Wednesday, Feb 20 2019 | Time 19:41 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • नामवर पंचतत्व में विलीन, साहित्य जगत में शोक की लहर
  • तस्कर से फेलिडे प्रजाति की 11 किलो हड्डियां जब्त
  • शहीद हेमराज मीणा की अस्थियां गंगा में विसर्जित
  • एनएचएम के 615 कर्मचारियों की सेवाएं समाप्त
  • आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस पर माइक्रोसॉफ्ट का श्वेत पत्र
  • दिल्ली से रायपुर के लिए उड़ान शुरू करेगी विस्तारा
  • जावडेकर ने किया ऑपरेशन डिजिटल बोर्ड लांच
  • उत्तर भारत में तेज हवा चलने का अनुमान
  • मध्यप्रदेश कमलनाथ किसान कर्जा दो भोपाल
  • शीर्ष स्थान के लिए गोवा और बेंगलुरू में होगी ‘अंतिम लड़ाई’
  • कश्मीरी छात्रों का वेरिफिकेशन के बाद होगा दाखिलाः सिंह
  • दक्षिण कोरिया के साथ संबंध और मजबूत करने के लिए प्रतिबद्ध : मोदी
  • ‘गुरूजी’ के खिलाफ लोकसभा चुनाव लड़ेगे पूर्व विधायक मोहरील मुर्मू
  • भाजपा से गठबंधन के बाद विपक्ष को चुनाव से डर लग रहा है: शिव सेना
भारत Share

आसियान और सहयोगी देशों के बीच सुगम व्यापार पर बल दिया प्रभु ने

नयी दिल्ली 04 सितंबर (वार्ता) केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने आसियान और इसके सहयोगी देशों के बीच सुगम व्यापार पर बल देते हुए कहा है कि सभी राष्ट्रों को निवेश तथा वस्तु एवं सेवा के आपसी कारोबार को बढ़ाने के लिये कागज रहित प्रक्रिया अपनानी चाहिए।
केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय ने मंगलवार को यहां बताया कि श्री प्रभु ने पिछले महीने 31 अगस्त को सिंगापुर में सम्पन्न हुई छठीं क्षेत्रीय व्यापक आर्थिक साझेदारी समझौते की मंत्रिस्तरीय बैठक में कहा कि सभी देशों को वस्तु एवं सेवा के आपसी कारोबार को सुगम बनाने तथा निवेश बढ़ाने की जरुरत है। श्री प्रभु ने इस बैठक में भारतीय प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व किया था।
क्षेत्रीय व्यापक आर्थिक साझेदारी समझौता सोलह देशों के बीच ‘क्षेत्रीय मुक्त व्यापार समझौता’ है जिसमें दस आसियान देश ब्रूनेई, कंबोडिया, इंडोनेशिया, लाओस, मलेशिया, म्यांमार, फिलीपींस, सिंगापुर, थाईलैंड एवं वियतनाम एवं छह आसियान मुक्त व्यापार समझौता (एफटीए) साझेदार- ऑस्ट्रेलिया, चीन, भारत, जापान, कोरिया एवं न्यूज़ीलैंड शामिल है। समझौते के लिए छह मंत्रिस्तरीय बैठकें, पांच अन्तर-सत्रीय मंत्रिस्तरीय बैठकें एवं तकनीकी स्तर पर उद्योग चर्चा समिति के 23 दौर आयोजित हो चुके हैं।
सत्या सचिन
जारी वार्ता
More News
नामवर  पंचतत्व में विलीन, साहित्य जगत में शोक की लहर

नामवर पंचतत्व में विलीन, साहित्य जगत में शोक की लहर

20 Feb 2019 | 7:34 PM

नयी दिल्ली, 20 फरवरी (वार्ता) हिन्दी आलोचना के शिखर पुरुष एवं प्रख्यात मार्क्सवादी चिन्तक नामवर सिंह का कल रात यहाँ अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान(एम्स) में निधन हो गया, वह 92 वर्ष के थे और उनके परिवार में पुत्र तथा पुत्री है।

 Sharesee more..

जावडेकर ने किया ऑपरेशन डिजिटल बोर्ड लांच

20 Feb 2019 | 7:24 PM

 Sharesee more..
image