Friday, Nov 16 2018 | Time 20:16 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • गडकरी मुंबई में करेंगे दो तैरते रेस्टोरेंट की शुरुआत
  • विकासवादी समाचारों को फोकस कर दोतरफा संवाद बनायें मीडिया:अरिमर्दन सिंह
  • हरियाणा 28 आइपीएस और चार एसपीएस अधिकारियों के तबादले
  • दुष्कर्म एवं पोकसाे मामलों के निपटान के लिए 1023 विशेष अदालतें बनेगीं
  • फर्रूखाबाद सड़क दुर्घटना में लखनऊ एयापोर्ट के प्रबंधक और उनकी पत्नी की मृत्यु
  • मंजू वर्मा के खिलाफ कुर्की-जब्ती का आदेश
  • महाराष्ट्र विधान सभा का शीतकाली सत्र 19 नवंबर से
  • राष्‍ट्रीय महिला आयोग में तीन सदस्‍य मनोनीत
  • दुष्कर्म एवं पोकसाे मामलों के निपटान के लिए 1023 विशेष अदालतें बनेगीं
  • अखाड़ा भवन ध्वस्तीकरण मामले में शनिवार को होगी सुनवाई
  • अनुच्छेद 370 : याचिका की सुनवाई अगले वर्ष अप्रैल में
  • एनआईटी उत्तराखंड का मामला पहुंचा हाईकोर्ट
  • चित्रकूट सड़क दुर्घटना में टेम्पो सवार तीन लोगों की मृत्यु
  • चेन्नई के एथलीटों ने जीते सबसे अधिक 23 स्वर्ण
  • अमरिन्दर पर लगाए आरोप बेबुनियाद: वेरका
बिजनेस Share

डीबीएटीयू डिजाइन थिंंकिंग शामिल करने वाला पहला प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय

नयी दिल्ली 11 सितंबर (वार्ता) डिजाइन थिंकिंग की नींव पर विकसित शिक्षा प्रणाली बनाने के उद्देश्य के साथ
महाराष्ट्र के डॉ. बाबासाहेब भीमराव आंबेडकर प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय (डीबीएटीयू) ने उससे संबद्ध सभी 78 इंजीनियरिंग कॉलेजों में डिजाइन शिक्षा को अनिवार्य बनाने की घोषणा की है।
इसके साथ ही यह विश्वविद्यालय इंंजीनियरिंग पाठ्यक्रम में डिजाइन शिक्षा को अनिवार्य रूप से शामिल करने वाला देश्ा का पहला प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय बन गया है। इससे महाराष्ट्र के 78 इंजीनियरिंग कॉलेजों में मैकेनिकल इंजीनियरिंग की दूसरे वर्ष की पढ़ाई करने वाले करीब 7000 छात्र लाभान्वित होंगे। अन्य स्ट्रीम में यह पाठ्यक्रम वैकल्पिक होगा।
राष्ट्रीय उच्चतर शिक्षा अभियान के अंतर्गत 2017 में गठित उद्योग के प्रतिनिधियाें ऑटोडेस्क, नैसकॉम और सेक्टर स्किल्स काउिंंसिल के सदस्याें वाली एक विशेषज्ञ समिति ने इंजीनियरिंग शिक्षा में डिजाइन केंद्रित फाउंडेशन पाठ्यक्रमों को शामिल करने की सिफारिश की थी।
डीबीएटीयू द्वारा शुरू किए गए प्रोडक्ट डिजाइन इंजीनियरिंग कोर्स को नैसकॉम द्वारा प्रमाणित किया गया है और इसे 3डी डिजाइन टैक्नोलॉजी की अग्रणी कंपनी ऑटोडेस्क द्वारा विकसित किया गया है। इसमें अग्रणी विनिर्माण कंपनियों जैसे कि टाटा टैक्नोलॉजिज, लार्सन एंड टुब्रो, जेसीबी इंडिया और इमेजिनेरियम के साथ इसके लिए परामर्श किया गया है।
शेखर
वार्ता
More News
हिमालया का खुश रहो- खुशहाल रहो अभियान हुआ लॉन्च

हिमालया का खुश रहो- खुशहाल रहो अभियान हुआ लॉन्च

16 Nov 2018 | 6:44 PM

नयी दिल्ली 16 नवंबर (वार्ता) वेलनेस कंपनी द हिमालया ड्रग कंपनी ने हर घर में वेलनेस, हर दिल में खुशी के संदेश को पहुंचाने के लिए खुश रहो - खुशहाल रहो अभियान लाँच किया है।

 Sharesee more..

लगातार चौथे दिन मजबूत हुआ रुपया

16 Nov 2018 | 6:42 PM

 Sharesee more..

16 Nov 2018 | 6:36 PM

 Sharesee more..

16 Nov 2018 | 6:36 PM

 Sharesee more..
image