Tuesday, Feb 19 2019 | Time 09:00 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बंगलादेश में पोर्नोग्राफी और गैम्बलिंग वेबसाइट पर प्रतिबंध
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 20 फरवरी)
  • अमेरिका में तीन बच्चे सहित मृत पायी गयी महिला
  • अमेरिका में आपातकाल की घोषणा के विरोध में देश व्यापी प्रदर्शन
  • अल अजहर ने की नाइजीरिया में हुए आत्मघाती हमले की निंदा
  • मिस्र: बम विस्फोट में दो पुलिसकर्मी, एक आतंकवादी की मौत
  • सीरिया में आतंकवादी हमले में दो लोगों की मौत
  • तुर्की में यिल्दिरिम ने की इस्तीफा देने की घोषणा
  • इराक में आतंकवादियों ने की एक की हत्या और सात का अपहरण
  • यमन में सुरक्षा बलों के साथ झड़प में 10 हौती विद्रोही मारे गए
  • पुड्डुचेरी में बेदी से बातचीत के बाद नारायणसामी का धरना समाप्त
  • बिहार में 17 आईएएस अधिकारियों का तबादला
  • बेकाबू ट्रक की चपेट में आने से नौ लोगों की मौत, 22 घायल
  • भाजपा-शिवसेना गठबंधन ही महाराष्ट्र में ‘केवल विकल्प’: मोदी
बिजनेस Share

नीति आयोग के उपाध्यक्ष डॉ राजीव कुमार ने कहा कि ऑटो सेक्टर इंटरनल कंबस्शन इंजन से इलेक्ट्रिक वाहनों की आेर बढने में बड़ी बाधा का सामना कर रहा है। उन्होंने ऑटो सेक्टर द्वारा इनोवेशन और शोध एवं विकास में अधिक निवेश करने की जरूरत पर बल देते हुए कहा कि इस मद में एक प्रतिशत से अधिक का निवेश होना चाहिये। मॉर्डन मोबिलिटी से कार्बन उर्त्सजन कम होगा। हमें इस परिवर्तन की योजना बनानी होगी और इसका कुशल प्रबंधन करना होगा। नीति आयोग नये आइडिया और सलाह के प्रति खुला विचार रखता है। उन्होंने बताया कि नीति आयोग ऑटो इंडस्ट्री के ढांचे का अंतिम रूप दे रहा है और टास्क फोर्स के गठन के लिये राज्य सरकारों से समन्वय कर रहा है।
सियाम के अध्यक्ष एवं फोर्स मोटर्स के चेयरमैन डॉ अभय फरोडिया ने सरकार से अाग्रह किया कि वह ऑटो सेक्टर के दीर्घावधि नियामक नीति के रोडमैप की जरूरत पर ध्यान दे और साथ ही जीएसटी के कर भार काे कम करे। उन्होंने कहा कि अस्थायी नीति परिवर्तन से इंडस्ट्री में अनिश्चितता पैदा होती है और उन्होंने 10 साल की नीति के रोडमैप की मांग की।
श्री फारोडिया ने कहा कि मात्र चार साल में बीएस-4 से बीएस-6 के उर्त्सजन मानक का सफर तय करना बहुत जल्दी है।
ऑटाेमोटिव कंपोनेंट मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष राम वेंकटरामणि ने कहा कि निर्यात की गुणवत्ता में तेजीसे परिवर्तन हुआ है और इसने देश में 32 लाख से अधिक रोजगार के अवसर प्रदान किये हैं। उन्होंने बताया कि भारत का 60 फीसदी से अधिक निर्यात यूरोपीय देशों में जाता है। हम बीएस-6 लागू करने की अंतिम तिथि के प्रति प्रतिबद्ध हैं।
अर्चना/शेखर
वार्ता
More News
अर्जेंटीना के साथ व्यापार बढ़ाने की जरूरत : प्रभुु

अर्जेंटीना के साथ व्यापार बढ़ाने की जरूरत : प्रभुु

18 Feb 2019 | 10:45 PM

नयी दिल्ली 18 फरवरी (वार्ता) केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने अर्जेंटीना के साथ आपसी व्यापार बढ़ाने पर बल देते हुये सोमवार को कहा कि दोनों देशों के बीच सहयोग की व्यापक संभावनायें हैं जिनका इस्तेमाल किया जाना चाहिए।

 Sharesee more..

हरियाणा में 21.23 लाख क्विंटल चीनी का उत्पादन

18 Feb 2019 | 8:17 PM

 Sharesee more..

लोको पायलटों का जंतर-मंतर पर धरना

18 Feb 2019 | 8:11 PM

 Sharesee more..

लोको पायलटों का जंतर मंतर पर धरना

18 Feb 2019 | 8:03 PM

 Sharesee more..
image