Tuesday, Nov 12 2019 | Time 19:43 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • गाजा से रॉकेट हमले में इजरायली संयंत्र में लगी आग
  • जंगल की आग के कारण रैली ऑफ आस्ट्रेलिया रद्द
  • जर्मनी में इस्लामिक स्टेट के तीन संदिग्ध गिरफ्तार
  • इंटरनेट रोक के खिलाफ श्रीनगर में पत्रकारों ने किया विरोध-प्रदर्शन
  • स्वच्छता पर पार्षदों से विशेष ध्यान की अपेक्षा- रावत
  • इंटरनेट रोक के खिलाफ श्रीनगर में पत्रकारों ने किया विरोध-प्रदर्शन
  • दीपक चाहर की एक और हैट्रिक लेकिन राजस्थान हारा
  • सीजेआई कार्यालय आरटीआई के तहत है या नहीं, बुधवार को फैसला
  • राजधानी दिल्ली की हवा फिर हुई बदतर
  • चेन्नई सर्राफा के भाव
  • उत्तराखंड में कई हिस्सो में भूकंप के झटके
  • भारतीयों को भाने लगे हैं वेस्टर्नफूड
  • रावत ने श्री गुरुनानक देव जी के 550वें जन्मोत्सव पर सिख समुदाय को शुभकामनाएं दी
  • आसुस ने लाँच किया एएमडी आधारित लैपटॉप
राज्य » गुजरात / महाराष्ट्र


अर्थव्यवस्था की स्थिति को गंभीरता से नहीं ले रही भाजपा सरकार: यशवंत

कोल्हापुर, 16 अक्टूबर (वार्ता) पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने बुधवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई वाली भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि देश की अर्थव्यवस्था पूरी तरह से बिगड़ चुकी है लेकिन यह सरकार मसालेदार शब्दों का प्रयोग कर इसकी गंभीरता को बहुत से हल्के में ले रही है।
श्री सिन्हा ने यहां संवाददाताओं से कहा कि देश की अर्थव्यवस्था सुस्त है, लेकिन केंद्र सरकार चटपटे और मसालेदार शब्दों के जरिए इस मुद्दे को गंभीरता से नहीं ले रही है।
उन्होंने केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण की टिप्पणी का उल्लेख किया, जिसमें कहा गया था कि उबेर और ओला को प्राथमिकता दिया जाना ऑटो सेक्टर में संकट की प्रमुख वजह है। उन्होंने दावा किया कि देश की अर्थव्यवस्था की चाल अगले तीन वर्षों तक ऐसे ही रहेगी, भले ही केंद्र सरकार मौजूदा स्थिति को सुधारने के लिए कोई भी कदम उठा ले।
उन्होंने अपने दावे को सही ठहराते हुए भारतीय रिजर्व बैंक की रिपोर्ट का हवाला भी दिया जिसमें कहा गया है कि देश की आर्थिक विकास दर दो प्रतिशत घट गई है।
श्री सिन्हा ने कहा कि अमिताभ राजन और अरविंद सुब्रमण्यन जैसे अर्थशास्त्रियों ने इसके खिलाफ सावधानी बरतने की चेतावनी दी है। इसके अलावा नोबेल पुरस्कार विजेता अभिजीत बनर्जी ने भी कहा था कि भारतीय अर्थव्यवस्था अस्थिर स्थिति में है। उन्होंने कहा कि ऐसी स्थिति में वर्तमान आर्थिक मंदी के जल्द ही सामान्य होने में संदेह है।
पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि जम्मू कश्मीर में अनुच्छेद 370 और 35 ए के निरस्तीकरण और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांटकर यह सरकार भावनात्मक मुद्दे उठाकर राजनीतिक लाभ ले रही है। यहां तक कि अन्य केंद्रीय मंत्री भी किसी अन्य विषय पर बात नहीं कर सकते हैं तथा आईएएस अधिकारी दबाव में काम कर रहे हैं।
उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव के बाद कांग्रेस के नेताओं ने अपने संघर्ष का जज्बा खो दिया है और अब इलेक्ट्रॉनिक मीडिया भी विपक्षी नेताओं की ओर कोई ध्यान नहीं दे रही है।
टंडन, शोभित
वार्ता
More News
कांग्रेस को सरकार बनाने का न्यौता क्यों नहीं दिया गया:अशोक चव्हाण

कांग्रेस को सरकार बनाने का न्यौता क्यों नहीं दिया गया:अशोक चव्हाण

12 Nov 2019 | 5:10 PM

मुंबई,12 नवंबर (वार्ता) कांग्रेस ने कहा है कि जब सभी राजनीतिक दलों को महाराष्ट्र में सरकार बनाने का न्यौता और समय दिया गया तो फिर कांग्रेस के साथ ऐसा क्यों नहीं किया गया।

see more..
image