पोषक तत्वों से भरपूर करने के लिये इसका फार्टीफिकेशन किया जा रहा है। देश में सहकारी और निजी क्षेत्र की 24 कम्पनियां दूध को पोषक तत्वों से युक्त कर रही हैं जबकि इन क्षेत्रों की 14 कम्पनियां ऐसा नहीं कर रही हैं। उन्होंने कहा कि जो कम्पनियां ऐसा नहीं कर रही हैं उनके खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए ।

श्री अग्रवाल ने कहा कि प्राकृतिक दूध जल्द खराब होने वाली वस्तु है इसलिए इसका प्रसंस्करण किया जाना जरुरी है । प्रसंस्करण के दौरान दूध के कुछ सूक्ष्म पोषक तत्व नष्ट हो जाते हैं। इसलिए दूध में ऐसे तत्वों को अलग से मिलाना जरुरी हो जाता है । उन्होंने कहा कि दूध को फोर्टीफाइड करने का खर्च बहुत कम है और यह प्रति लीटर दो से तीन पैसा आता है। जिन कम्पनियों ने दूध को पोषक तत्वों से युक्त किया है उन्होंने दूध के दाम बढाये भी नहीं हैं ।

अरुण अर्चना

जारी वार्ता

More News
रुपये में लगातार छठे दिन तेजी

रुपये में लगातार छठे दिन तेजी

20 Nov 2018 | 6:25 PM

मुंबई 20 नवंबर (वार्ता) दुनिया की अन्य प्रमुख मुद्राओं के बास्केट में डॉलर के दो सप्ताह के निचले स्तर तक लुढ़कने और विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) के शुद्ध लिवाल बनने से अंतरबैंकिंग मुद्रा बाजार में भारतीय मुद्रा लगातार छठे दिन बढ़त बनाती हुई मंगलवार को 21 पैसे की मजबूती में 71.46 रुपये प्रति डॉलर पर पहुँच गयी।

 Sharesee more..

सराफा भाव बंद

20 Nov 2018 | 6:02 PM

 Sharesee more..

रात की धारणा

20 Nov 2018 | 6:02 PM

 Sharesee more..
image