Monday, Sep 24 2018 | Time 16:40 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • पूर्व केन्द्रीय मंत्री शांताराम का निधन
  • पटेल जयंती मनाई जाएगी राष्ट्रीय एकता के रूप में
  • मैथ्यूज की कप्तानी छिनी, चांडीमल को वनडे की भी कमान
  • चेन्नई सर्राफा के भाव
  • राजीव हत्याकांड: दोषी की मां ने की रिहाई की अपील
  • सेंसेक्स 536 अंक टूटा, निफ्टी 168 अंक फिसला
  • सड़क दुर्घटना में सैनिक की मौत
  • उत्तर कश्मीर में अपहृत व्यक्ति की गोलीमार कर हत्या
  • हिमाचल में भारी हिमपात तथा बारिश ,पश्चिमोत्तर में जनजीवन प्रभावित
  • अमेठी में राहुल का शिव भक्तों ने किया जोरदार स्वागत
  • भाजपा नेता शंकर चक्रवर्ती अस्पताल में भर्ती कराये गये
  • रंजिश के चलते युवक की कस्सी से काट कर हत्या
  • टीम इंडिया के पास बेंच आजमाने का मौका
भारत Share

श्री जावडेकर ने कहा कि पहले शिक्षक पुरस्कार के लिए राज्यों से सिफारिशें आती थी लेकिन इस बार चयन प्रक्रिया बदल दी गयी है और उसे पारदर्शी बना दिया है। अब सिफारिशों के आधार पर नहीं बल्कि काम के आधार पर पुरस्कार दिये जायेंगे। अब पुरस्कार के लिए नवाचार को बढ़ावा देने वालों को अवसर दिया है।
उन्होंने कहा कि अब शिक्षक खुद भी अपने नाम का प्रस्ताव कर सकते हैं। इन शिक्षकों ने खुद ऑनलाइन आवेदन किया और अपने काम का वीडियो भी डाउनलोड किया। कुल 6500 शिक्षकों के आवेदन मिले, प्रत्येक जिले से तीन-तीन नाम आये और फिर उनकी छटायी के बाद छोटे बड़े राज्यों से तीन से लेकर छह शिक्षकों के नाम आये और इस तरह कुल डेढ़ सौ शिक्षकों का चयन हुआ फिर एक राष्ट्रीय जूरी ने उनमें से 45 शिक्षकों का चयन पुरस्कार के लिए किया। उन्होंने कहा कि इस बार पुरस्कार ऐसे लोगों को दिया गया जिनके नाम पहले आ नहीं सकते थे। उन्होंने कहा कि इन पुरस्कृत शिक्षकों में कई ऐसे हैं जिन्होंने छात्रों को शिक्षा देने के लिए खुद मोबाइल एप्प बनाये।
श्री जावडेकर ने कहा कि इन शिक्षकों ने अपने स्कूलों में विद्यार्थियों के स्कूल छोड़ने की संख्या भी कम की है और समुदाय को भी स्कूलों से जोड़ा है। उन्होंने कहा कि इन शिक्षकों के काम को एक फिल्म में भी यहां दिखाया गया है। इस फिल्म को मानव संसाधन विकास मंत्रालय की वेबसाइट पर भी डाला जायेगा ताकि दूसरे शिक्षक भी इनसे प्रेरणा ले सकें।
उन्होंने बताया कि देश के 14-15 लाख शिक्षकों का ऑनलाइन प्रशिक्षण का काम शुरू हो गया है और ये पहली परीक्षा में पास हो गए हैं और अगले साल मार्च में इन शिक्षकों की अंतिम परीक्षा होगी। यह दुनिया का शिक्षकों को प्रशिक्षित करने का सबसे बड़ा कार्यक्रम है। उन्होंने कहा कि शिक्षकों के लिए दीक्षा प्लेटफार्म भी शुरू किया गया है जिस पर कोई शिक्षक अपना अच्छा पाठ रिकॉर्ड कर उसे इस पर डाल सकता है। उससे दूसरे छात्र भी लाभान्वित होंगे। इसी तरह एक शगुन प्लेटफार्म भी तैयार किया गया है जिस पर स्कूल अपने श्रेष्ठ कार्यों एवं प्रयोगों को सबसे साझा कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि सभी राज्यों से इस बारे में कहा गया है और हजारो वीडियो भी मंत्रालय पहुंचे हैं।
अरविंद.श्रवण
जारी.वार्ता
More News
फ्रांस की नौका ने कमांडर टॉमी को बचाया

फ्रांस की नौका ने कमांडर टॉमी को बचाया

24 Sep 2018 | 3:56 PM

अजीत: नयी दिल्ली 24 सितम्बर (वार्ता) फ्रांस की एक मछली मारने वाली नौका ने भारतीय नौसेना के अधिकारी कमांडर अभिलाष टॉमी को आज बचा लिया। वह होश में हैं और उन्हें अस्पताल ले गया है।

 Sharesee more..
राहुल को प्रधानमंत्री बनाने के लिए पाकिस्तान से चल रहा है अभियान:भाजपा

राहुल को प्रधानमंत्री बनाने के लिए पाकिस्तान से चल रहा है अभियान:भाजपा

24 Sep 2018 | 3:39 PM

नयी दिल्ली 24 सितम्बर (वार्ता) राफेल विमान सौदे को लेकर लगातार विपक्ष के हमलों का सामना कर रही भारतीय जनता पार्टी ने सोमवार को आरोप लगाया कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनाने के लिए पाकिस्तान से अभियान चलाया जा रहा है।

 Sharesee more..
कांग्रेस की सीवीसी से राफेल मामले की जांच की गुहार

कांग्रेस की सीवीसी से राफेल मामले की जांच की गुहार

24 Sep 2018 | 3:26 PM

नयी दिल्ली, 24 सितम्बर (वार्ता) कांग्रेस ने राफेल सौदे में मोदी सरकार पर सरकारी खजाने को नुकसान पहुंचाने का आरोप लगाते हुए नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (कैग) के बाद अब केंद्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी) से इसकी जांच कराने की गुहार लगायी है।

 Sharesee more..

जीवन सुगमता में प्रथम रहा पुणे

24 Sep 2018 | 3:15 PM

 Sharesee more..
image