Wednesday, Nov 14 2018 | Time 16:09 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मेगन और एलिसा ने दिलाई आस्ट्रेलिया काे जीत
  • ई-वीजा सुविधा सभी देशों के लिए व्यावहारिक तौर पर शुरू
  • बेटों के बाद अब अजय चौटाला भी इनेलो से निष्कासित
  • आर्थिक तंगी के कारण एक ने की खुदकुशी
  • सामूहिक दुष्कर्म मामले में तीन आरोपी गिरफ्तार
  • 1984 दंगे : हत्या के एक मामले में दो दोषी सजा का ऐलान गुरुवार को
  • झांसी: मां का हत्यारा बेटा पुलिस की गिरफ्त में
  • राफेल सौदा : सुप्रीम कोर्ट में फैसला सुरक्षित
  • थोक महंगाई दर बढ़कर 5 28 प्रतिशत पर
  • सोना 150 रुपये लुढ़का ;चांदी स्थिर
  • सेमीफाइनल के लिये उतरेगी महिला टीम इंडिया
  • सेमीफाइनल के लिये उतरेगी महिला टीम इंडिया
  • राफेल सौदा : वायुसेना अधिकारी अदालत कक्ष में तलब
  • कोलकाता में ‘रसगुल्ला दिवस’ पर मनाया जा रहा है जश्न
  • रुपये की संदर्भ दर
भारत Share

श्रीमती ईरानी ने तंज कसा, “ ऐसा क्यों है कि राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री को गले लगाने में इतनी जल्दबाजी की और आयकर अधिकारियों से भाग रहे हैं।” उन्होंने कहा कि गांधी परिवार नेशनल हेराल्ड मामले में सफ़ाई देने की कोशिश करता है। अगर कंपनी के आय-व्यय के मामले में दाल में काला नहीं है तो श्री गांधी जानकारी देने से क्यों भागते रहे हैं। ऐसा मामला देश में कभी देखा गया है क्या कि कोई कंपनी किसी दूसरी कंपनी का 90 करोड़ रुपये का कर्ज खरीदे। आयकर विभाग के हरकत में आने पर श्री गांधी अदालत का रुख करते हैं ताकि आयकर विभाग अपना काम न कर सके।”
श्रीमती ईरानी ने एनपीए मामले में संप्रग अध्यक्ष पर तीखा हमला करते हुए कहा,“ सोनिया गांधी नीत कांग्रेस सरकार के कार्यकाल में बैंकों के सबसे महत्वपूर्ण अंग पर प्रहार हुआ। वर्ष 2006-08 के दौरान संप्रग के कामकाज के तरीके से एनपीए में बढ़ोतरी हुयी।
उन्होंने कहा,“आज में राहुल गांधी से कुछ सवाल करना चाहती हूं। उन्होंने वर्ष 2010 के बाद उस कंपनी को अपने नियंत्रण में लिया जिसका काम ‘केवल समाचार पत्र प्रकाशित करना था। जिस समय ‘एसोसिएट जनरल’ (नेशनल हेराल्ड को प्रकाशित करने वाली मूल कंपनी) एक व्यावसायिक इंटरप्राइज था तो लाभ-हानि में कोई रूचि नहीं रखने का दावा करने वाले राहुल ने व्यावसायिक गतिविधियों वाली कंपनी क्यों खरीदी। उन्हें इसका जवाब देना होगा।”
उन्होंने कहा कि श्री राजन के बयान और दिल्ली उच्च न्यायालय द्वारा नेशनल हेराल्ड मामले में याचिका खारिज किये जाने के बाद भ्रष्टाचार के मामले में कांग्रेस नेताओं का पर्दाफाश हुआ है।
आशा.श्रवण
वार्ता
More News
राफेल सौदा : वायुसेना अधिकारी अदालत कक्ष में तलब

राफेल सौदा : वायुसेना अधिकारी अदालत कक्ष में तलब

14 Nov 2018 | 3:42 PM

नयी दिल्ली, 14 नवम्बर (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने राफेल विमान सौदा मामले में आज स्पष्ट किया कि लड़ाकू विमान की कीमतों के बारे में अदालत में बहस का तब तक सवाल नहीं उठता जब तक इस बात का निर्णय न हो जाये कि कीमत की जानकारी सार्वनजिक की जा सकती है या नहीं।

 Sharesee more..
दाती महाराज की पुनर्विचार याचिका खारिज, जांच सीबीआई ही करेगी

दाती महाराज की पुनर्विचार याचिका खारिज, जांच सीबीआई ही करेगी

14 Nov 2018 | 3:20 PM

नयी दिल्ली, 14 नवंबर (वार्ता) बलात्कार के मामले का सामना कर रहे स्वघोषित तांत्रिक दाती महाराज को बुधवार को दिल्ली उच्च न्यायालय से झटका लगा। न्यायालय ने उनकी इस मामले को केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) को सौंपने के फैसले की समीक्षा के लिए दायर याचिका खारिज कर दी।

 Sharesee more..
image