Thursday, Jul 18 2024 | Time 19:27 Hrs(IST)
image
बिजनेस


शिक्षा के पारंपरिक तरीकों पर निर्भारता हो रही कम

नयी दिल्ली 23 मई (वार्ता) प्रोफेशनल्‍स लोगों के बीच शिक्षा के पारंपरिक तरीकों पर निर्भरता कम हो रही है क्योंकि अपस्किलिंग के प्‍लेटफॉर्म्‍स को पसंद किये जाने का एक बड़ा ट्रेंड दिख रहा है।
दुनिया में डिजिटल कौशल के अग्रणी ऑनलाइन बूटकैम्‍प सिम्‍पलीलर्न ने अपने 2024 स्‍टेट ऑफ अपस्किलिंग कंज्‍यूमर सर्वे की जानकारियाँ साझा की हैं। यह सर्वे विभिन्‍न उद्योगों में कामकाजी पेशेवरों और सीएक्‍सओ के लिये अपस्किलिंग तथा पेशेवर तरक्‍की के उत्‍साही परिदृश्‍य पर रोशनी डालता है। यह कॅरियर में प्रगति, अपस्किलिंग की प्राथमिकताओं और डिजिटल अर्थव्‍यवस्‍था के विकसित हो रहे परिदृश्‍य पर बदलती संभावनाएं तलाशता है।
यह सर्वे विभिन्‍न उद्योगों, भौगोलिक जगहों और कॅरियर की अवस्‍थाओं के लेकर विभिन्‍न प्रोफेशनल पर किया गया है। 2024 कंज्‍यूमर सर्वे में 2023 की तुलना में सीखने वालों के रुख में उल्‍लेखनीय बदलाव दिखता है। 2024 में 65 प्रतिशत प्रोफेशनल्‍स ने पार्ट-टाइम या ऑनलाइन प्रमाणन पसंद किये, जोकि 2023 के 51प्रतिशत प्रोफेशनल्‍स की तुलना में काफी ज्‍यादा हैं। इसके उलट, सेल्‍फ-स्‍टडी पसंद करने वाले प्रोफेशनल्‍स का प्रतिशत 2024 में थोड़ा बढ़कर 25प्रतिशत हुआ (यह 2023 में 23प्रतिशत था)। इसी तरह, फुल-टाइम कॉलेज एनरोलमेन्‍ट के लिये रुझान बहुत कम हो गया। यह 2023 में 7प्रतिशत था, जबकि 2024 में 2 प्रतिशत रह गया। यह बदलाव प्रोफेशनल्‍स लोगों के बीच शिक्षा के पारंपरिक तरीकों पर कम होती निर्भरता दिखाता है। इसमें अपस्किलिंग के प्‍लेटफॉर्म्‍स को पसंद किये जाने का एक बड़ा ट्रेंड दिखता है।
रिपोर्ट के अनुसार जवाब देने वाले 85 प्रतिशत लोगों को अपस्किलिंग के बाद कॅरियर में बदलाव चाहिये। इससे रोजगार के एक उत्‍साही बाजार का पता चलता है। जवाब देने वाले 45 प्रतिशत लोगों ने अपनी कंपनी या वांछित कार्यक्षेत्र में नये अवसरों का फायदा लेने के लिये अपस्किल होने की जरूरत बताई।
अपस्किल होने की चाहत रखने वाले लोगों में से 65 प्रतिशत को पार्ट-टाइम ऑनलाइन प्रोग्राम्‍स या कोर्सेस में एनरोल होना है। इससे सीखने के लचीले विकल्‍पों का महत्‍व पता चलता है।
जवाब देने वालों ने डेटा साइंस एवं बिजनेस एनालिटिक्‍स, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एवं मशीन लर्निंग, प्रोग्राम एण्‍ड प्रोजेक्‍ट मैनेजमेंट, क्‍लाउड कंप्‍यूटिंग एवं डेवऑप्‍स, साइबर सिक्‍योरिटी, प्रोडक्‍ट मैनेजमेंट तथा सॉफ्टवेयर डेवलपमेंट को सबसे मांग वाली कुशलताएं बताया। इस तरह अत्‍याधुनिक टेक्‍नोलॉजीज में विशेषज्ञता की मांग दिखाई पड़ती है।
शेखर
वार्ता
image