Thursday, Nov 15 2018 | Time 05:06 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • टीआरएस ने 10 उम्मीदवारों की तीसरी सूची जारी की
  • कोविंद, मोदी ने जीसैट-29 उपग्रह के प्रक्षेपण पर बधाई दी
  • पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी हमलों का स्राेत : मोदी
  • सीटें नहीं मिली तो निर्दलीय के रूप में चुनाव लडेंगे: खान
भारत Share

सिन्हा, शौरी, भूषण ने राफेल सौदे को लेकर सरकार पर फिर साधा निशाना

नयी दिल्ली 11 सितम्बर (वार्ता) वाजपेयी सरकार में मंत्री रह चुके यशवंत सिन्हा और अरुण शौरी तथा वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने राफेल सौदे में कथित अनियमितताओं को लेकर एक बार फिर मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि एक निजी कंपनी को सौदे में शामिल करके सरकार ने इसमें ‘कमीशनखोरी’ के लिए एक तंत्र बना दिया है।
उन्होंने कहा है कि सौदे के तहत विमानों की संख्या 126 से घटाकर 36 करने से देश की सुरक्षा के साथ भी समझौता किया गया है। तीनों ने एक संवाददाता सम्मेलन में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि इस सौदे में नियमाें का तो उल्लंघन किया ही गया, वायु सेना की सलाह के बिना विमानों की संख्या कम कर उसके अधिकारों को भी छीना गया।
तीनों ने कहा कि सरकार ने 7-8 वर्षों तक चली बातचीत के बाद हुए समझौते को रद्द कर फ्रांस सरकार से सीधे 36 राफेल विमान खरीदने का सौदा किया। श्री सिन्हा ने कहा, “ इस स्तर पर सौदे में निजी कंपनी को लाया गया है तो हम कह सकते हैं कि ‘कमीशनखोरी’का तंत्र बना दिया गया है और जैसे ही खेल शुरू होगा कमीशन आना शुरू हो जायेगा। इसका पर्दाफाश होना चाहिए। इस समय हम केवल यह कह रहे हैं कि यह तंत्र बना दिया गया है, वरना तो निजी कंपनी को ऑफसेट में लाये जाने की जरूरत ही नहीं थी।”
राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार में विनिवेश मंत्री रह चुके श्री शौरी ने कहा कि सरकार गोपनीयता के पर्दे के पीछे छिप रही है क्योंकि उसे पता है कि इस मामले में श्री मोदी खुद घेरे में आ रहे हैं। यह साफ है कि यह सब प्रधानमंत्री को बचाने के लिए किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सरकार खुद अपने जाल में फंस जायेगी लेकिन लोगों और मीडिया को सवाल पूछते रहना होगा।
श्री भूषण ने कहा कि राफेल खरीद मामले में श्री मोदी ने राष्ट्रीय सुरक्षा के साथ समझौता किया है और सभी नियमों का उल्लंघन किया गया है। सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम हिन्दुस्तान एयरोनाटिक्स लिमिटेड को इसकी प्रौद्योगिकी हस्तांतरण से भी वंचित रखा गया है।
संजीव.श्रवण
वार्ता
More News
गौडा ने रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय का कार्यभार संभाला

गौडा ने रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय का कार्यभार संभाला

14 Nov 2018 | 10:50 PM

नयी दिल्ली 14 नवम्बर (वार्ता) केन्द्रीय सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्री डी.वी. सदानंद गौडा ने आज यहां रसायन एवं उर्वरक मंत्रालय का अतिरिक्त कार्यभार संभाल लिया।

 Sharesee more..
मोदी ने जीएसएटी-29 उपग्रह के प्रक्षेपण पर बधाई दी

मोदी ने जीएसएटी-29 उपग्रह के प्रक्षेपण पर बधाई दी

14 Nov 2018 | 10:48 PM

नयी दिल्ली 14 नवंबर (वार्ता) प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने संचार उपग्रह जी सैट-29 के सफल प्रक्षेपण और उसे कक्षा में स्थापित करने के लिए भारतीय अंतिरक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के वैज्ञानिकों को बधाई दी है।

 Sharesee more..
अंग्रेजों को देश से बाहर करने वाली कांग्रेस अब देगी मोदी सरकार को भी शिकस्त: शर्मा

अंग्रेजों को देश से बाहर करने वाली कांग्रेस अब देगी मोदी सरकार को भी शिकस्त: शर्मा

14 Nov 2018 | 9:12 PM

नयी दिल्ली, 14 नवंबर (वार्ता) राज्यसभा में कांग्रेस के उपनेता आनंद शर्मा ने केन्द्र में सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेतृत्व वाली सरकार को बुधवार को चेतावनी दी कि देश ने उसके निजाम को स्वीकार नहीं किया है और ‘सात समन्दर पार राज करने वाली सत्ता’ को देश से बाहर करने वाली कांग्रेस जल्द ही उसे भी शिकस्त देगी।

 Sharesee more..
अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला शुरू

अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला शुरू

14 Nov 2018 | 8:41 PM

नयी दिल्ली 14 नवंबर (वार्ता) अड़तीसवां भारत अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला (आईआईटीएफ) बुधवार को यहां शुरु हो गया जिसमें देश विदेश की कई कंपनियां हिस्सा ले रही हैं।

 Sharesee more..
संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसम्बर से 8 जनवरी तक

संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसम्बर से 8 जनवरी तक

14 Nov 2018 | 8:41 PM

नयी दिल्ली 14 नवम्बर (वार्ता) सरकार ने संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसम्बर से 8 जनवरी तक बुलाने का निर्णय लिया है, संसदीय कार्य राज्य मंत्री विजय गोयल ने बताया कि संसदीय मामलों की मंत्रिमंडलीय समिति ने संसद का शीतकालीन सत्र 11 दिसम्बर से 8 जनवरी तक बुलाने और इस संबंध में राष्ट्रपति को सिफारिश भेजने का निर्णय लिया है।

 Sharesee more..
image