Tuesday, Sep 25 2018 | Time 22:10 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • बीएचयू में तनावपूर्ण शांति, कक्षाएं निलंबित एवं छात्रावास खाली करने के आदेश
  • मौदहा में झांकिया निकालने को लेकर तनाव, पुलिस ने की हवाई फायरिंग
  • भारत-उज्बेकिस्तान संबंधों पर प्रदर्शनी शुरू
  • फोटो कैप्शन तीसरा सेट
  • फिरोजाबाद में श्रद्वालुओं से भरी टैक्टर-ट्राली पलटी, पांच की मृत्यु
  • कश्मीर में पंचायत और यूएलबी चुनाव के लिए केन्द्रीय बलों की 400 कंपनियां होंगी तैनात : मुख्य सचिव
  • सीबीआई अदालत ने तीन अधिकारियाें सहित पांच लोगों को दी सश्रम कारावास की सजा
  • ताज मामला : दृष्टिपत्र सौंपने की समय सीमा एक माह बढ़ी
  • केंद्रीय मंत्री के दौरे से पहले आंगनवाड़ी केंद्र से मिले कीड़े वाले चने, जांच के आदेश
  • शहजाद के विस्फोटक शतक से अफगानिस्तान के 252
  • शहजाद के विस्फोटक शतक से अफगानिस्तान के 252
  • बासुकीनाथ धाम में बोल बम के जयकारों के साथ भादो मेला सम्पन्न
  • गुजरात के गिर वन एक और शेरनी की मौत, दो सप्ताह में 14 सिंहो की मौत
  • वसुन्धरा नेे राजस्थान को कर्ज में डुबोया-गहलोत
  • निजी स्कूल वाहनों में लगे जीपीएस व सीसीटीवी कैमरे: उच्च न्यायालय
भारत Share

आतंकवाद का मुकाबला और कानून लागू करने के लिए नई प्रौद्योगिकियां अपनाने का आह्वान

नयी दिल्ली, 06 सितंबर (वार्ता) केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कानून लागू करने वाली एजेंसियों से नई प्रौद्योगिकी अपनाने का आह्वान किया है ताकि आतंकवाद और आंतरिक सुरक्षा के लिए उभरने वाली चुनौतियों का मुकाबला करने में उनकी क्षमताओं में बढ़ोत्तरी हो सके।
गृह मंत्री ने आज यहां तीन दिवसीय रक्षा और आंतरिक सुरक्षा प्रदर्शनी एवं सम्मेलन-2018 का उद्घाटन करते हुए कहा कि भारत को कईं वर्षों से आतंकवाद और देश की सुरक्षा से जुड़ी चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है और ऐसे अनेक क्षेत्र हैं जो सुरक्षा की द्वष्टि से काफी संवेदनशील हैं। इसका आयोजन सूक्ष्‍म, लघु और मध्‍यम उद्यम मंत्रालय के सहयोग से पीएचडी वाणिज्‍य एवं उद्योग मंडल ने किया है।
श्री सिंह ने कहा कि सरकार हाल में घोषित नई ड्रोन नीति को जल्‍द लागू करेगी अौर इसमें ड्रोन के इस्‍तेमाल के संबंध में समग्र नियम होंगे। उन्‍होंने कहा कि भारतीय सुरक्षा प्रतिष्‍ठान ड्रोन का व्‍यापक इस्‍तेमाल कर रहे हैं। ड्रोन का इस्‍तेमाल संवेदनशील क्षेत्रों तथा वामपंथी उग्रवाद से पीडि़त क्षेत्रों की निगरानी के लिए किया जाता है, जहां निगरानी दल की तैनाती करना कठिन है।
श्री सिंह ने खासतौर से जम्‍मू-कश्‍मीर, गुजरात और असम में आतंकवाद संबंधी गतिविधियों की रोकथाम और निगरानी के लिए प्रौद्योगिकी के उन्‍नयन और आधुनिकीकरण करने की घोषणा करते हुए कहा कि जम्‍मू क्षेत्र में नई प्रौद्योगिकी सुविधा जल्‍द शुरू की जाएगी। उन्‍होंने कहा कि सीमा सुरक्षा बल दुनिया के सबसे लंबे सीमा क्षेत्र की सुरक्षा में तैनात हैं, जिनकी लंबाई 7,500 किलोमीटर से अधिक है। इनमें से लगभग 900 किलोमीटर लंबे क्षेत्र में बाड़ लगाना संभव नहीं है। इतने लंबे सीमा क्षेत्र की सुरक्षा और निगरानी के लिए हमें लेजर, रडार और अन्‍य आधुनिक तकनीकों की आवश्‍यकता है।
उन्‍होंने कहा कि साइबर अपराध आज दुनिया के सामने सबसे बड़ा खतरा है तथा इसका मुकाबला करने के लिए आधुनिक प्रौद्योगिकियों का इस्‍तेमाल करना होगा। इसके लिए गृह मंत्रालय ने एक विशेष प्रकोष्‍ठ बनाया है।
इस दौरान केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल(सीआरपीएफ )के निदेशक राजीव राय भटनागर ने राष्‍ट्र की सुरक्षा सुनिश्चित करने में तैनात अर्द्धसैनिक बलों के विषय में एक प्रस्‍तुतिकरण दिया और भावी आवश्‍यकताओं का खाका भी पेश किया।
जितेन्द्र
वार्ता
More News
रक्षा और सुरक्षा क्षेत्र में सहयोग बढायेंगे भारत और मोरक्को

