Saturday, Sep 26 2020 | Time 00:07 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
राज्य » गुजरात / महाराष्ट्र


पार्षद जामसंडेकर हत्या मामले में गवली के उम्रकैद की पुष्टि

मुंबई, 09 दिसंबर (वार्ता) महाराष्ट्र संगठित अपराध नियंत्रण कानून (मकोका) की विशेष अदालत ने वर्ष 2012 में शिव सेना के पार्षद की हत्या मामले में कुख्यात गिरोहबाज अरुण गवली को उम्रकैद की सजा सुनायी थी जिसकी बम्बई उच्च न्यायालय ने सोमवार को पुष्टि कर दी।
खंडपीठ के न्यायाधीश बी पी धर्माधिकारी और न्यायाधीश स्वप्ना जोशी ने अरुण गवली और अन्य की सजा की पुष्टि की।
शिव सेना के पार्षद कमलाकर जामसंडेकर की मार्च 2008 में गवली गिरोह के सदस्यों ने हत्या कर दी थी।
गवली ने जामसंडेकर की हत्या की ‘सुपारी’ ली थी और विशेष अदालत ने वर्ष 2012 में गवली को उम्रकैद की सजा सुनायी थी जिस पर आज उच्च न्यायालय ने पुष्टि कर दी। हत्या के बाद अरुण गवली को गिरफ्तार किया गया था और तब से वह जेल में है। गवली को नागपुर की सेंट्रल जेल में रखा गया है।
मकोका अदालत ने गवली को उम्रकैद के साथ ही 17 लाख रुपये का दंड भी लगाया था और दंड की रकम नहीं भरने पर तीन वर्ष और सजा काटने का आदेश सुनाया था।
इस मामले में अदालत ने सुनील घाटे के अलावा नौ अन्य लोगों को भी उम्रकैद की सजा सुनायी थी। अदालत ने घाटे को शस्त्र अधिनियम के तहत तीन वर्ष की सजा सुनायी थी।
सरकारी वकील ने अदालत को बताया कि गवली और10 अन्य लोगों ने श्री जामसंडेकर की हत्या करने के लिए 30 लाख रूपये का ठेका लिया था। श्री जामसंडेकर वर्ष 2007 में बृहन्मुंबई महानगर पालिका का चुनाव जीता था। श्री जामसंडेकर की हत्या के मामले में गवली और अन्य आरोपियों पर हत्या का षडयंत्र रचने का आरोप लगाया गया था। रिपोर्ट के अनुसार श्री जामसंडेकर अपने व्यवसाय विरोधी साहबराव बिंताड़े और बाला सुर्वे को सहयोग नहीं कर रहे थे।
इक्कीस मई 2008 को गवली को गिरफ्तार किया गया और अक्टूबर 2010 को गवली के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल किया गया। गवली और अन्य पर आपराधिक षडयंत्र रचने का आरोप पत्र में आरोप लगाया गया था। सरकारी वकील ने इस मामले में अपराधियों को मृत्यु दंड देने की मांग की थी लेकिन गवली के वकील ने अदालत को बताया था कि गवली को राजनीतिक कारणों से निशाना बनाया गया।
गवली वर्ष 2004 में विधायक बना लेकिन मई 2008 में हत्या के मामले में उसे गिरफ्तार किया गया और तब से ही वह जेल में है।
गवली के वकील एस पाटिल ने बाद में कहा कि उच्च न्यायालय के आदेश के खिलाफ अपील करेंगे।
त्रिपाठी.श्रवण
वार्ता
More News
महाराष्ट्र के गृहमंत्री ने बिहार के पूर्व डीजीपी पर साधा निशाना

महाराष्ट्र के गृहमंत्री ने बिहार के पूर्व डीजीपी पर साधा निशाना

25 Sep 2020 | 5:23 PM

नागपुर 25 सितम्बर (वार्ता) महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने शुक्रवार को कहा कि बिहार के पूर्व पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) गुप्तेश्वर पांडे बिहार के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी रहे लेकिन उनके बोल ऐसे थे जैसे वह भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता हैं।

see more..
अजीत पवार ने विश्व फार्मासिस्ट दिवस पर  फार्मासिस्टों को दी बधाई

अजीत पवार ने विश्व फार्मासिस्ट दिवस पर फार्मासिस्टों को दी बधाई

25 Sep 2020 | 5:09 PM

औरंगाबाद, 25 सितंबर (वार्ता) महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री अजीत पवार ने विश्व फार्मासिस्ट दिवस के मौके पर शुक्रवार को फार्मासिस्टों को बधाई दी है।

see more..
शाैविक, सावंत का बयान दर्ज करने की एनसीबी को मिली अनुमति

शाैविक, सावंत का बयान दर्ज करने की एनसीबी को मिली अनुमति

24 Sep 2020 | 11:05 PM

मुम्बई, 24 सितम्बर (वार्ता) मुम्बई में एनडीपीएस की विशेष अदालत ने गुरुवार को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) को सुशांत सिंह राजपूत के निजी स्टाफ दिपेश सावंत और शाैविक चक्रवर्ती का बयान रिकाॅर्ड करने की अनुमति दे दी।

see more..
पूर्वोत्तर के अधिकतर हिस्सों में भारी बारिश और गरज के छींटे पड़ने के आसार

पूर्वोत्तर के अधिकतर हिस्सों में भारी बारिश और गरज के छींटे पड़ने के आसार

24 Sep 2020 | 10:41 PM

पुणे ,24 सितंबर (वार्ता) पूर्वी उत्तर प्रदेश, बिहार, अरुणाचल प्रदेश, असम, मेघालय, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, उत्तराखंड, दक्षिण-पूर्व मध्य प्रदेश, झारखंड, दक्षिण गुजरात क्षेत्र और कोंकण और गोवा में अलग-अलग स्थानों पर बहुत तेज बारिश होने के आसार है।

see more..
image