Wednesday, Jan 23 2019 | Time 17:29 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • भारत ने बेहतर खेल का प्रदर्शन किया: विलियम्सन
  • रेमंड का मुनाफा 30 फीसदी बढ़ा
  • बैंक ऑफ महाराष्ट्र को 3,700 करोड़ रुपये से अधिक का घाटा
  • मुनाफे में लौटी इंडिगो
  • पूर्वोत्तर में स्वायत्त परिषदों के वित्तीय अधिकार बढाने के लिए आयेगा विधेयक
  • टीम के समर्थन ने मुझे मजबूत बनाया: शमी
  • बघेल ने दी प्रियंका को शुभकामनाएं
  • ग्राम सभाएं गणतंत्र दिवस पर लेंगी महत्वपूर्ण विकास कार्य का फैसला: धनकड़
  • जीत का श्रेय गेंदबाजों को जाता है: विराट
  • दिलशाद गार्डन-गाजियाबाद मेट्रो लाइन को मंजूरी
  • नाबालिग का अपहरण एवं बलात्कार मामले में दोषी को कठोर सजा
  • राजनीति में उतरी प्रियंका, गरमायेगा उत्तर प्रदेश
  • कश्मीर में आतंकवादी और सुरक्षा बलों के बीच मुठभेड़
भारत Share

श्री सुरजेवाला ने आरोप लगाया कि मोदी सरकार ने भारतीय वायुसेना से सलाह लिए बिना ही खरीदे जाने वाले विमानों की संख्या घटायी है और 126 विमानों की जगह सिर्फ 36 लड़ाकू विमान खरीदने का एकतरफा फैसला किया है। उन्होंने इस फैसले को ‘देश की सुरक्षा’ के साथ समझौता करार दिया और कहा कि विमानों की पहली खेप 2019 तक आनी है जबकि सभी विमान 2022 तक सौंपे जाएंगे जबकि चीन और पाकिस्तान की तरफ से लगातार बढ रहे खतरों को देखते हुए इन विमानों की खरीद जल्द की जानी चाहिए थी।
उन्होंने कहा कि पहले के सौदे में इन विमानों की खरीद में सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनी, हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (एचएएल) को इनके निर्माण संबंधी ‘तकनीकी हस्तांतरित’ करने की बात थी लेकिन मोदी सरकार ने इसे दरकिनार कर ‘देशहित’ के साथ खिलवाड़ किया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री और रक्षामंत्री को इस सौदे में देश की जनता को जवाब देना चाहिए।
कांग्रेस प्रवक्ता ने इन विमानों में नयी तकनीक और हथियार जोड़ने संबंधी दावे पर कहा कि मोदी सरकार अपने खुद के बुने झूठ के जाल में फंस गई है। यह बात फ्रांस के राष्ट्रपति एवं श्री मोदी द्वारा 10 अप्रैल, 2015 को जारी एक संयुक्त बयान से साबित हो गई है जिसमें कहा गया है “लड़ाकू विमान एवं संबंधित सिस्टम और हथियार उसी प्रणाली के साथ दिए जाएंगे, जो भारतीय वायुसेना द्वारा जांचे एवं स्वीकृत किए गए हैं।”
उन्होंने कहा कि मौजूदा सरकार ने नए सिरे से सौदा करके राफेल विमानों की खरीद में विलंब किया और एचएएल को ‘तकनीक हस्तांतरण’ एवं उसे मिलने वाले 30,000 करोड़ रुपए के ‘ऑफसेट ठेके’ का नुकसान पहुंचाया।
अभिनव संजीव
वार्ता
More News
राजनीति में उतरी प्रियंका, गरमायेगा उत्तर प्रदेश

राजनीति में उतरी प्रियंका, गरमायेगा उत्तर प्रदेश

23 Jan 2019 | 5:19 PM

नयी दिल्ली, 23 जनवरी (वार्ता) केंद्र में सत्ता के लिए अहम उत्तर प्रदेश में हाशिये पर पहुंच चुकी कांग्रेस ने नेहरु गांधी परिवार के एक और सदस्य प्रियंका गांधी वाड्रा के रुप में तुरुप का इक्का चल दिया है जिससे प्रदेश के राजनीतिक माहौल में निश्चित रुप से बड़ा बदलाव आयेगा लेकिन पार्टी को इससे कितना फायदा मिलता है, इसका पता आने वाले आम चुनाव के बाद ही लग सकेगा।

 Sharesee more..
प्रियंका अब मेरे साथ काम करेंगी: राहुल

प्रियंका अब मेरे साथ काम करेंगी: राहुल

23 Jan 2019 | 4:26 PM

नयी दिल्ली, 23 जनवरी (वार्ता) कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपनी बहन प्रियंका गांधी वाड्रा के सक्रिय राजनीति में प्रवेश करने पर खुशी जताते हुए बुधवार को कहा कि वह अब उनके साथ मिलकर काम करेंगी।

 Sharesee more..
image