रक्षा और सुरक्षा क्षेत्र में सहयोग बढायेंगे भारत और मोरक्को

25 Sep 2018 | 10:07 PM

नयी दिल्ली 25 सितम्बर (वार्ता) भारत और मोरक्को ने रक्षा और सुरक्षा के क्षेत्र में द्विपक्षीय सहयोग बढाने पर सहमति व्यक्त की है।

 Sharesee more..
लाभ पद मामला: आप विधायकों का अनुरोध चुनाव आयोग ने ठुकराया

लाभ पद मामला: आप विधायकों का अनुरोध चुनाव आयोग ने ठुकराया

25 Sep 2018 | 9:59 PM

नयी दिल्ली 25 सितंबर (वार्ता) लाभ का पद मामले में फंसे आम आदमी पार्टी (आप) के 20 विधायकों को मंगलवार को उस समय तगड़ा झटका लगा जब चुनाव आयोग ने दिल्ली सरकार के अधिकारियों समेत गवाहों को तलब करने और उनसे पूछताछ करने का अनुरोध ठुकरा दिया।

 Sharesee more..
अपराधियों के चुनाव लड़ने पर रोक का कानून बनाएं, समर्थन करेंगे : कांग्रेस

अपराधियों के चुनाव लड़ने पर रोक का कानून बनाएं, समर्थन करेंगे : कांग्रेस

25 Sep 2018 | 9:44 PM

नयी दिल्ली, 25 सितम्बर (वार्ता) कांग्रेस ने कहा है कि अपराधियों को चुनावी राजनीति से दूर रखने के लिए सरकार विधेयक लाती है तो पार्टी उसका समर्थन करेगी।

 Sharesee more..
जापान ने बुलेट ट्रेन के लिए दिये 10 अरब येन -रेलवे

जापान ने बुलेट ट्रेन के लिए दिये 10 अरब येन -रेलवे

25 Sep 2018 | 9:32 PM

नयी दिल्ली 25 सितंबर (वार्ता) भारतीय रेलवे ने उन समाचारों का खंडन किया है कि जापान अंतरराष्ट्रीय सहयोग एजेंसी (जाइका) ने मुंबई-अहमदाबाद हाईस्पीड रेल परियोजना के लिए धन देने से इन्कार कर दिया है।

 Sharesee more..
image