Tuesday, Feb 19 2019 | Time 13:55 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • भाजपा, अन्नाद्रमुक गठबंधन की कोशिशों में व्यस्त
  • मिर्जापुर में दो दुर्घटनाओं में चार लोगों की मृत्यु, एक की हत्या
  • आदिवासी परंपराओं, रीति-रिवाजों का सम्मान संवैधानिक दायित्व : वेंकैया
  • मनरेगा की बकाया मजदूरी की राशि केन्द्र से जारी करवाने का प्रयास जारी - सिंहदेव
  • वाहन की टक्कर से तेंदुए की मौत
  • अन्नाद्रमुक-पीएमके के बीच सीटों के बंटवारे के लिए समझौता
  • पाकिस्तान के सीमेंट निर्यात को झटका, भारतीय आयातकों ने कंटेनर वापस मंगाने को कहा
  • जोकोविच की बादशाहत बरकरार, नडाल दूसरे नंबर पर
  • जोकोविच की बादशाहत बरकरार, नडाल दूसरे नंबर पर
  • शहीद के अंतिम संस्कार से पूर्व शहीद के घर आई लक्ष्मी
  • वायु सेना के दो हॉक विमान दुर्घटनाग्रस्त
  • तेलंगाना में मंत्रिमंडल विस्तार, 10 नये मंत्री शामिल
  • जैश के आतंकियों का मारा जाना बड़ी कामयाबी: राजनाथ
  • शहीद श्योराम का राजकीय सम्मान से अंतिम संस्कार
  • सेरेना टॉप 10 में शामिल, ओसाका शीर्ष पर कायम
भारत Share

योगी के भड़काऊ भाषण मामले में अदालत आदेश दे : सुप्रीम कोर्ट

योगी के भड़काऊ भाषण मामले में अदालत आदेश दे : सुप्रीम कोर्ट

नयी दिल्ली, 11 सितम्बर (वार्ता) उच्चतम न्यायालय ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के एक पुराने भड़काऊ भाषण मामले में हस्तक्षेप से मंगलवार को इन्कार कर दिया और संबंधित मजिस्ट्रेट को कानून के दायरे में आदेश जारी करने का आदेश दिया।

मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली तीन-सदस्यीय खंडपीठ ने इलाहाबाद उच्च न्यायालय के फैसले के खिलाफ दायर याचिका का निपटारा कर दिया। उच्च न्यायालय ने इस मामले में राशिद खान की याचिका खारिज कर दी थी, जिसे उन्होंने शीर्ष अदालत में चुनौती दी थी।

न्यायमूर्ति मिश्रा ने कहा, “हम गोरखपुर के मजिस्ट्रेट को केवल निर्देश देते हैं कि वह इस मामले में कानून के दायरे में अपना उचित आदेश सुनाये।”

उल्लेखनीय है कि यह मामला करीब 11 साल पुराना है। सत्ताईस जनवरी 2007 को श्री आदित्यनाथ के गृह जनपद गोरखपुर में सांप्रदायिक दंगा हुआ था। इस दंगे में दो लोगों की मौत हो गयी थी और कई लोग घायल हुए थे। इस दंगे के लिए तत्कालीन सांसद एवं मौजूदा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, तत्कालीन विधायक राधा मोहन दास अग्रवाल और गोरखपुर की तत्कालीन मेयर अंजू चौधरी पर भड़काऊ भाषण देने और दंगा भड़काने का आरोप लगा था।

सुरेश.संजय

वार्ता

More News
अब एक ही इमरजेंसी नंबर ‘112’

अब एक ही इमरजेंसी नंबर ‘112’

19 Feb 2019 | 1:36 PM

नयी दिल्ली, 19 फरवरी (वार्ता) देश में हर इमरजेंसी के लिए आज से एक ही नंबर ‘112’ शुरू हो गया। मौजूदा पुलिस सहायता नंबर ‘100’ को इससे जोड़ दिया गया है जबकि पहले से इस्तेमाल किये जा रहे अन्य नंबरों को जोड़ने की प्रक्रिया चल रही है।

 Sharesee more..
वायु सेना के दो हॉक विमान दुर्घटनाग्रस्त

वायु सेना के दो हॉक विमान दुर्घटनाग्रस्त

19 Feb 2019 | 1:24 PM

नयी दिल्ली, 19 फ़रवरी (वार्ता) वायु सेना के दो हॉक विमान मंगलवार को बेंगलुरु के येलाहांका वायु सेना स्टेशन के निकट दुर्घटनाग्रस्त हो गये।

 Sharesee more..
जैश के आतंकियों का मारा जाना बड़ी कामयाबी: राजनाथ

जैश के आतंकियों का मारा जाना बड़ी कामयाबी: राजनाथ

19 Feb 2019 | 1:13 PM

नयी दिल्ली, 19 फरवरी (वार्ता) गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने पुलवामा हमले के मास्टर माइंड समेत जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकवादियों को सुरक्षा बलों द्वारा ढेर किये जाने को बड़ी कामयाबी बताया है।

 Sharesee more..
भाजपा के प्रचार के लिए आरबीआई दे रही अंतरिम लाभांश: कांग्रेस

भाजपा के प्रचार के लिए आरबीआई दे रही अंतरिम लाभांश: कांग्रेस

19 Feb 2019 | 12:59 PM

नयी दिल्ली, 19 फरवरी (वार्ता) भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के सरकार को 28000 करोड़ रुपये का अंतरिम लाभांश दिये जाने संबंधी निर्णय को लेकर कांग्रेस ने केंद्र की भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नीत नरेंद्र मोदी सरकार पर हमला करते हुए आरोप लगाया कि यह लाभांश आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर भाजपा के प्रचार के लिए दिया गया है।

 Sharesee more..
image