Wednesday, Jul 17 2024 | Time 21:07 Hrs(IST)
image
राज्य » गुजरात / महाराष्ट्र


गर्मी से बेहाल देशवासियों को जल्द मिलेगी राहत, पांच दिन में केरल में दस्तक देगा मानसून

पुणे, 27 मई (वार्ता) दक्षिण पश्चिम मानसून के अगले पांच दिन में केरल में दस्तक देने के आसार हैं, जिससे देश भर में भीषण गर्मी और लू की तपिश से बेहाल लोगों को राहत मिलने की उम्मीद है।
मौसम विज्ञान केन्द्र (आईएमडी) ने सोमवार को बताया कि दक्षिण अरब सागर के कुछ हिस्सों, मालदीव के शेष हिस्सों, लक्षद्वीप क्षेत्र, केरल के कुछ हिस्से, दक्षिण-पश्चिम और मध्य बंगाल की खाड़ी के कुछ हिस्से, बंगाल की पूर्वोत्तर खाड़ी और पूर्वोत्तर राज्यों के कुछ हिस्से तथा कोमोरिन क्षेत्र में दक्षिण-पश्चिम मानसून के आगे बढ़ने के लिए परिस्थितियां अनुकूल होने का अनुमान है।
अरुणाचल प्रदेश, असम और मेघालय, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली में कई स्थानों, पश्चिमी राजस्थान, उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल और सिक्किम में कुछ स्थानों पर, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, गिलगित, मुजफ्फराबाद, हिमाचल प्रदेश, पूर्वी राजस्थान में अलग-अलग स्थानों पर दिन का तापमान सामान्य से 5.1 डिग्री सेल्सियस या उससे अधिक ऊपर रहा। पश्चिम उत्तर प्रदेश में कई स्थानों पर, उत्तराखंड में कुछ स्थानों पर, पूर्वी उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम और त्रिपुरा में अलग-अलग स्थानों पर तापमान सामान्य से 3.1-5.0 डिग्री सेल्सियस अधिक रहा। बिहार, विदर्भ, गुजरात क्षेत्र में कुछ स्थानों, सौराष्ट्र और कच्छ, झारखंड, मराठवाड़ा में अलग-अलग स्थानों पर तापमान सामान्य से 1.6-3.0 डिग्री सेल्सियस से अधिक दर्ज किया गया।
दिन का तापमान ओडिशा और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक में अलग-अलग स्थानों पर सामान्य से 5.1 डिग्री सेल्सियस कम रहा। गांगेय पश्चिम बंगाल के कई स्थानों, रायलसीमा, मध्य महाराष्ट्र, उत्तरी आंतरिक कर्नाटक, तमिलनाडु, पुड्डुचेरी, कराइकल, केरल, माहे, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह में अलग-अलग स्थानों पर तथा देश के अन्य हिस्सों में तापमान सामान्य से 1.6-3.0 डिग्री सेल्सियस कम दर्ज किया गया।
पश्चिमी राजस्थान में रविवार को सबसे अधिक तापमान फलोदी में 49.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। राजस्थान के अधिकांश हिस्सों में और दिल्ली के कुछ हिस्सो में भीषण लू की स्थिति बनी हुई है। पंजाब, हरियाणा, आंतरिक महाराष्ट्र और पश्चिमी मध्य प्रदेश के कुछ हिस्सों में, हिमाचल प्रदेश, उत्तर प्रदेश और पूर्वी मध्य प्रदेश के अलग-अलग इलाकों में लू की स्थिति बनी रही। गुजरात क्षेत्र में 15 मई से और हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और राजस्थान में 17 मई से लू की स्थिति बनी हुई है।
हरियाणा, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और पूर्वी मध्य प्रदेश के अलग-अलग इलाकों में ज्यादा तापमान रहने के कारण रात गर्म रही। असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, पश्चिम बंगाल, सिक्किम और लक्षद्वीप में अधिकांश स्थानों पर तथा केरल में कई स्थानों पर, अरुणाचल प्रदेश, ओडिशा, उत्तर आंतरिक कर्नाटक और अंडमान में कुछ स्थानों पर, निकोबार द्वीप समूह और झारखंड, बिहार, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, पश्चिम मध्य प्रदेश, विदर्भ, छत्तीसगढ़, कोंकण तथा गोवा, मध्य महाराष्ट्र, मराठवाड़ा, तटीय आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, रायलसीमा, तमिलनाडु, कर्नाटक के तटीय और दक्षिण में अलग-अलग स्थानों पर गरज के साथ बारिश हुई। उत्तर प्रदेश, हरियाणा, पंजाब, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, पश्चिम राजस्थान, पूर्वी मध्य प्रदेश और गुजरात राज्य में मुख्य रूप से मौसम शुष्क है।
श्रद्धा, यामिनी
जारी वार्ता
image