Tuesday, Feb 19 2019 | Time 08:19 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • अमेरिका में तीन बच्चे सहित मृत पायी गयी महिला
  • अमेरिका में आपातकाल की घोषणा के विरोध में देश व्यापी प्रदर्शन
  • अल अजहर ने की नाइजीरिया में हुए आत्मघाती हमले की निंदा
  • मिस्र: बम विस्फोट में दो पुलिसकर्मी, एक आतंकवादी की मौत
  • सीरिया में आतंकवादी हमले में दो लोगों की मौत
  • तुर्की में यिल्दिरिम ने की इस्तीफा देने की घोषणा
  • इराक में आतंकवादियों ने की एक की हत्या और सात का अपहरण
  • यमन में सुरक्षा बलों के साथ झड़प में 10 हौती विद्रोही मारे गए
  • पुड्डुचेरी में बेदी से बातचीत के बाद नारायणसामी का धरना समाप्त
  • बिहार में 17 आईएएस अधिकारियों का तबादला
  • बेकाबू ट्रक की चपेट में आने से नौ लोगों की मौत, 22 घायल
  • भाजपा-शिवसेना गठबंधन ही महाराष्ट्र में ‘केवल विकल्प’: मोदी
भारत Share

तेल कुओं की क्षमता बढ़ाने वाली नयी नीति को मंजूरी

तेल कुओं की क्षमता बढ़ाने वाली नयी नीति को मंजूरी

नयी दिल्ली 12 सितंबर (वार्ता) सरकार ने तेल एवं गैस के कुओं की क्षमता बढ़ाने के लिए नयी नीति एवं नयी पूंजी की व्यवस्था करने का निर्णय लिया है।

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी की अध्‍यक्षता में आज यहां हुई केन्‍द्रीय मंत्रिमंडल की बैठक में इस आशय के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया।

बैठक के बाद तेल एवं प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि देश में मौजूदा तेल एवं गैस कुओं की क्षमता घट रही है। इनकी क्षमता बढ़ाने के लिए सरकार ने नयी नीति एवं नयी पूंजी की एक व्यवस्था को मंजूरी दी है। उन्हाेंने बताया कि तेल एवं गैस के खनन की मौजूदा व्यवस्था पर मात्र पांच प्रतिशत पूंजी का निवेश करने से अगले 20 साल तक 50 लाख करोड़ रुपए के स्रोत उपलब्ध होंगे।

उन्होंने बताया कि तेल क्षेत्र के लिए नयी नीति विकसित करने वाली कंपनी या व्यक्ति को 50 प्रतिशत रायलटी छूट तथा गैस क्षेत्र के लिए नयी नीति विकसित करने वाली कंपनी या व्यक्ति को 75 प्रतिशत रायलटी छूट दी जाएगी।

इस नीति का रणनीतिक उद्देश्‍य अकादमिक एवं अनुसंधान संस्‍थानों, उद्योग एवं शैक्षणिक संस्‍थानों के बीच बेहतर तालमेल के जरिए अनुकूल माहौल तैयार करना, उत्‍खनन एवं उत्‍पादन ठेकेदारों को तकनीक के इस्‍तेमाल के लिए मदद एवं प्रोत्‍साहित करना है।

यह नीति अधिसूचना की तिथि से अगले 10 वर्षों की अवधि के लिए प्रभावी रहेगी। हालां‍कि राजकोषीय प्रोत्‍साहन उत्‍पादन शुरू होने की तिथि से 120 महीने की अवधि के लिए उपलब्‍ध रहेगा।

सत्या संजीव

वार्ता

More News
महिला सुरक्षा के लिए कई योजनाओं की शुरूआत करेंगे राजनाथ

महिला सुरक्षा के लिए कई योजनाओं की शुरूआत करेंगे राजनाथ

18 Feb 2019 | 11:46 PM

नयी दिल्ली 18 फरवरी (वार्ता ) केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह मंगलवार को यहां महिलाओं की सुरक्षा के लिए अनेक योजनाओं की शुरूआत करेंगे।

 Sharesee more..
स्वच्छ यमुना के लिए 1387.71 करोड़ की परियोजनाएं स्वीकृत

स्वच्छ यमुना के लिए 1387.71 करोड़ की परियोजनाएं स्वीकृत

18 Feb 2019 | 11:36 PM

नयी दिल्ली, 18 फरवरी (वार्ता) सरकार ने गंगा को निर्मल बनाने के अपने महत्वाकांक्षी ‘नमामि गंगे’ कार्यक्रम के तहत यमुना तट पर बसे शहरों की गंदगी इसमें जाने से रोकने और इसे स्वच्छ बनाने के लिए 1387.71 करोड़ रुपये की परियोजनाएं स्वीकृत की है।

 Sharesee more..
जिला स्तर पर कारोबार के अनुकूल माहौल बनाने की योजना: प्रभु

जिला स्तर पर कारोबार के अनुकूल माहौल बनाने की योजना: प्रभु

18 Feb 2019 | 11:25 PM

नयी दिल्ली, 18 फरवरी (वार्ता) केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने सोमवार को कहा कि सरकार ने जिला स्तर पर कारोबार के अनुकूल माहौल बनाने के लिए एक योजना तैयार की है।

 Sharesee more..
बरखा दत्त को धमकी के मामले की होगी जांच:आयोग

बरखा दत्त को धमकी के मामले की होगी जांच:आयोग

18 Feb 2019 | 11:14 PM

नयी दिल्ली 18 फरवरी (वार्ता) राष्ट्रीय महिला आयोग दिल्ली पुलिस को पत्रकार बरखा दत्त को अश्लील तस्वीरें और धमकी भरे संदेश भेजने के मामले की जांच करने को कहेगा।

 Sharesee more..
image