Wednesday, Feb 20 2019 | Time 18:39 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मंत्री ने धार्मिक,पुरातात्विक,ऐतिहासिक एवं सांस्कृतिक स्थलों की मांगी जानकारी
  • गडकरी ने किया मुरादाबाद और मेरठ में करोड़ों की परियोजनाओं का शिलान्यास
  • टेलर ने फ्लेमिंग को पीछे छोड़ा
  • आरपीएफ को विशेष अभियान में 922 लावारिस बच्चे मिले
  • नामवर पंचतत्व में विलीन, साहित्य में शोक की लहर
  • श्रम कार्ड के लम्बित आवेदनों का 15 दिन में होगा निस्तारण - डहरिया
  • जोशी ने दिये शहीद के आश्रित के लिए डेढ़ लाख
  • देश को गर्त में धकेलने का प्रयास कर रहे हैं विपक्षी दल-शर्मा
  • पाकिस्तान के खिलाफ भड़काऊ बयान देकर करतारपुर कॉरीडोर को नुकसान पहुंचा रहे : खेहरा
  • 73 साल की सुनीता के लिए उम्र सिर्फ एक नंबर
  • राष्ट्रीय ग्रिड से बिजली उपलब्ध कराना हुआ आसान : राजकुमार
  • चौथी भारत-आसियान प्रदर्शनी एवं सम्मेलन कल से
  • छत्तीसगढ़ सरकार पंचायतों से रेत खदाने लेंगी वापस – भूपेश
  • भारत से जाने वाले हाजियों का काेटा बढ़ा
  • अमेरिका आईएनएफ संधि से हटने को लेकर गंभीर नहीं : पुतिन
भारत Share

जल परिवहन और वैकल्पिक ईंधन समय की जरूरत : गडकरी

नयी दिल्ली 07 सितंबर (वार्ता) सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने वाहन निर्माता कंपनियों से परिवहन के लिए जल मार्ग तथा स्वच्छ ईंधन के विकल्प को समय की जरूरत बताते हुए कहा है कि इससे सस्ता यातायात उपलब्ध होगा और पर्यावरण काे भी संरक्षित किया जा सकेगा।
श्री गडकरी ने शुक्रवार को यहां ग्लोबल मोबलिटी समिट में वाहन निर्माता कम्पनियों के मुख्य कार्यकारी अधिकारियों की बैठक को सम्बोधित करते हुए लोगों से सार्वजनिक परिवहन का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल करने का आग्रह किया और कहा कि जिस गति से निजी वाहनों की संख्या बढ रही है उसे देखते हुए मौजूदा सड़कें कम पड़ रही है और इसका विकल्प यही है कि लोग सार्वजनिक परिवहन का इस्तेमाल करें।
वाहनों के उत्सर्जन से पर्यावरण को होने वाले नुकसान को कम करने तथा पर्यावरण संरक्षण के लिए वैकल्पिक ईंधन के इस्तेमाल पर बल देते हुए उन्होंन कहा कि ग्रीन फ्यूल इथेनॉल,मिथेनॉल, बायो सीएनजी और इलेक्ट्रिक से चलने वाले वाहनों को प्राथमिकता दी जानी चाहिए। इसके लिए उन्होंने ऐसे वाहनों को परमिटमुक्त करने की घोषण की है और उन्हें उम्मीद है कि इससे बड़ा परिवर्तन आएगा।
केंद्रीय मंत्री ने कहा कि वैकल्पिक ईंधन के इस्तेमाल से पेट्रोल और डीजल के आयात पर होने वाले खर्च को कम किया जा सकेगा और इसके के लिए उद्योगों को आगे आने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि परंपरागत ईंधन का विकल्प अपनाया जाना चाहिए और इस काम में वैकल्पिक ईंधनचालित वाहनों का निर्माण कर वाहन निर्माता कंपनियां अहम भूमिका निभा सकती हैं।
अभिनव सचिन
जारी वार्ता
More News
चौथी भारत-आसियान प्रदर्शनी एवं सम्मेलन कल से

चौथी भारत-आसियान प्रदर्शनी एवं सम्मेलन कल से

20 Feb 2019 | 6:22 PM

नयी दिल्ली 20 फरवरी (वार्ता) भारत - आसियान संबंधों को और मजबूती देने के लिए कल से यहां चौथी भारत-आसियान प्रदर्शनी एवं सम्मेलन आयोजित होगा।

 Sharesee more..

भारत से जाने वाले हाजियों का काेटा बढ़ा

20 Feb 2019 | 6:13 PM

 Sharesee more..
मैसूर में रक्षा उत्पाद विनिर्माण केंद्र स्थापित करेगा कर्नाटक: कुमारस्वामी

मैसूर में रक्षा उत्पाद विनिर्माण केंद्र स्थापित करेगा कर्नाटक: कुमारस्वामी

20 Feb 2019 | 5:52 PM

बेंगलुरु, 20 फरवरी (वार्ता) कर्नाटक के मुख्यमंत्री एच. डी. कुमारस्वामी ने कहा है कि राज्य रक्षा के साथ-साथ वायुमंडल प्रौद्योगिकी से संबंधित उत्पाद विनिर्माण केंद्रों की स्थापना के लिए पसंदीदा स्थान है।

 Sharesee more..
खनन में स्वच्छ प्रौद्योगिकी विकसित करने की जरूरत: कोविंद

खनन में स्वच्छ प्रौद्योगिकी विकसित करने की जरूरत: कोविंद

20 Feb 2019 | 4:42 PM

नयी दिल्ली, 20 फरवरी (वार्ता) राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ऊर्जा और पर्यावरण को महत्त्वपूर्ण मुद्दा बताते हुये वैज्ञानिकों से खनन की पर्यावरण-अनुकूल प्रौद्योगिकी विकसित करने की अपील की है।

 Sharesee more..
image