Wednesday, Nov 21 2018 | Time 23:25 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • लखनऊ की तनुश्री ने विश्व जूनियर साफ्ट टेनिस चैंपियनशिप में जीता कांस्य पदक
  • छत्तीसगढ़ के खिलाफ यूपी जीत के ट्रैक पर
  • विधायकों के वेतन में बढ़ोतरी गरीबों के साथ क्रूर मजाक : भाकपा-माले
  • राज्यपाल ने जम्मू कश्मीर विधानसभा भंग की
  • बंदी ने फांसी लगाकर की आत्महत्या
  • रेल परियोजनाओं के कार्य में लायें तेजी : रघुवर
  • नवीन ने मोदी को पोलावरम परियोजना बंद करने के लिए पत्र लिखा
  • मसानजोर टूरिस्ट कॉम्पलेक्स का शीघ्र होगा लोकार्पण
  • मिर्जापुर में दूसरे दिन भी अराजक तत्वों ने किया कई जगह पथराव
  • अमित शाह ने किया बीकानेर में रोड शो
  • ट्रैक्टर से कुचलकर एक की मौत
  • गुजरात में नदी से मिले जनधन योजना के खातों के 350 से अधिक एटीएम कार्ड
  • अखनूर में पाकिस्तानी सेना ने संघर्ष विराम का उल्लंघन किया
  • अखनूर में पाकिस्तानी सेना ने संघर्ष विराम का उल्लंघन किया
बिजनेस Share

जीएसटी दरों में कमी का लाभ नहीं देने वालों की शिकायत के लिए हेल्पलाइन नंबर

जीएसटी दरों में कमी का लाभ नहीं देने वालों की शिकायत के लिए हेल्पलाइन नंबर

नयी दिल्ली 10 सितंबर (वार्ता) राष्ट्रीय मुनाफाखोरी रोधी प्राधिकरण (एनएए) ने विभिन्न उत्पादों पर वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) दरों में की गयी कटौती का लाभ उपभोक्ताओं को नहीं देने वालों की शिकायत करने के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किया है जिसपर उपभोक्ता अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

प्राधिकरण ने कहा है कि जीएसटी परिषद द्वारा की गयी सिफारिशों के आधार पर सरकार ने 100 से अधिक वसतुओं पर जीएसटी दरों में कमी की है अौर इन उत्पादों की सूची वेबसाइट पर उपलब्ध है। जीएसटी के तहत माल एवं सेवा प्रदाताओं को कर की दरों में कटौती या इनपुट टैक्स् क्रेडिट का लाभ उपभोक्ताओं और प्राप्तकर्ताओं को मूल्य में कमी के माध्यम से देना आवश्यक नहीं है। ऐसा नहीं करना ही मुनाफाखोरी माना जाता है और इस संबंंध में शिकायत की जा सकती है।

इसके लिए ऑनलाइन शिकायत करने के साथ ही प्राधिकरण के सचिव को मेल भी किया जा सकता है।

प्राधिकरण ने अब आम लोगों के लिए इसको सुलभ बनाते हुये हेल्पलाइन नंबर 011-21400643 शुरू किया है जिस पर कोई भी उपभोक्ता अपनी शिकायत करा सकता है। शिकायतकर्ता को खरीदे गये उत्पादोें का बिल लेना अनिवार्य होगा और उसी के आधार पर शिकायत पर कार्रवाई की जायेगी।

उल्लेखनीय है कि जीएसटी दरों में कमी किये जाने के बावजूद कुछ कंपनियों के उत्पादों की दरों में कमी नहीं करने और पुराने मूल्य पर उत्पाद बेचने की शिकायतें मिलती रही है। इसी पर रोक लगाने के लिए इस प्राधिकरण का गठन किया गया था अौर अब इस हेल्पलाइन के जरिये अपनी शिकायत कर सकते हैं।

शेखर

वार्ता

More News

सराफा भाव बंद

21 Nov 2018 | 5:57 PM

 Sharesee more..

रात की धारणा

21 Nov 2018 | 5:56 PM

 Sharesee more..

कपास्या तेल में ग्राहकी सामान्य

21 Nov 2018 | 5:54 PM

 Sharesee more..

इंदौर बाजार तीन अंतिम इंदौर

21 Nov 2018 | 5:53 PM

 Sharesee more..
image