Friday, Apr 19 2019 | Time 12:17 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • तेलंगाना में लॉरी की टक्कर से दो श्रद्धालुओं की मौत
  • बोल्ड गर्ल के तौर पर अपनी पहचान बनायी ममता कुलकर्णी ने
  • बोल्ड गर्ल के तौर पर अपनी पहचान बनायी ममता कुलकर्णी ने
  • सहारण हत्याकांड के चश्मदीद गवाह के घर पर फायरिंग
  • गुजरात में चुनावी सभा को संबोधित कर रहे हार्दिक पटेल को मारा तमाचा
  • हैदराबाद में रेल निलयम भवन में आग, कोई हताहत नहीं
  • छत्तीसगढ़ में बारातियो को लेकर जा रहे वाहन के पलटने से सात मरे
  • जीत का विश्वास, भाजपा को हराने का लक्ष्य है: धवलीकर
  • दक्षिण और पूर्वोत्तर ने कांग्रेस के बुरे समय में दिया साथ
  • भुवनेश्वर में पूर्व-नौकरशाहों के बीच जंग
  • राजस्थान में चार दलबदलू हैं चुनाव मैदान में
  • मैक्सिको में विमान से 429 किग्रा मारिजुआना बरामद
  • कश्मीर में ट्रेन और मोबाइल इंटरनेट सेवा बहाल
  • केरल में भारी बारिश की चेतावनी
  • उ कोरिया ने बैलिस्टिक मिसाइल का परीक्षण नहीं किया: शनहान
बिजनेस


निजी वाहनों के पूर्ण उपयोग के लिए वाहन पूलिंग पर हो जोर: मोदी

नयी दिल्ली 07 सितंबर(वार्ता) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने भारत को दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था बताते हुये शुक्रवार को कहा कि निजी वाहनों का पूर्ण उपयोग सुनिश्चित करने के लिए वाहन पूलिंग की संभावनाओं का पूरा लाभ उठाया जाना चाहिए और ऐसी व्यवस्था सुनिश्चित की चाहिए कि भविष्य में निजी वाहनों की तुलना में सार्वजनिक परिवहन को बढ़ावा मिले।
श्री मोदी ने देश में पर्यावरण अनुकूल एवं इलेक्ट्रिक मोबिलिटी को बढ़ावा देने पर विचार विमर्श के लिए नीति आयोग द्वारा आयोजित पहले वैश्विक मोबिलिटी शिखर सम्मेलन का यहां शुभारंभ करते हुये कहा कि भारत दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ने वाला अर्थव्यवस्था है। उन्होंने कहा “इंडिया इज ऑन द मूव ,आवर इकोनॉमी इज ऑन द मूव”। उन्होंने मोबिलिटी की आवश्यकता और महत्व पर प्रकाश डालते हुये कहा कि मोबिलिटी अर्थव्यवस्था को गति देने वाला मुख्य कारक है। बेहतर मोबिलिटी से यात्रा और परिवहन का बोझ कम होता है तथा इससे अर्थव्यवस्था को गति मिल सकती है। मोबिलिटी रोजगार प्रदान करने वाला बहुत बड़ा क्षेत्र है और इस क्षेत्र में रोजगार के नये अवसर पैदा होने की व्यापक संभावना है।
उन्होंने कहा कि भारत में भविष्य की मोबिलिटी पर उनका दृष्टिकोण ‘7 सी’पर आधारित है। इनमें कॉमन, कनेक्टेड, कॉन्वेनियेंट, कंजेशन फ्री, चार्जड, क्लीन, कटिंग ऐज शामिल हैं। उन्होंने मोबिलिटी के दूसरे पहलुओं पर ध्यान केन्द्रित करते हुये कहा कि कनेक्टेड मोबिलिटी से भाैगोलिक एकीकरण के साथ ही परिवहन के साधन जुड़ते हैं। इंटरनेट से जुड़ी भागीदारी वाली अर्थव्यवस्था उभर रही है क्योंकि यह मोबिलिटी का आधार है। उन्होंने कहा कि निजी वाहनों का पूरा उपयोग सुनिश्चित करने के लिए वाहन पूलिंग की पूरी संभावनाओं का लाभ उठाया जाना चाहिए।
शेखर अर्चना
जारी/वार्ता
More News
जेट एयरवेज के फँसे यात्रियों के लिए ‘मोचन किराया’

जेट एयरवेज के फँसे यात्रियों के लिए ‘मोचन किराया’

18 Apr 2019 | 10:34 PM

नयी दिल्ली 18 अप्रैल (वार्ता) सरकारी विमान सेवा कंपनी एयर इंडिया ने जेट एयरवेज के विदेश में फँसे यात्रियों के लिए ‘रेस्क्यू फेयर’ (मोचन किराया) शुरू किया है।

see more..
image