Sunday, Jul 21 2019 | Time 16:20 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ठाणे में सड़क हादसे में मजदूर की मौत, 19 घायल
  • गुजरात में बारिश के कारण चार लोगों की मौत
  • विश्वास मत पर वोटिंग के दौरान तठस्थ रहेंगे बसपा के इकलौते विधायक
  • पैरोल जंप करने वाला ‘मोस्ट वांटेड‘ बदमाश पकड़ा गया
  • अमेरिका में लू से छह लोगों की मौत, करोड़ों प्रभावित
  • विश्व में खसरे से प्रति घंटे दस बच्चों की होती है मौत
  • विराट को तीनों फार्मेट की कप्तानी, हार्दिक को विश्राम
  • सादगी की मिसाल राय दा ने आजीवन पेंशन नहीं ली
  • सिरसा मेंं कांग्रेस नेताओं ने दी शीला दीक्षित को श्रद्धाजंलि
  • सिंधू का 2019 में अपने पहले खिताब का सपना टूटा
बिजनेस


उपाध्यक्ष ने कहा कि सामान्तर सत्रों में पांच विषय आधारित रिपोर्ट पर भी चर्चा की जायेगी। इस दौरान होने वाले विभिन्न सत्रों में सड़क परिवहन एवं राजमार्ग, जहाजरानी एवं जल संसाधन मंत्री नितिन गडकरी, रेल एवं कोयला मंत्री पीयूष गोयल, इलेक्ट्रानिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद, पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान और नागर विमानन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा पहले दिन विभिन्न सत्रों में भाग लेंगे। दूसरे दिन आवास एवं शहरी मामलों के मंत्री हरदीप सिंह पुरी, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडनवीस और दिल्ली में उप राज्यपाल अनिल बैजल संबोधित करेंगे।
उन्होंने कहा कि देश भर और विश्व के मोबिलिटी क्षेत्र में काम करने वाले संगठनों के साथ साझेदारी से मोबिलिटी के संबंध में भारत की रणनीति तैयार करने में मदद मिलेगी। शिखर सम्मेलन से भारत को अन्य देशों में होने वाले विकास से सीखने का भी अवसर मिलेगा। सम्मेलन में भाग लेने वालों में दुनिया भर के मोबिलिटी क्षेत्र के दिग्गज शामिल हैं। इनमें ओईएम, बैटरी निर्माता, चार्जिंग अवसंरचना प्रदाता, प्रौद्योगिकी सॉल्यूशन प्रदाता, भारत सरकार और विदेशों के प्रतिनिधि, विभिन्न अंतर-सरकारी संगठन, अकादमिक जगत और पॉलिसी थिंक-टैंक शामिल हैं।
उन्होंने कहा कि महिंद्रा इलेक्ट्रिक, हीरो साइकिल्स, टाटा मोटर्स, टाटा पावर, ओला, मारुति सुजुकी, होंडा, टोयोटा, बॉश, सन मोबिलिटी और अन्य कंपनियां डिजिटल प्रदर्शनी लगा रही हैं जिसमें अत्याधुनिक मोबिलिटी प्रौद्योगिकी का प्रदर्शन किया जायेगा।
शेखर अर्चना
वार्ता
image