Tuesday, Sep 29 2020 | Time 07:26 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • वैश्विक वित्तीय प्रणाली से ईरान को अलग-थलग करना चाहता है अमेरिका : रिपोर्ट
  • अर्मेनिया और अजरबैजान पर सुरक्षा परिषद में होगी चर्चा
  • इजरायल में कोरोना संक्रमण के 2,239 नये मामले
  • तुर्की में कोरोना संक्रमण के 1,412 नये मामले
  • लेबनान में कोरोना संक्रमण के 1,018 नये मामले
  • मोरक्को में कोरोना संक्रमण के 1,422 नये
  • यूएई में कोरोना के 626 नये मामले
  • इंडोनेशिया में कोरोना संक्रमण के 3,509 नये मामले
  • इंडोनेशिया में भूस्खलन से 11 लोगों की मौत, तीन घायल
  • इंडोनेशिया में भूस्खलन से 11 लोगों की मौत, तीन घायल
बिजनेस


इंटरनेट पर अंग्रेजी-हिंदी के बीच की डिजिटल खाई हुयी समाप्त

नयी दिल्ली 14 सितंबर (वार्ता) देश की पहली लिंग्विस्टिक ईमेल सेवा ‘डेटामेल’ ने इंटरनेट की दुनिया में अंग्रेजी के वर्चस्व को तोड़ते हुये हिन्दी दिवस के अवसर पर इंटरनेट पर भाषा की आजादी का संकल्प लिया है।
भाषायी ई मेल सेवा डेटामेल को संचालित करने वाली कंपनी डेटा एक्सजेन प्लस टेक्नोलॉजी के संस्थापक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी अजय डेटा ने शुक्रवार को यहां जारी बयान में कहा कि भारत को एक ऐसे पारिस्थितिकी तंत्र, जिसमें सॉफ्टवेयर, हार्डवेयर और अन्य सामग्री शामिल हैं, के विकास का जश्न मनाना चाहिए जिसने मिलकर इंटरनेट को सही मायने में समावेशी बना दिया है।
उन्होंने कहा कि हिन्दी के साथ ही अन्य क्षेत्रीय भाषाओं में बुनियादी इंटरनेट अवसंरचना के साथ डोमेन नेम ने देश में डिजिटल खाई को पाटने में उत्प्रेरक का काम किया है। उन्होंने कहा कि देश में करीब 55 करोड़ लोग अपनी भाषा के रूप में हिंदी का उपयोग कर रहे हैं। इस वजह से डेटामेल द्वारा संचालित भाषाई ईमेल सेवा उन लाखों लोगों को इंटरनेट शक्ति प्रदान करती है जो अंग्रेजी से खासे परिचित नहीं हैं।
उन्होंने कहा कि व्यक्तियों के बीच संचार और जुड़ाव में भाषा बुनियाद होती है। आगे बढ़कर यह उन नवाचारों की ओर लेकर जाएगी जिसकी कल्पना अभी नहीं की जा सकती।
शेखर अर्चना
वार्ता
image