Saturday, Jan 29 2022 | Time 19:45 Hrs(IST)
image
बिजनेस


डिजिटल इंडिया ने रणनीतिक लाभ पैदा करने में किया योगदान: चंद्रशेखर

नयी दिल्ली 29 नवंबर (वार्ता) इलेक्ट्रॉनिक्स एवं सूचना प्रौद्योगिकी राज्य मंत्री राजीव चंद्रशेखर ने एक सप्ताह तक चलने वाले आज़ादी का डिजिटल महोत्सव का उद्घाटन करते हुये आज कहा कि डिजिटल इंडिया ने डिजिटल बुनियादी ढांचे तथा सेवाओं के लचीलेपन को साबित कर दिया है और भारत महामारी के बाद की दुनिया में अधिक आत्मविश्वास वाला और अधिक आशावादी राष्ट्र बनकर उभरा है।
श्री चंद्रशेखर ने कहा कि 2021 एक महत्‍वपूर्ण वर्ष है। डिजिटल इंडिया ने लोगों के जीवन को बदलने, डिजिटल अर्थव्यवस्था बनाने और देश के लिए रणनीतिक लाभ पैदा करने में काफी योगदान किया है। भविष्य में प्रौद्योगिकी की बढ़ती तीव्रता और नागरिकों की आकांक्षाओं को स्वीकार करते हुए उन्होंने छह मोर्चों, अर्थात् सभी के लिए कनेक्टिविटी, सरकारी सेवाओं और उत्पादों का स्मार्ट आर्किटेक्चर संचालित डिजिटलीकरण, भारत में डिजिटल अर्थव्यवस्था, वैश्विक मानक कानून, नेतृत्व प्रौद्योगिकी विशेषकर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में उन्नत प्रौद्योगिकी का नेतृत्‍व और 5जी एवं व्यापक-आधारित कौशल और प्रतिभा पूल पर आवश्यक कार्यों का सार प्रस्तुत किया। उन्होंने कहा कि इसका कार्यान्वयन सबका साथ सबका विकास, सबका विश्वास और सबका प्रयास का आह्वान करता है।
विभाग के सचिव अजय साहनी ने कहा कि हमने जो उपलब्धि प्राप्‍त की है उसका जश्न मनाने तथा भविष्य के लिए और नए भारत के निर्माण के लिए कार्य योजना तैयार करने का समय है। उन्होंने कहा कि बड़ी संख्या में डिजिटल सेवाएं चालू हैं और अब समय आ गया है कि उद्योग के साथ साझेदारी में राष्ट्रव्यापी सार्वजनिक डिजिटल प्लेटफॉर्म के माध्यम से सामाजिक क्षेत्रों में एकल परियोजनाओं का सामंजस्य स्थापित किया जाए। उन्होंने सेवाओं की पूरी श्रृंखला प्राप्त करने के लिए सिंगल साइन-ऑन, मल्टीपल विंडो पर जोर दिया और सेवा वितरण केंद्रों के सहायता प्राप्त मोड में नागरिकों को वॉक-इन करने की पसंद पर जोर दिया। उन्होंने विशेष रूप से उभरती प्रौद्योगिकियों का उपयोग करके भारत में डिजिटल उत्पाद बनाने पर भी ध्यान दिया।
शेखर
वार्ता
image