Monday, Jul 22 2019 | Time 15:04 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • देश के अन्य प्रांतों में स्थानीय के लिए आरक्षण होगा तो बिहार में भी होगा इस पर विचार : मंत्री
  • चंद्रयान-2 श्रीहरिकोटा से प्रक्षेपित
  • गुजरात के 20 वें राज्यपाल आचार्य देवव्रत ने ली शपथ
  • दोस्ताना मैच में सेविला से हारा लीवरपूल
  • दोस्ताना मैच में सेविला से हारा लीवरपूल
  • चंद्रयान-2 श्रीहरिकोटा से प्रक्षेपित
  • पाकिस्तान ने राजौरी में किया संघर्ष विराम उल्लंघन
  • विपक्ष के हंगामे के कारण राज्यसभा की कार्यवाही तीन बजे तक स्थगित
  • भाजपा विधायक कालीपट्टी बांधकर सदन में पहुंचे
  • सहारा समूह ने जमाकर्ताओं के पैसे वापस नहीं किए तो सरकार करेगी कार्रवाई : मोदी
  • जॉनसन के प्रधानमंत्री बनने पर हैमंड देंगे इस्तीफा
  • गुरपिंदर सिंह की न्यायिक हिरासत में मौत की उच्च स्तरीय जांच हो: प्रो चावला
  • चंद्रयान-2 की सफलता के लिए विशेष पूजा
  • जनजातीय आयोग की सोनभद्र यात्रा टली
  • सावन की पहली सोमावारी पर भक्तों में उत्साह
बिजनेस


स्वच्छ ईंधन चालित वाहनों के लिए अब परमिट की जरूरत नहीं

स्वच्छ ईंधन चालित वाहनों के लिए अब परमिट की जरूरत नहीं

नयी दिल्ली 06 सितम्बर (वार्ता) सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने गुरुवार को कहा कि वाहनों से उत्सर्जित प्रदूषण को कम करने और पर्यावरण के अनुकूल स्वच्छ ईंधन से चलने वाले सभी प्रकार के वाहनों को अब परमिट की जरूरत नहीं होगी।

श्री गडकरी ने यहां वाहन निर्माता कंपनियों के शीर्ष संगठन सोसायटी आॅफ इंडियन ऑटोमोबाइल मैन्युफैक्चर्स (सियाम) की 58वीं वार्षिक बैठक के शुभारंभ के मौके पर यह घोषणा करते हुये कहा कि ग्रीन फ्यूल इथेनॉल, मिथेनॉल, बायो सीएनजी और इलेक्ट्रिक से चलने वाली गाड़ियों को परमिट की जरूरत नहीं होगी। इस निर्णय से परिवहन क्षेत्र में व्यापक परिवर्तन आएगा।

केंद्रीय मंत्री ने वाहन निर्माता कंपनियों से इसमें सहयोग करने की अपील करते हुये कहा कि स्वच्छ ईंधन से चलने वाले वाहनों के निर्माण के लिए कंपनियों को आगे आना चाहिए। उन्होंने कहा कि “अब समय आ गया है कि ऑटोमोबिल इंडस्ट्री जल परिवहन में पैसा लगाए। ईंधन की निर्यात लागत कम करने के लिए बायो फ्यूल और इलेक्ट्रिक से चलने वाले वाहनों की निर्माता कम्पनिया आगे आये।”

अर्चना/शेखर

जारी वार्ता

image