Monday, Jan 20 2020 | Time 18:10 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • नोट तिगुना करने के नाम पर ठगने वाले तीन गिरफ्तार
  • बलात्कार मामले में आरोपी को सात वर्ष की सजा
  • फोटो कैप्शन पहला सेट
  • शारीरिक शिक्षकों की भर्ती उम्र भी दूसरे विषय जितनी हो: पियूष जैन
  • त्रिनगर सीट से तोमर का नामांकन रद्द किया जाये: भाजपा
  • स्पेशल सेल ने 60 पिस्तौल के साथ दो को किया गिरफ्तार
  • विमानन क्षेत्र की रफ्तार सात साल के निचले स्तर पर
  • म्यांमार के मालवाहक जहाज से चालक दल के 10 सदस्य बचाये गये
  • अल्पसंख्यकों के लिए केंद्रीय योजनाओं के खिलाफ याचिका पर केंद्र से जवाब तलब
  • ईवी स्टार्ट-अप ने लाँच किया नया इलेक्ट्रिक स्कूटर
  • आईएफएस दीपक सिन्हा वन विभाग के सचिव नियुक्त
  • आईडी स्वामी, अश्वनी कुमार और सुरजेवाला को विस में श्रद्धांजलि
  • हाउसिंगडॉटकॉम ने लाँच किया कोलिविंग सेगमेंट
  • ट्रेन से कटकर तीन महिलाओं की मौत
राज्य » गुजरात / महाराष्ट्र


वर्ष 1965 में निर्माता -निर्देशक मनोज कुमार के कहने पर प्रेम धवन ने फिल्म शहीद के लिये संगीत निर्देशन किया । यूं तो फिल्म शहीद के सभी गीत सुपरहिट हुये लेकिन ..ऐ वतन ऐ वतन ..और मेरा रंग दे बंसती चोला..
आज भी श्रोताओं के बीच शिद्धत के साथ सुने जाते है । भारत -चीन युद्ध पर बनी चेतन आंनद की वर्ष 1965 में प्रदर्शित फिल्म..हकीकत ..भी देश भक्ति से परिपूर्ण फिल्म थी। मोहम्मद रफी की आवाज में कैफी आजमी का लिखा यह गीत .. कर चले हम फिदा जानों तन साथियो अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों ..आज भी श्रोताओं में देशभक्ति के जज्बें को बुलंद करता है ।
देशभक्ति से परिपूर्ण फिल्में बनाने में मनोज कुमार का नाम विशेष तौर पर उल्लेखनीय है। शहीद .उपकार .पूरब और पश्चिम .क्रांति .जय हिंद द प्राइड जैसी फिल्मों में देश भक्ति की भावना से ओत प्रोत के गीत सुन आज
भी श्रोताओं की आंखे नम हो जाती है। जे.पी.दत्ता और अनिल शर्मा ने भी देशभक्ति के जज्बे से परिपूर्ण कई फिल्मों का निर्माण किया है।
इसी तरह गीतकारो ने कई फिल्मों में देशभक्ति से परिपूर्ण गीत की रचना की है। इनमें ..जहां डाल डाल पर सोने की चिडि़या करती है बसेरा वो भारत देश है मेरा , ए वतन ऐ वतन तुझको मेरी कसम .नन्हा मुन्ना राही हूं देश का सिपाही हूं ..है प्रीत जहां की रीत सदा मैं गीत वहां के गाता हूं . मेरे देश की धरती सोना उगले .दिल दिया है जां भी देगे ऐ वतन तेरे लिये, भारत हमको जा से प्यारा है .ये दुनिया एक दुल्हन के माथे की बिंदिया ये मेरा इंडिया ..सरफरोशी की तमन्ना अब हमारे दिल में है ..फिर भी दिल है हिंदुस्तानी ..जिंदगी मौत ना बन जाये संभालो यारो ..सरफरोश.मां तुझे सलाम .थोड़ी सी धूल मेरी धरती की मेरी वतन की ..आदि।
प्रेम, प्रियंका
वार्ता
image