Thursday, Nov 15 2018 | Time 01:04 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कोविंद, मोदी ने जीसैट-29 उपग्रह के प्रक्षेपण पर बधाई दी
  • पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी हमलों का स्राेत : मोदी
  • सीटें नहीं मिली तो निर्दलीय के रूप में चुनाव लडेंगे: खान
भारत Share

.

तेलंगाना , आंध्र प्रदेश और केरल में बंद का मिला-जुला असर रहा।इस दौरान शांतिपूर्ण प्रदर्शन हुए और कहीं से किसी अप्रिय घटना की खबर नहीं मिली। तेलंगाना प्रदेश कांग्रेस समिति के अध्यक्ष कैप्टन एन उत्तम कुमार रेड्डी ने भारत बंद को सफल करार देते हुए कहा कि तेल की बढ़ती कीमतों के लिए केन्द्र के साथ-साथ राज्य सरकार भी समान रूप से जिम्मेदार है।
आंध्र प्रदेश में कुछ को छोड़कर सभी व्यावसायिक प्रतिष्ठान, बैंक और शैक्षिण संस्सान खुले रहे। आम जन जीवन अप्रभावित रहा।
मेघालय में भारत बंद का कोई असर नहीं रहा। कांग्रेस ने राज्य सरकार को बढ़ती कीमतों को नियंत्रित करने में असफल रहने पर कड़ी आलोचना की। विपक्ष के नेता मुकुल संगमा ने राज्य सरकार पर कड़े प्रहार करते हुए कहा कि कोनराड संगमा सरकार को ‘सरकार चलाने की कला सिखनी चाहिए।
आधिकारिक सूत्रों के अनुसार बंद के दौरान आम जन जीवन अप्रभावित रहा और व्यावसायिक प्रतिष्ठान,कार्यालय, बैंक और शैक्षिण संस्थान खुले रहे।
पश्चिम बंगाल में कांग्रेस के नेतृत्व में विभिन्न विपक्षी दलों की आेर से आहूत बंद और वाम दलों के 12 घंटों की हड़ताल के आह्वान का पश्चिम बंगाल में कोई खास असर नहीं पड़ा।
सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस ने पहले ही साफ कर दिया था कि वह बंद के खिलाफ है लेकिन इस मुद्दे को लेकर उसने सड़कों पर उतरकर विरोध-प्रदर्शन किया। राजधानी कोलकाता और अधिकतर जिलों में जन जीवन और यातायात सामान्य रहा। कोलकाता तथा हावड़ा जिले के सियालदह और हावड़ा स्टेशनों पर रोजाना की तरह बड़ी संख्या में यात्री नजर आये। दोनों स्टेशनों के बीच बस सेवाएं भी सामान्य रहीं। किसी भी अप्रिय घटना को रोकने के लिए बड़ी संख्या में पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया था।
कोलकाता के सभी महत्वपूर्ण इलाकों में स्थिति सामान्य रही। हावाड़ा जिले में वाम दलों के कार्यकर्ताओं ने कुछ स्थानों पर सड़क अवरूद्ध किया जिसके कारण यातायात बाधित हुआ। पुलिस ने जब अवरोध हटाने की कोशिश की तो वाम दलों के साथ उनकी झड़प भी हुई।
उत्तराखंड में बंद का मिला-जुला असर रहा जबकि समाजवादी पार्टी ने कई स्थानों पर केंद्र सरकार का पुतला फूंका।
कांग्रेस और सहयोगी विपक्षी दलों द्वारा आहूत भारत बंद राज्य के कुछ स्थानों पर सफल और कहीं निष्प्रभावी रहा। देहरादून में पलटन बाजार बंद कराने जुलूस की शक्ल में निकले कांग्रेस नेताओं की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) समर्थक व्यापारियों से झड़प हुई। इस दौरान पुलिस मूकदर्शक बनी रही। कुछ समझदार व्यापारियों ने किसी तरह बीचबचाव करके मामले को शांत कराया।
राज्य के अन्य हिस्सों में दोपहर बाद करीब एक बजे बाजार खुल गए। पिथौरागढ़ में सुबह बाजार बंद कराने निकले कांग्रेस नेताओं ने जबरन स्कूल और कॉलेज भी बन्द करा दिए।
आशा वार्ता
More News
गौडा ने रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय का कार्यभार संभाला

गौडा ने रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय का कार्यभार संभाला

14 Nov 2018 | 10:50 PM

नयी दिल्ली 14 नवम्बर (वार्ता) केन्द्रीय सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्री डी.वी. सदानंद गौडा ने आज यहां रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय का अतिरिक्त कार्यभार संभाल लिया।

 Sharesee more..
मोदी ने जीएसएटी-29 उपग्रह के प्रक्षेपण पर बधाई दी

मोदी ने जीएसएटी-29 उपग्रह के प्रक्षेपण पर बधाई दी

14 Nov 2018 | 10:48 PM

नयी दिल्ली 14 नवंबर (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने संचार उपग्रह जी सैट-29 के सफल प्रक्षेपण और उसे कक्षा में स्थापित करने के लिए भारतीय अंतिरक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के वैज्ञानिकों को बधाई दी है।

 Sharesee more..
अंग्रेजों को देश से बाहर करने वाली कांग्रेस अब देगी मोदी सरकार को भी शिकस्त: शर्मा

अंग्रेजों को देश से बाहर करने वाली कांग्रेस अब देगी मोदी सरकार को भी शिकस्त: शर्मा

14 Nov 2018 | 9:12 PM

नयी दिल्ली, 14 नवंबर (वार्ता) राज्यसभा में कांग्रेस के उपनेता आनंद शर्मा ने केन्द्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाली सरकार को बुधवार को चेतावनी दी कि देश ने उसके निजाम को स्वीकार नहीं किया है और ‘सात समन्दर पार राज करने वाली सत्ता’ को देश से बाहर करने वाली कांग्रेस जल्द ही उसे भी शिकस्त देगी।

 Sharesee more..
अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला शुरू

अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला शुरू

14 Nov 2018 | 8:41 PM

नयी दिल्ली 14 नवंबर (वार्ता) अड़तीसवां भारत अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला (आईआईटीएफ) बुधवार को यहां शुरु हो गया जिसमें देश विदेश की कई कंपनियां हिस्सा ले रही हैं।

 Sharesee more..
संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसम्बर से 8 जनवरी तक

संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसम्बर से 8 जनवरी तक

14 Nov 2018 | 8:41 PM

नयी दिल्ली 14 नवम्बर (वार्ता) सरकार ने संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसम्बर से 8 जनवरी तक बुलाने का निर्णय लिया है, संसदीय कार्य राज्य मंत्री विजय गोयल ने बताया कि संसदीय मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसम्बर से 8 जनवरी तक बुलाने और इस संबंध में राष्ट्रपति को सिफारिश भेजने का निर्णय लिया है।

 Sharesee more..
image