Friday, Jul 19 2019 | Time 19:53 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • जीईएम पर एक लाख करोड़ रुपए के लक्ष्य की कार्य योजना की समीक्षा
  • देश में एक दशक में 85 लाख किसान घटे
  • पानी भरे गड्ढे में डूबने से किशोर की मौत
  • पुलिस कर्मचारी ने थाने के सामने जहर पीकर आत्महत्या का किया प्रयास
  • जनजाति आयोग का दल 22 जुलाई को जाएगा सोनभद्र
  • बस और ट्रक की टक्कर में महिला की मौत, 10 घायल
  • रक्षा मंत्री द्रास में करगिल युद्ध स्मारक पर शहीदों को देंगे श्रद्धांजलि
  • राजा रणधीर सिंह और डॉ गुरतेज सिंह संधू डॉक्टरेट की उपाधि से सम्मानित
  • राजा रणधीर सिंह और डॉ गुरतेज सिंह संधू डॉक्टरेट की उपाधि से सम्मानित
  • ट्रेन से कटकर बाढ़ पीड़ित वृद्ध की मौत
  • अरुणाचल में भूकंप के झटके
  • रिलायंस जियो का तिमाही लाभ 46 प्रतिशत बढ़ा
  • रिलायंस इंडस्ट्रीज की कमाई रिकॉर्ड 1,72,956 करोड़ रुपये पर
  • चर्चित हीरा हत्याकांड में चार दोषियों को उम्रकैद
  • गरीब रथ एक्सप्रेस गाड़ियां बंद नहीं होंगी
बिजनेस


जेट एयरवेज निदेशक मंडल की महत्वपूर्ण बैठक मंगलवार को

मुंबई, 15 अप्रैल (वार्ता) वित्तीय संकट में फँसी निजी विमान सेवा कंपनी जेट एयरवेज के निदेशक मंडल की मंगलवार को यहाँ एक महत्त्वपूर्ण बैठक होने वाली है जिसमें आगे का रुख तय किया जायेगा।
कंपनी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी विनय दुबे ने सोमवार को बताया कि ऋणदाताओं के कंसोर्टियम से फौरी राहत के तौर पर प्रस्तावित राशि अभी कंपनी को नहीं मिली है। ऐसे में कंपनी ने अपनी सभी अंतर्राष्ट्रीय उड़ानें 18 अप्रैल तक के लिए रद्द कर दी हैं। इससे पहले उसने 12 से 15 अप्रैल तक की सभी अंतरराष्ट्रीय उड़ानें रद्द कर दी थी।
श्री दुबे ने बताया कि कंपनी के निदेशक मंडल की मंगलवार सुबह बैठक होनी है। इसमें कंपनी प्रबंधन निदेशक मंडल से आगे के लिए दिशा-निर्देश माँगेगा। निदेशक मंडल को मौजूदा स्थिति और ऋणदाताओं के साथ बातचीत में हुई प्रगति के बारे में भी अवगत कराया जायेगा।
उल्लेखनीय है कि आठ ऋणदाता बैंकों के कंसोर्टियम को निदेशक मंडल ने 11 करोड़ 40 लाख नये शेयर जारी करने का फैसला किया था। ऋणदाताओं को ये शेयर बेचकर अपने ऋण की वसूली करनी थी। साथ ही वे 1,500 करोड़ रुपये की राशि फौरी राहत के तौर पर जेट एयरवेज को देने वाले थे ताकि वह फिलहाल परिचालन जारी रख सके लेकिन, यह राशि अभी उसे नहीं मिली है।
नकदी की कमी के कारण कंपनी ठप होने की कगार पर पहुँच गयी है। उसके 10 से भी कम विमान परिचालन में रह गये हैं। वह ऋणदाताओं को कर्ज का किस्त चुकाने में विफल रही है और बैंकों के कंसोर्टियम ने समाधान प्रक्रिया के तहत उसकी 75 प्रतिशत तक हिस्सेदारी बेचने के लिए निविदा आमंत्रित की है। वित्तीय निविदा जमा कराने की अंतिम तिथि 30 अप्रैल है।
विमानों का किराया नहीं चुकाने के कारण विमान पट्टे पर देने वाली कंपनियों ने विमान वापस ले लिये हैं। कंपनी ने जनवरी से पायलटों, इंजीनियरों और प्रबंधन के वरिष्ठ अधिकारियों को वेतन नहीं दिया है। अन्य कर्मचारियों को आंशिक वेतन मिल रहा था, लेकिन उनका मार्च का वेतन अब तक नहीं दिया गया है।
अजीत.श्रवण
वार्ता
More News
मदर डेयरी 40 रुपये किलो मिलेगा टमाटर

मदर डेयरी 40 रुपये किलो मिलेगा टमाटर

19 Jul 2019 | 7:03 PM

नयी दिल्ली 19 जुलाई (वार्ता) राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में रसोईघर की शान माने जाने वाले टमाटर के मूल्य पर नियंत्रण कें लिए सरकार ने मदर डेयरी को गुणवत्तापूर्ण टमाटर 40 रुपये प्रति किलो की दर से उपभोक्ताओं को उपलब्ध कराने के निर्देश दिये हैं।

see more..
रुपया 17 पैसे चढ़ा

रुपया 17 पैसे चढ़ा

19 Jul 2019 | 6:45 PM

मुंबई 19 जुलाई (वार्ता) वैश्विक स्तर पर दुनिया की प्रमुख मुद्राओं के बॉस्केट में डॉलर पर बने दबाव के कारण शुक्रवार को भारतीय मुद्रा 17 पैसे चढ़कर 68.80 रुपये प्रति डाॅलर पर रही।

see more..
image