Tuesday, Jan 25 2022 | Time 17:16 Hrs(IST)
image
बिजनेस


एगनेक्स्ट टेक्नोलॉजीज की नैफेड के साथ साझेदारी

नयी दिल्ली 07 दिसंबर (वार्ता) प्रमुख एग्रीटेक कंपनी एगनेक्‍स्‍ट टेक्‍नोलॉजीज़ ने अपनी तरह की अनूठी पहल में अरुणाचल प्रदेश की ऑर्गेनिक कीवी के लिए क्वॉलिटी मूल्यांकन को डिजिटाइज़ करने के लिए नैफेड के साथ साझेदारी की है।
राष्ट्रीय स्तर पर “वन डिस्ट्रिक्ट वन प्रोग्राम” योजना के तहत अरुणाचल प्रदेश कृषि मार्केटिंग बोर्ड (ए.पी.ए.एम.बी) ने अपने मार्केटिंग पार्टनर नैफेड के सहयोग से इन ऑर्गेनिक कीवी को नई दिल्ली में लॉन्च किया है। भारत में पहली बार ऑर्गेनिक कीवी की गुणवत्ता का तेजी से मूल्यांकन करने के लिए एआई बेस्ड टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जा रहा है। एगनेक्‍स्‍ट ने अपने क्वॉलिटी मॉनीटरिंग प्लेटफॉर्म, “क्वॉलिक्स” के माध्‍यम से डीप-टेक पर आधारित संपूर्ण अनुरेखण (ट्रेसेबिलिटी) प्रदान करने में सक्षम बनाया है। क्यू.आर. कोड मैपिंग का इस्‍तेमाल कर उपभोक्ता ओरिजन से लेकर सप्लाई चेन में सभी प्रक्रिया का पता लगा सकते हैं।
कंपनी के सीईओ एवं संस्थापक तरणजीत सिंह भामरा ने कहा, “अरुणाचल के लोकप्रिय कीवी व्यापार के लिए संपूर्ण क्वॉलिटी और अनुरेखण प्रबंधन का समाधान प्रदान करने के लिए नैफेड के साथ काम करना काफी सम्मान की बात है। अभी तक 6000 किलोग्राम से ज्यादा कीवी का क्वॉलिक्स प्लेटफॉर्म पर मूल्यांकन किया गया है। यह किसानों, नैफेड और हमारे उपभोक्ताओं के लिए बहुत सारे लाभ लेकर आया है। कीवी के लिए गुणवत्‍ता आधारित एवं अनुरेखण में सक्षम व्‍यापार को बढ़ावा देने का असर न सिर्फ घरेलू मांग को बेहतर बनाएगा बल्कि फल की निर्यात क्षमता को बढ़ाने में भी मदद करेगा।”
नैफेड के अतिरिक्त प्रबंध निदेशक (ए.एम.डी.) पंकज प्रसाद ने बताया, “नैफेड ने अरुणाचल प्रदेश के ज़ीरो में एफ.पी.ओ के साथ सफलतापूर्वक साझेदारी की है, जिससे उन्हें अपने सर्टिफाइड आर्गेनिक कीवी के लिए बेहतर मार्केट लिंक बनाने में मदद मिली। डिजिटल गुणवत्ता का मूल्यांकन, फल की निरीक्षण प्रक्रिया को सुव्यवस्थित बनाने में मदद करता है। इससे उपभोक्ताओं को पूर्ण ट्रेसेबिलिटी रिपोर्ट मिलती है और किसानों व उपभोक्ताओं को मजबूती मिलती है। इसके नतीजे के तौर पर हमें बेहतर दाम मिलता है। इससे वैल्यूचेन में सभी भागीदारों के बीच बेहतर विश्वास और पारदर्शिता बनती है। भारतीय कृषि की क्षमता को सही मायने में सशक्त बनाने, किसानों की आमदनी बढ़ाने और गुणवत्ता पर आधारित व्यापार को सक्षम बनाने के लिए टेक्नोलॉजी को अपनाने में बढ़ोतरी बेहद आवश्यक है।”
शेखर
वार्ता
More News
ईपीएफ से जुड़े 4.88 करोड़ नए कर्मचारी

ईपीएफ से जुड़े 4.88 करोड़ नए कर्मचारी

25 Jan 2022 | 5:08 PM

नयी दिल्ली 25 जनवरी (वार्ता) कर्मचारी भविष्य निधि (ईपीएफ) योजना में सितंबर 2017 और नवंबर 2021 के बीच कम से कम 4.88 करोड़ नए कर्मियों के शामिल होने से देश में औपचारिक क्षेत्र के रोजगार के स्तर में बढ़ोतरी हुई है।

see more..
शेयर बाजार में लौटी तेजी

शेयर बाजार में लौटी तेजी

25 Jan 2022 | 4:05 PM

मुंबई 25 जनवरी (वार्ता) रूस-यूक्रेन तनाव एवं अमेरिकी फेड रिजर्व के ब्याज दरों में कटौती शुरू करने के संकेत से निवेशकों के सतर्कता बरतने के कारण वैश्विक बाजार के मिलेजुले रुख के बीच स्थानीय स्तर पर मारुति, एसबीआई, एनटीपीसी, टाटा स्टील और एलटी जैसी दिग्गज कंपनियों में हुई मजबूत लिवाली की बदौलत शेयर बाजार में आज तेजी लौट आई।

see more..
image