Friday, Sep 21 2018 | Time 17:12 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • निर्यातकों आैर छोटे उद्योगों को प्राथमिकता से मिले उधार : प्रभु
  • निर्यातकों आैर छोटे उद्योगों को प्राथमिकता से मिले उधार : प्रभु
  • मूक बधिर छात्रा से दुष्कर्म, आश्रम संचालक सहित छह आरोपी गिरफ्तार
  • गिर वन में आठ दिन में मरे 11 शेर, वन विभाग ने कहा- अधिकतर मौतें वर्चस्व की लड़ाई के चलते
  • सिंधू और श्रीकांत की हार के साथ भारतीय चुनौती समाप्त
  • पटना में युवक की दिनदहाड़े हत्या
  • मुहर्रम के मद्देनजर श्रीनगर के कुछ इलाकों में पाबंदी
  • सेंसेक्स 280 अंक टूटा;निफ्टी 91 अंक फिसला
  • 12 साल बाद शतरंज ओलंपियाड में उतरेंगे आनंद
  • लाला वर्ल्ड की ट्रांसफरटू के साथ भागीदारी
  • सार्वजनिक रूप से माफी मांगें कुमारस्वामी: भाजपा
  • नोएडा में पीएनबी पर बदमाशों का हमला, दो सुरक्षाकर्मियों की हत्या
  • पश्चिम बंगाल के इस्लामपुर में हिंसा, दो की मौत
भारत Share

.

तेलंगाना , आंध्र प्रदेश और केरल में बंद का मिला-जुला असर रहा।इस दौरान शांतिपूर्ण प्रदर्शन हुए और कहीं से किसी अप्रिय घटना की खबर नहीं मिली। तेलंगाना प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष कैप्टन एन उत्तम कुमार रेड्डी ने भारत बंद को सफल करार देते हुए कहा कि तेल की बढ़ती कीमतों के लिए केन्द्र के साथ-साथ राज्य सरकार भी समान रूप से जिम्मेदार है।
आंध्र प्रदेश में कुछ को छोड़कर सभी व्यावसायिक प्रतिष्ठान, बैंक और शैक्षिण संस्सान खुले रहे। आम जन जीवन अप्रभावित रहा।
मेघालय में भारत बंद का कोई असर नहीं रहा। कांग्रेस ने राज्य सरकार को बढ़ती कीमतों को नियंत्रित करने में असफल रहने पर कड़ी आलोचना की। विपक्ष के नेता मुकुल संगमा ने राज्य सरकार पर कड़े प्रहार करते हुए कहा कि कोनराड संगमा सरकार को ‘सरकार चलाने की कला सिखनी चाहिए।
आधिकारिक सूत्रों के अनुसार बंद के दौरान आम जन जीवन अप्रभावित रहा और व्यावसायिक प्रतिष्ठान,कार्यालय, बैंक और शैक्षिण संस्थान खुले रहे।
पश्चिम बंगाल में कांग्रेस के नेतृत्व में विभिन्न विपक्षी दलों की आेर से आहूत बंद और वाम दलों के 12 घंटों की हड़ताल के आह्वान का पश्चिम बंगाल में कोई खास असर नहीं पड़ा।
सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने पहले ही साफ कर दिया था कि वह बंद के खिलाफ है लेकिन इस मुद्दे को लेकर उसने सड़कों पर उतरकर विरोध-प्रदर्शन किया। राजधानी कोलकाता और अधिकतर जिलों में जन जीवन और यातायात सामान्य रहा। कोलकाता तथा हावड़ा जिले के सियालदह और हावड़ा स्टेशनों पर रोजाना की तरह बड़ी संख्या में यात्री नजर आये। दोनों स्टेशनों के बीच बस सेवाएं भी सामान्य रहीं। किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया था।
कोलकाता के सभी महत्वपूर्ण इलाकों में स्थिति सामान्य रही। हावाड़ा जिले में वाम दलों के कार्यकर्ताओं ने कुछ स्थानों पर सड़क अवरूद्ध किया जिसके कारण यातायात बाधित हुआ। पुलिस ने जब अवरोध हटाने की कोशिश की तो वाम दलों के साथ उनकी झड़प भी हुई।
उत्तराखंड में बंद का मिला-जुला असर रहा जबकि समाजवादी पार्टी ने कई स्थानों पर केंद्र सरकार का पुतला फूंका।
कांग्रेस और सहयोगी विपक्षी दलों द्वारा आहूत भारत बंद राज्य के कुछ स्थानों पर सफल और कहीं निष्प्रभावी रहा। देहरादून में पलटन बाजार बंद कराने जुलूस की शक्ल में निकले कांग्रेस नेताओं की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) समर्थक व्यापारियों से झड़प हुई। इस दौरान पुलिस मूकदर्शक बनी रही। कुछ समझदार व्यापारियों ने किसी तरह बीचबचाव करके मामले को शांत कराया।
राज्य के अन्य हिस्सों में दोपहर बाद करीब एक बजे बाजार खुल गए। पिथौरागढ़ में सुबह बाजार बंद कराने निकले कांग्रेस नेताओं ने जबरन स्कूल और कॉलेज भी बन्द करा दिए।
आशा वार्ता
More News
नेताजी की कथित अस्थियों के डीएनए परीक्षण की मांग

नेताजी की कथित अस्थियों के डीएनए परीक्षण की मांग

21 Sep 2018 | 5:03 PM

नयी दिल्ली, 21 सितम्बर (वार्ता) नेताजी सुभाष चंद्र बोस के पौत्र चंद्र कुमार बोस ने कहा है कि जापान के एक मंदिर में रखी गयी नेताजी की कथित अस्थियों की प्रमाणिकता के लिए उसका डीएनए परीक्षण होना चाहिए।

 Sharesee more..
कश्मीर में पुलिसकर्मियों के इस्तीफे की खबर दुष्प्रचार: गृह मंत्रालय

कश्मीर में पुलिसकर्मियों के इस्तीफे की खबर दुष्प्रचार: गृह मंत्रालय

21 Sep 2018 | 4:17 PM

नयी दिल्ली 21 सितम्बर (वार्ता) जम्मू कश्मीर में आतंकवादियों द्वारा तीन पुलिसकर्मियों के अपहरण और उनकी हत्या के बाद कुछ विशेष पुलिस अधिकारियों (एसपीओ) के इस्तीफे के बारे में मीडिया में आ रही खबरों को गृह मंत्रालय ने शरारती तत्वों का दुष्प्रचार करार देते हुए गलत बताया है।

 Sharesee more..
image