Friday, Apr 19 2019 | Time 06:39 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मोदी ने रीति-रिवाजों को संवैधानिक संरक्षण देने का दिया आश्वासन
  • कांगो में नाव पलटने से 104 लोगों की मौत, 30 को बचाया गया
  • सत्ता पाने के लिए भाजपा बना रही है कश्मीर को बलि का बकरा: महबूबा
  • भाजपा ने की कांग्रेस नेताओं के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने की मांग
भारत


आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति सरकार की प्राथमिकता में : चौबे

आयुर्वेद चिकित्सा पद्धति सरकार की प्राथमिकता में : चौबे

नयी दिल्ली 05 सितम्बर (वार्ता) केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे ने कहा है कि आयुर्वेद की विधि पंचगव्य कैंसर के इलाज में काफी मददगार साबित हो रही है और मरीजों को इसका अधिक से अधिक लाभ उठाना चाहिए।

श्री चौबे ने कहा कि आयुर्वेदिक चिकित्सा पद्धति सरकार की प्राथमिकताओं में शामिल है और सरकार इसे आगे बढ़ाने के लिए हरसंभव सहायता देगी। मंगलवार को पंजाबी बाग स्थित आयुर्वेदिक कैंसर अस्पताल का दौरा करने आये श्री चौबे ने यहां इलाज करा रहे मरीजों के साथ काफी समय बिताया और पंचगव्य पद्धति से कैंसर के उपचार के बारे में विस्तार से जानकारी ली। उन्होंने पूरी विधि के साथ पंचगव्य का सेवन किया और मरीजों को उपलब्ध कराये जा रहे भोजन का स्वाद भी लिया।

उन्होंने कहा कि अस्पताल में इलाज करा रहे मरीजों से बातचीत में बहुत सी नयी जानकारियां मिली जिनसे वह काफी प्रभावित हैं। अस्पताल की कैंसर मरीजों को दी जा रही मदद की प्रशंसा करते हुए श्री चौबे ने केंद्र सरकार की तरफ से हरसंभव मदद का आश्वासन दिया।

अस्पताल के मुख्य सलाहकार अतुल सिंघल ने बताया कि पिछले तीन साल से यहां आयुर्वेद तरीके से मरीजों का इलाज किया जा रहा है और कैंसर के हजारों मरीज पंचगव्य विधि से उपचार कर स्वास्थ्य लाभ उठा चुके हैं। उन्होंने बताया कि अस्पताल के विस्तार की योजना पर काम जारी है जिससे कि अधिक से अधिक मरीजों को उपचार की सुविधा मुहैया कराई जा सके।

इस मौके पर पूर्व विधायक नंद किशोर गर्ग के अलावा अस्पताल की संचालन समिति के अन्य सदस्यों के अलावा बड़ी संख्या में गणमान्य लोग भी मौजूद थे।

मिश्रा.श्रवण

वार्ता

More News
दिल्ली, मुंबई में जेट एयरवेज के 443 स्लॉट दूसरे एयरलाइंस को दिये जायेंगे

दिल्ली, मुंबई में जेट एयरवेज के 443 स्लॉट दूसरे एयरलाइंस को दिये जायेंगे

18 Apr 2019 | 9:15 PM

नयी दिल्ली 18 अप्रैल (वार्ता) सरकार ने निजी विमान सेवा कंपनी जेट एयरवेज के अस्थायी रूप से सेवाएँ बंद करने के बाद दिल्ली और मुंबई में खाली हुये उसके 443 स्लॉटों का आवंटन अन्य विमान सेवा कंपनियों को करने का फैसला किया है।

see more..
image