Monday, Jan 20 2020 | Time 22:31 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • चाड में बम विस्फोट, 11 लोगों की मौत
  • हेमंत ने बिजली की समस्या पर झारखंडवासियों को लिखा पत्र
  • सोनिया ने कांग्रेस शासित राज्यों में गठित की समितियां
  • देश में तीन करोड़ राशन कार्ड फर्जी : पासवान
  • बरेली में लेखपाल चार हाजार रिश्वत लेते रंगेहाथ गिरफ्तार
  • सोनिया ने गठित की घोषणा पत्र क्रियान्वयन समितियां
  • गोरखपुर पुलिस ने किए दो वांछित इनामी बदमाश गिरफ्तार
  • नागरिकता संशोधन कानून में सुधार की जरुरत: नजीब
  • बांका में भारी मात्रा में विस्फोटक बरामद
  • जौनपुर में तस्कर गिरफ्तार,मकान से साढ़े आठ लाख का गांजा बरामद
  • यूनीटेक का प्रबंधकीय नियंत्रण केंद्र लेगा
  • पत्रकारिता कठिन दौर से गुजर रही है : कोविंद
  • फोटो कैप्शन तीसरा सेट
  • वाराणसी से आईएसआई एजेन्ट गिरफ्तार
  • संदिग्ध आईएसआई एजेंट दिन की रिमांड पर,एटीएस करेगी पूछताछ
राज्य » गुजरात / महाराष्ट्र


फडणवीस ने पार्टी सांसद अनंत कुमार के आरोपों किया खंडन

नागपुर 02 दिसंबर(वार्ता) महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने भारतीय जनता पार्टी के विधायक अनंत कुमार हेगड़े के आरोपों का खंडन किया है कि संख्या बल नहीं होने बावजूद वह 15 घंटे के लिए इसलिए मुख्यमंत्री बने थे ताकि वह राज्य के खजाने से 40 हजार करोड़ रुपया निकाल कर केंद्र को दे सकें।
कर्नाटक से सांसद हेगड़े अपने बयानों के लिए जाने जाते हैं। इस बार उन्होंने महाराष्ट्र में हाल ही के दिनों में हुई राजनीतिक उठापटक पर बेहद चौंकाने वाला बयान दिया है। उन्होंने आरोप लगाया है कि श्री फडणवीस ने राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के अजित पवार को रातोंरात साथ लेकर जिस तरह सुबह सरकार बनाई थी, उसके पीछे 40 हजार करोड़ रुपया था। उन्होंने आरोप लगाया है श्री फडणवीस ने राज्य के खजाने से 40 हजार करोड़ रुपया निकालकर केंद्र को दे दिया।
श्री फडणवीस ने कहा,“ अनंत कुमार हेगड़े ने क्या कहा है, मुझे नहीं मालूम। मैं मीडिया के माध्यम से सुन रहा हूं कि पूर्ववर्ती महाराष्ट्र सरकार ने 40 हजार करोड़ रूपये केन्द्र को दे दिये। यह खबर पूरी तरह गलत और निराधार है।”
उन्होंने कहा,“ यह बयान सरासर गलत है। ऐसा कुछ भी नहीं हुआ। मैंने इस तरह का कोई फैसला नहीं लिया। वित्त मंत्रालय को मामले की जांच करनी चाहिए और सच्चाई को जनता के सामने लाना चाहिए।”
उन्होंने कहा कि बुलेट ट्रेन परियोजना में महाराष्ट्र सरकार की भूमिका केवल जमीन के अधिग्रहण तक समित है। पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा,“बुलेट ट्रेन हो या कोई और मामला, न तो केन्द्र सरकार ने पैसे की मांग की और ना ही राज्य सरकार ने दिया।”
आशा जितेन्द्र
वार्ता
image