Monday, Nov 19 2018 | Time 20:59 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • वर्ष 1971 के लौंगेवाला युद्ध के हीरो ब्रि0 चांदपुरी पंचतत्व में विलीन
  • भाजपा के खिलाफ महागठबंधन के लिए एकजुट हुए ममता और नायडू
  • मतदान केन्द्रों में मोबाइल फोन सहित सभी इलेक्ट्रानिक उपकरणों पर प्रतिबंध
  • किरण, नारायणसामी के बीच मतभेद,केंद्र करे हस्तक्षेप: अनबझागन
  • मुद्दा नहीं बचा तो फिर से राम मंदिर का राग अलापने लगी भाजपा : दीपंकर
  • केंद्र में पुन: नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भाजपा की सरकार बनेगी: खट्टर
  • शिवराज के राज में भ्रष्टाचार की नई व्यवस्था बनी : कमलनाथ
  • शिवराज के राज में भ्रष्टाचार की नई व्यवस्था बनी : कमलनाथ
  • अदलीवाल ग्रेनेड हमले की उच्चस्तरीय जांच करवाई जाए: भोमा
  • जेआरएल ने पंचायत चुनाव वाले क्षेत्रों में किया हड़ताल का आह्वान
  • पिता के हत्या के मामले में पुत्र गिरफ्तार
  • सीबीआई अधिकारी ने केंद्रीय मंत्री पर लगाये भ्रष्टाचार के आरोप
  • आरबीआई बोर्ड की मैराथन बैठक
  • राफेल विवाद से वायु सेना की छवि पर असर नहीं पड़ेगा: नांबियार
  • अपराध, भ्रष्टाचार और संप्रदायवाद से समझौता नही : नीतीश
भारत Share

राष्ट्रीय बाल पुरस्कार के लिये आवेदन आमंत्रित

नयी दिल्ली 08 सितंबर (वार्ता) सरकार ने असाधारण उपलब्धियां हासिल करने वाले बच्चों को सम्मानित करने के लिए राष्ट्रीय बाल पुरस्कार 2018 के आवेदन आमंत्रित किये हैं।
केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने शनिवार को यहां बताया कि राष्ट्रपति द्वारा प्रदान किया जाने वाला यह राष्ट्रीय सम्मान नवोन्मेष, विशिष्ट कार्य , खेल, कला एवं संस्कृति, समाज सेवा एवं बहादुरी के क्षेत्र में उत्कृष्ट उपलब्धियां अर्जित करने वाले बच्चों को दिया जाता है। आवेदन पत्र जमा करने की अंतिम तिथि 30 सितम्बर है।
पुरस्कारों का उल्लेख करते हुए केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री मेनका गांधी ने कहा, “राष्ट्रीय बाल पुरस्कार हमारे बच्चों एवं उन लोगों की असाधारण उपलब्धियों का सम्मान करने का प्रमुख मंच है जो बच्चों के कल्याण, विकास एवं सुरक्षा के लिये इस रूप में प्रयासरत हैं।”
सरकार ने ‘राष्ट्रीय बाल पुरस्कार’ एवं ‘राष्ट्रीय बाल कल्याण पुरस्कार’ की श्रेणियों में आवेदन पत्र आमंत्रित किये हैं। ‘राष्ट्रीय बाल पुरस्कार’ प्राप्त करने वाले बच्चे को एक पदक, एक लाख रुपये नकद, 10 हजार रुपये की पुस्तकें खरीदने के लिये कूपन, प्रमाणपत्र एवं प्रशस्ति पत्र दिये जाते हैं।
‘राष्ट्रीय बाल कल्याण पुरस्कार’ उन लोगों एवं संस्थानों को दिया जाता है जिन्होंने बाल विकास, सुरक्षा एवं कल्याण में उल्लेखनीय योगदान दिया हो। इस पुरस्कार को प्राप्त करने वालों को एक लाख रुपये नकद, प्रमाणपत्र एवं प्रशस्ति पत्र प्रदान किया जाता हैं।
महिला एवं बाल विकास मंत्रालय ने पुरस्कारों के लिये प्रतीक चिह्न प्रतियोगिता की शुरुआत भी की है। इस प्रतियोगिता के बारे में जानकारी मंत्रालय के फेसबुक एवं ट्विटर पर उपलब्ध है। प्रतियोगिता के लिये अपनी प्रविष्टियां जमा करने की अंतिम तिथि 23 सितम्बर है ।
सत्या, अभिनव
वार्ता
More News
सोनिया का मोदी पर हमला, कुछ लोग काम करते हैं, कुछ लोग श्रेय लेते हैं

सोनिया का मोदी पर हमला, कुछ लोग काम करते हैं, कुछ लोग श्रेय लेते हैं

19 Nov 2018 | 7:57 PM

नयी दिल्ली 19 नवंबर (वार्ता) कांग्रेस की पूर्व अध्यक्ष सोनिया गांधी ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का नाम लिए बिना उन पर करारा हमला बोलते हुए कहा कि कुछ लोग काम करते हैं और कुछ लोग श्रेय लेने के लिए लालायित रहते हैं।

 Sharesee more..
इंदिरा गांधी की 101वीं जयंती पर देश ने दी भावपूर्ण श्रद्धांजलि

इंदिरा गांधी की 101वीं जयंती पर देश ने दी भावपूर्ण श्रद्धांजलि

19 Nov 2018 | 7:37 PM

नयी दिल्ली 19 नवंबर (वार्ता) पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की 101वीं जयंती के मौके पर देश भर में उन्हें भावपूर्ण श्रद्धांजलि दी गयी और उनके बलिदान को याद किया गया।

 Sharesee more..

दिल्ली हाट में मंगलवार से मत्स्य उत्सव

19 Nov 2018 | 7:37 PM

 Sharesee more..
शिकायतों के निपटान के आधार पर हो एयरलाइंस की रैंकिंग : प्रभु

शिकायतों के निपटान के आधार पर हो एयरलाइंस की रैंकिंग : प्रभु

19 Nov 2018 | 7:27 PM

नयी दिल्ली 19 नवंबर (वार्ता) नागरिक उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु ने सोमवार को कहा कि विमान सेवा कंपनियों की सेवा गुणवत्ता का आँकलन शिकायत निपटान में उनके प्रदर्शन के आधार पर होना चाहिये तथा इसके लिए उनकी रैंकिंग की प्रणाली स्थापित की जानी चाहिये।

 Sharesee more..
image