Monday, Jul 13 2020 | Time 23:33 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • गुजरात में 61 75 करोड़ से निर्मित संकुलों का ई-लोकार्पण
  • झारखंड में 189 नये कोविड पॉजिटिव, संक्रमितों की संख्या चार हजार के करीब
  • औरंगाबाद में एक दिन में रिकार्ड 350 कोरोना नए मामले
  • गोवा में कोरोना के 130 नए मामले
  • सोनभद्र में अनियंत्रित ट्रक पुलिया से टकरा कर पलटा,दो की मृत्यु
  • बिहार की निचली अदालतों में 20 जुलाई तक कार्य बंद
  • लालू समेत सभी राजनीतिक-सामाजिक कार्यकर्ताओं को रिहा करे सरकार : माले
  • निजी अस्पतालों में आईसीयू के 20 प्रतिशत बिस्तर कोरोना मरीजों के लिए आरक्षित- सावंत
  • लखनऊ के आलमबाग इलाके में रेलवे के ठेकेदार पर जानलेवा हमला
  • असली अयोध्या भारत में नहीं बल्कि नेपाल में है: ओली
  • छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार ने 15 विधायकों को संसदीय सचिव किया नियुक्त
  • कोरोना से उबरने के संदेश के तौर पर आयोजित हो ओलंपिक: यूरिको
  • कोरोना से उबरने के संदेश के तौर पर आयोजित हो ओलंपिक: यूरिको
राज्य » गुजरात / महाराष्ट्र


बिंदास अदा रवीना की पहचान

.. जन्मदिवस 26 अक्टूबर के अवसर पर .
मुबई 25 अक्टूबर (वार्ता) बॉलीवुड में ..शहर की लड़की...मस्त मस्त गर्ल जैसे उपनामों से मशहूर रवीना टंडन को एक ऐसी अभिनेत्री के रूप में शुमार किया जाता है जिन्होंने अपने बिंदास अभिनय से दर्शको को अपना दीवाना बनाया है ।
रवीना टंडन का जन्म 26 अक्टूबर 1974 को मुंबई में हुआ। पिता रवि टंडन और मां वीणा टंडन के नाम को मिलाकर उनका नाम रवीना टंडन रखा गया। रवीना टंडन को अभिनय की कला विरासत में मिली। उनके पिता जाने माने फिल्म निर्माता थे। रवीना ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा मुंबई के जमनाबाई स्कूल से पूरी की। इसके बाद उन्होंने मुंबई के मशहूर मिठठीभाई कॉलेज में दाखिला लिया। इस दौरान उनकी मुलाकात निर्देशक शांतनु शोरी से हुयी। उन्होंने रवीना टंडन को फिल्मों में काम करने की सलाह दी। इसके बाद कॉलेज में पढ़ाई छोड़कर रवीना टंडन फिल्मों में अभिनेत्री बनने का ख्वाब देखने लगीं।
रवीऩा टंडन ने अपने सिने कैरयिर की शुरूआत वर्ष 1991 में प्रदर्शित फिल्म ..पत्थर के फूल ..से की। जे.पी.सिप्पी निर्मित इस फिल्म में नायक की भूमिका सलमान खान ने निभाई थी। हालांकि यह फिल्म टिकट खिड़की पर सफल नही हो सकी लेकिन रवीना टंडन के अभिनय को दर्शको ने काफी सराहा। इसके साथ ही वह नवोदित अभिनेत्री के फिल्म फेयर पुरस्कार से सम्मानित की गयीं। वर्ष 1994 रवीना टंडन के सिने कैरियर के लिये अहम साल साबित हुआ। इसी वर्ष उनकी मोहरा .लाडला .दिलवाले और अंदाज अपना अपना जैसी सुपरहिट फिल्में प्रदर्शित हुयी। फिल्म लाडला में अपने दमदार अभिनय के लिये रवीना टंडन अपने कैरियर में पहली बार सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के फिल्म फेयर पुरस्कार के लिए नामांकित की गयीं।
वर्ष 1994 में ही प्रदर्शित फिल्म ..मोहरा ..रवीना टंडन के कैरियर की सर्वाधिक सुपरहिट फिल्म साबित हुयी । मारधाड़ और एक्शन से भरपूर इस फिल्म में रवीना टंडन पर फिल्माया गया गीत ..तू चीज बड़ी है मस्त मस्त ..उन दिनों श्रोताओं के बीच क्रेज बन गया था। इसके बाद रवीना टंडन फिल्म इंडस्ट्री में मस्त..मस्त गर्ल के रूप में विख्यात हो गयीं।
प्रेम, प्रियंका
जारी वार्ता
More News
निजी अस्पतालों में आईसीयू के 20 प्रतिशत बिस्तर कोरोना मरीजों के लिए आरक्षित- सावंत

निजी अस्पतालों में आईसीयू के 20 प्रतिशत बिस्तर कोरोना मरीजों के लिए आरक्षित- सावंत

13 Jul 2020 | 11:01 PM

पणजी 13 जुलाई (वार्ता) गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने सोमवार को कहा कि निजी अस्पतालों को अपनी गहन चिकित्सा इकाई के 20 प्रतिशत बिस्तर कोरोना मरीजों के लिए आरक्षित करना अनिवार्य कर दिया गया है।

see more..
गोवा में कोरोना के 130 नए मामले

गोवा में कोरोना के 130 नए मामले

13 Jul 2020 | 10:52 PM

पणजी ,13 जुलाई (वार्ता) गोवा में सोमवार को कोरोना वायरस (काेविड-19) महामारी के 130 नए मामले सामने आये और 53 लोग संक्रमणमुक्त हुए है।

see more..
महाराष्ट्र में कोरोना मामले 2.60 लाख के पार, रिकवरी दर 55 फीसदी

महाराष्ट्र में कोरोना मामले 2.60 लाख के पार, रिकवरी दर 55 फीसदी

13 Jul 2020 | 9:09 PM

मुंबई ,13 जुलाई (वार्ता) देश में कोरोना वायरस (कोविड-19) से सबसे गंभीर रूप से प्रभावित महाराष्ट्र में दिनों-दिन स्थिति गंभीर होती जा रही है और पिछले 24 घंटों के दौरान 6497 नये मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की संख्या सोमवार की रात बढ़कर 2.60 लाख के पार पहुंच गयी लेकिन राहत की बात यह है कि मरीजों की रिकवरी दर बढ़कर 55 फीसदी से अधिक हो गयी है।

see more..
image