Monday, Sep 24 2018 | Time 19:19 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • राज्यपाल बेबी रानी मौर्य नैनीताल दौरे पर आयेंगी
  • वाड्रा की कंम्पनी को बिचौलिया नहीं बनाने से कांग्रेस राफेल सौदा रद्द कराने पर आमादा
  • सहकारी संघवाद को मजबूत करती हैं क्षेत्रीय परिषद की बैठकें: श्री राजनाथ सिंह
  • संसद और विधानसभाओं में डिजिटल प्रणाली से आयेगी पारदर्शिता: मेघवाल
  • व्यस्कों की अपेक्षा युवाओं को भविष्य से अधिक उम्मीदें
  • छात्र के पांच हत्यारों को आजीवन और दो उम्र कैद की सजा
  • स्काउट गाईड राज्य परिषद का अधिवेशन सम्पन्न
  • छात्रों को तकनीकी शिक्षा देने के लिए बिहार सरकार गंभीर : प्रो नंदन
  • राहुल, ओलांद पर जेटली का बयान हास्यास्पद : कांग्रेस
  • उत्तराखंड में मानसून अति सक्रिय
  • संजीव भट्ट की पत्नी की याचिका पर गुजरात सरकार को नोटिस
  • अयोग्यता मामला: जद यू की याचिका पर शरद को नोटिस
  • नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना एक्सप्रेस वे पर आवास परियोजनाओं को पूरी करने की सिफारिश
  • मुंबई में पेट्रोल का दाम 90 रुपये से ऊपर
  • नायडू मंगलवार को दो दिवसीय यात्रा पर जयपुर आयेंगे
बिजनेस Share

किराया बढ़ा सकती हैं विमान सेवा कंपनियाँ

नयी दिल्ली 10 सितम्बर (वार्ता) विमान ईंधन की बढ़ती कीमत के मद्देनजर विमान सेवा कंपनियों की बैलेंसशीट पर भारी दवाब है जिसके कारण देश में हवाई यात्रा महँगी हो सकती है।
अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में तेजी तथा डॉलर की तुलना में रुपये में जारी भारी गिरावट के कारण पिछले एक साल में विमान ईंधन की कीमत 40 प्रतिशत तक बढ़ चुकी है। दिल्ली हवाई अड्डे पर घरेलू एयरलाइंसों के लिए इसकी कीमत सितम्बर 2017 में 50,020 रुपये प्रति किलोलीटर थी जो अब बढ़कर 69,461 रुपये प्रति किलोलीटर पर पहुँच चुकी है। इस प्रकार इसमें 38.87 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गयी है।
विमान ईंधन के दाम बढ़ने से शेयर बाजार में सूचीबद्ध तीन विमान सेवा कंपनियों में से स्पाइसजेट और जेट एयरवेज को चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में नुकसान उठाना पड़ा है जबकि देश की सबसे बड़ी विमान सेवा कंपनी इंडिगो का मुनाफा 96.57 प्रतिशत घटकर 27.79 करोड़ रुपये रह गया।
स्पाइसजेट के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक अजय सिंह ने आज यहाँ एक कार्यक्रम से इतर किराये में बढ़ोतरी की संभावना के बारे में पूछे जाने पर कहा “हम लागत कम करने की कोशिश कर रहे हैं। इसी महीने से हमारे बेड़े में बोइंग 737 मैक्स विमान शामिल होने शुरू हो जायेंगे जो ईंधन के मामले में 15 प्रतिशत लागत कम करते हैं। इनके रखरखाव का खर्च भी कम है। इसके अलावा विमान सेवा कंपनियों ने सरकार से करों तथा शुक्लों में कटौती का भी अनुरोध किया है। यदि जरूरत पड़ी तो हम बढ़ती लागत का कुछ बोझ किराया बढ़ोतरी के रूप में यात्रियों पर भी डाल सकते हैं।”
अजीत/शेखर
जारी (वार्ता)
More News
100 डॉलर पर पहुँच सकता है कच्चा तेल

100 डॉलर पर पहुँच सकता है कच्चा तेल

24 Sep 2018 | 7:03 PM

सिंगापुर 24 सितम्बर (रायटर) ईरान के खिलाफ प्रतिबंधों के कारण इस साल के अंत तक या अगले साल के आरंभ तक अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमत 100 डॉलर प्रति बैरल तक पहुँच सकती है जिससे भारत में पेट्रोल-डीजल की कीमतों के नयी ऊँचाई छूने की आशंका है

 Sharesee more..

सराफा भाव बंद

24 Sep 2018 | 6:07 PM

 Sharesee more..

रात की धारणा

24 Sep 2018 | 6:07 PM

 Sharesee more..
image