Thursday, May 28 2020 | Time 06:12 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ओमान में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 8373 हुई
  • अमेरिका में कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा एक लाख के पार पहुंचा
  • तुर्की में कोरोना के 1035 मामले सामने आए
  • पोंपियो ने इंडोनेशिया के विदेश मंत्री से आर्थिक सहयोग पर की चर्चा
  • रुस में फंसे 200 फिलिस्तीनी छात्र दो सप्ताह के अंदर घर लौटेंगे : नोफल
  • मुम्बई से 1825 प्रवासी उत्तराखंडी विशेष ट्रेन से लालकुआं पहुंचे
  • वाशिंगटन में 29 मई से पाबंदियां हटेंगी ः बोसेर
  • यूएई में कोरोना के 883 नए मामले सामने आए, कुल 31969 संक्रमित
  • इटली में कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा 33072 हुआ
  • राजस्थान सरकार ने रेल किराया देने से मना किया तो बिहार ने किया एक करोड़ का भुगतान : सुशील
  • महराष्ट्र में कोरोना के सर्वाधिक 2190 नए मामले सामने आए
बिजनेस


जेट एयरवेज निदेशक मंडल की महत्वपूर्ण बैठक मंगलवार को

मुंबई, 15 अप्रैल (वार्ता) वित्तीय संकट में फँसी निजी विमान सेवा कंपनी जेट एयरवेज के निदेशक मंडल की मंगलवार को यहाँ एक महत्त्वपूर्ण बैठक होने वाली है जिसमें आगे का रुख तय किया जायेगा।
कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी विनय दुबे ने सोमवार को बताया कि ऋणदाताओं के कंसोर्टियम से फौरी राहत के तौर पर प्रस्तावित राशि अभी कंपनी को नहीं मिली है। ऐसे में कंपनी ने अपनी सभी अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें 18 अप्रैल तक के लिए रद्द कर दी हैं। इससे पहले उसने 12 से 15 अप्रैल तक की सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें रद्द कर दी थी।
श्री दुबे ने बताया कि कंपनी के निदेशक मंडल की मंगलवार सुबह बैठक होनी है। इसमें कंपनी प्रबंधन निदेशक मंडल से आगे के लिए दिशा-निर्देश माँगेगा। निदेशक मंडल को मौजूदा स्थिति और ऋणदाताओं के साथ बातचीत में हुई प्रगति के बारे में भी अवगत कराया जायेगा।
उल्लेखनीय है कि आठ ऋणदाता बैंकों के कंसोर्टियम को निदेशक मंडल ने 11 करोड़ 40 लाख नये शेयर जारी करने का फैसला किया था। ऋणदाताओं को ये शेयर बेचकर अपने ऋण की वसूली करनी थी। साथ ही वे 1,500 करोड़ रुपये की राशि फौरी राहत के तौर पर जेट एयरवेज को देने वाले थे ताकि वह फिलहाल परिचालन जारी रख सके लेकिन, यह राशि अभी उसे नहीं मिली है।
नकदी की कमी के कारण कंपनी ठप होने की कगार पर पहुँच गयी है। उसके 10 से भी कम विमान परिचालन में रह गये हैं। वह ऋणदाताओं को कर्ज का किस्त चुकाने में विफल रही है और बैंकों के कंसोर्टियम ने समाधान प्रक्रिया के तहत उसकी 75 प्रतिशत तक हिस्सेदारी बेचने के लिए निविदा आमंत्रित की है। वित्तीय निविदा जमा कराने की अंतिम तिथि 30 अप्रैल है।
विमानों का किराया नहीं चुकाने के कारण विमान पट्टे पर देने वाली कंपनियों ने विमान वापस ले लिये हैं। कंपनी ने जनवरी से पायलटों, इंजीनियरों और प्रबंधन के वरिष्ठ अधिकारियों को वेतन नहीं दिया है। अन्य कर्मचारियों को आंशिक वेतन मिल रहा था, लेकिन उनका मार्च का वेतन अब तक नहीं दिया गया है।
अजीत.श्रवण
वार्ता
More News
बैंकिग समूह में जबरदस्त लिवाली से शेयर बाजार में तूफानी तेजी

बैंकिग समूह में जबरदस्त लिवाली से शेयर बाजार में तूफानी तेजी

27 May 2020 | 8:49 PM

मुंबई 27 मई (वार्ता) वैश्विक स्तर के मिश्रित संकेतों के बीच घरेलू स्तर पर बैंकिंग और वित्त समूह में हुयी लिवाली के बल पर शेयर बाजार में आज तीन फीसदी से अधिक की तेजी रही जिससे बीएसई का सेंसेक्स 996 अंक और एनएसई का निफ्टी 286 अंकों की तेजी हासिल करने में सफल रहा।

see more..
image