Saturday, Sep 22 2018 | Time 22:41 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • गुजरात में विस चुनाव के बाद भाजपा की पहली कार्यकारिणी बैठक, रूपाणी, यादव ने साधा कांग्रेस पर निशाना
  • पाकिस्तान को उसी की भाषा में जवाब देने की जरुरत-रावत
  • राहुल का दो अक्टूबर को सेवाग्राम का कार्यक्रम
  • तूफान देया के कमजोर पड़ने के बाद बने निम्न दबाव के असर से गुजरात में जोरदार बरसात
  • कांग्रेस ने भ्रष्टाचार को पाला पोसा, गरीबों, किसानों से छल किया : मोदी
  • फोटो कैप्शन-तीसरा सेट
  • राफेल सौदे पर गलतबयानी कर रहे राहुल: अकबर
  • ढाई करोड़ की चरस बरामद, महिला समेत राजस्थान के दो तस्कर गिरफ्तार
  • हनुमानगढ़ में एक व्यापारी से बत्तीस लाख रुपये लूटे
  • राजस्थान में रोड़वेज की हड़ताल आज छठे दिन भी रही जारी
  • जनाधार के अनुसार हो सीटों का बंटवारा, नहीं तो भुगतना होगा खामियाजा
  • असम के मुख्यमंत्री दुमका पहुंचे, लोईस ने किया स्वागत
  • लोक मंथन कार्यक्रम की तैयारियों की हुई समीक्षा
  • दुमका से विस्फोटक बरामद, एक गिरफ्तार
  • राफेल मुद्दे पर प्रधानमंत्री से देश सच जानना चाहता है : शत्रुघ्न
बिजनेस Share

निजी वाहनों के पूर्ण उपयोग के लिए वाहन पूलिंग पर हो जोर: मोदी

नयी दिल्ली 07 सितंबर(वार्ता) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारत को दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बताते हुये शुक्रवार को कहा कि निजी वाहनों का पूर्ण उपयोग सुनिश्चित करने के लिए वाहन पूलिंग की संभावनाओं का पूरा लाभ उठाया जाना चाहिए और ऐसी व्यवस्था सुनिश्चित की चाहिए कि भविष्य में निजी वाहनों की तुलना में सार्वजनिक परिवहन को बढ़ावा मिले।
श्री मोदी ने देश में पर्यावरण अनुकूल एवं इलेक्ट्रिक मोबिलिटी को बढ़ावा देने पर विचार विमर्श के लिए नीति आयोग द्वारा आयोजित पहले वैश्विक मोबिलिटी शिखर सम्मेलन का यहां शुभारंभ करते हुये कहा कि भारत दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ने वाला अर्थव्यवस्था है। उन्होंने कहा “इंडिया इज ऑन द मूव ,आवर इकोनॉमी इज ऑन द मूव”। उन्होंने मोबिलिटी की आवश्यकता और महत्व पर प्रकाश डालते हुये कहा कि मोबिलिटी अर्थव्यवस्था को गति देने वाला मुख्य कारक है। बेहतर मोबिलिटी से यात्रा और परिवहन का बोझ कम होता है तथा इससे अर्थव्यवस्था को गति मिल सकती है। मोबिलिटी रोजगार प्रदान करने वाला बहुत बड़ा क्षेत्र है और इस क्षेत्र में रोजगार के नये अवसर पैदा होने की व्यापक संभावना है।
उन्होंने कहा कि भारत में भविष्य की मोबिलिटी पर उनका दृष्टिकोण ‘7 सी’पर आधारित है। इनमें कॉमन, कनेक्टेड, कॉन्वेनियेंट, कंजेशन फ्री, चार्जड, क्लीन, कटिंग ऐज शामिल हैं। उन्होंने मोबिलिटी के दूसरे पहलुओं पर ध्यान केन्द्रित करते हुये कहा कि कनेक्टेड मोबिलिटी से भाैगोलिक एकीकरण के साथ ही परिवहन के साधन जुड़ते हैं। इंटरनेट से जुड़ी भागीदारी वाली अर्थव्यवस्था उभर रही है क्योंकि यह मोबिलिटी का आधार है। उन्होंने कहा कि निजी वाहनों का पूरा उपयोग सुनिश्चित करने के लिए वाहन पूलिंग की पूरी संभावनाओं का लाभ उठाया जाना चाहिए।
शेखर अर्चना
जारी/वार्ता
More News

जबलपुर बाजार भाव

22 Sep 2018 | 8:23 PM

 Sharesee more..

चेन्नई सर्राफा के भाव

22 Sep 2018 | 8:02 PM

 Sharesee more..

22 Sep 2018 | 6:02 PM

 Sharesee more..
image