Monday, Jun 17 2019 | Time 10:18 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • दक्षिण एशिया में नये आतंकवाद का खतरा : नेपाल
  • ट्रंप ने बस्ती का नाम अपने नाम पर रखने पर नेतन्याहू को दिया धन्यवाद
  • वेनेजुएला में सड़क हादसे में 16 लोगों की मौत
  • हाउती विद्रोहियों का सऊदी हवाई अड्डे पर फिर हमला
  • जापान में 5 2 तीव्रता वाले भूकंप के झटके
  • बागपत पंचायत में फायरिंग,एक की मृत्यु ,तीन घायल
  • बलरामपुर में ट्रैक्टर-ट्राली पलटने से चार लोगों की मृत्यु,19 घायल
  • इजरायल ने गोलन पहाड़ी क्षेत्र में ट्रम्प के नाम पर बस्ती का किया शिलान्यास
  • सीरिया के अलेप्पो प्रांत में आतंकवादी हमले में 12 लोगों की मौत
  • सीरिया के अलेप्पो प्रांत में आतंकवादी हमले में 10 लोगों की मौत
  • तेल टैंकरों पर हमले के लिए ईरान जिम्मेदार: मोहम्मद बिन सलमान
  • रूस में सड़क दुर्घटना में एक की मौत, सात घायल
  • सूडान की सेना ‘टेक्नोक्रेटिक सरकार’ को ही सत्ता की बागडोर सौंपेगी
  • सूडान की सेना ‘टेक्नोक्रेटिक सरकार’ को ही सत्ता को बागडोर सौंपेगी
भारत


गांधी विचारों के प्रबल समर्थक रहे परिपूर्णानंद पैन्यूली : किदवई

नयी दिल्ली, 04 मई (वार्ता) पूर्व केंद्रीय मंत्री मोहसिना किदवई ने कहा है कि स्वतंत्रता सेनानी तथा टिहरी के पूर्व सांसद परिपूर्णानंद पैन्यूली गांधीजी की विचारधारा के प्रबल समर्थक थे और उनके सिद्धांतों को अपने जीवन में उतारकर हमेशा उनका पालन करते रहे।
श्रीमती किदवई ने श्री पैन्यूली को श्रद्धांजलि देने के लिए शनिवार को यहां आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि श्री पैन्यूली उनके मित्र थे और वह जब भी देहरादून से दिल्ली आते तो उनसे मिलने का जरूर प्रयास करते थे। उन्होंने कहा कि वह जब भी मिलते थे तो टिहरी के राजा के अत्याचारों की बात करते और राजशाही के खिलाफ जरूर बोलते थे। उन्होंने कहा कि वह हमेशा खादी वस्त्र पहनते और सभी को सम्मान देने पर भरोसा रखते थे।
उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत ने कहा कि श्री पैन्यूली ने जीवन में कभी समझौता नहीं किया। समझौतावाद उनके स्वभाव में था ही नहीं और अगर लेशमात्र भी यह स्वभाव होता तो वह राजनीति का बहुत ऊंचा मुकाम हासिल कर सकते थे। उन्होंने कहा कि वह समन्वयवादी थे और उस दौर में गांधीजी के सिद्धांतों के अनुसार आदिवासियों और दलितों के हितों के लिए काम करते रहे।
उत्तराखंड कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने कहा कि श्री पैन्यूली का कद बहुत ऊंचा था लेकिन अफसोस इस बात का है कि वह जिस सम्मान के हकदार थे सही मयाने में उन्हें वह सम्मान मिला नहीं। उनको जीवन में जितना सम्मान मिला है वह उसे कई ज्यादा सम्मान के हकदार थे।
कार्यक्रम में उपस्थिति कई अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने श्रद्धांजलि व्यक्त करते हुए स्वतंत्रता संग्राम में श्री पैन्यूली के योगदान और उनकी सादगी की सरहाना की और उनसे जुड़े कई संस्मण सुनाए।
अभिनव टंडन
वार्ता
More News
दिल्ली में चिलचिती धूप और उमस से राहत

दिल्ली में चिलचिती धूप और उमस से राहत

16 Jun 2019 | 10:56 PM

नयी दिल्ली 16 जून (वार्ता) दिल्ली में रविवार सुबह से ही रुक-रुक कर बदल छाने और कहीं-कहीं हल्की बूंदाबांदी होने से पिछले कई दिनों से भीषण गर्मी और उमस से बेहाल लोगों को राहत मिली।

see more..
प्रणव मुखर्जी से मिले नीतीश

प्रणव मुखर्जी से मिले नीतीश

16 Jun 2019 | 10:21 PM

नयी दिल्ली, 16 जून (वार्ता) बिहार के मुख्यमंत्री तथा जनता दल यू के नेता नीतीश कुमार ने पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी से मुलाकात की है।

see more..
सभी वर्गों को भरोसे में लेकर करेंगे सबका विकास : माेदी

सभी वर्गों को भरोसे में लेकर करेंगे सबका विकास : माेदी

16 Jun 2019 | 10:56 PM

नयी दिल्ली 16 जून (वार्ता) आम चुनावों के बाद संसद का सत्र आरंभ होने से एक दिन पहले रविवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) संसदीय दल की हुई बैठक में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश को आश्वासन दिया कि उनकी सरकार सबका साथ सबका विकास और सबका विश्वास की भावना से अथक परिश्रम करेगी और समाज के सभी वर्गों को भरोसे में लेकर समावेशी विकास करेगी।

see more..
लोकसभा के निर्वाचित सदस्य सोमवार को लेंगे शपथ

लोकसभा के निर्वाचित सदस्य सोमवार को लेंगे शपथ

16 Jun 2019 | 8:25 PM

नयी दिल्ली, 16 जून (वार्ता) सत्रहवीं लोकसभा के लिए चुनकर आये सदस्यों को सोमवार एवं मंगलवार को शपथ दिलाई जाएगी और सदन में इसके लिए पूरी तैयारी कर ली गयी है।

see more..
तीन तलाक विधेयक पारित कराना सरकार की बडी चुनौती

तीन तलाक विधेयक पारित कराना सरकार की बडी चुनौती

16 Jun 2019 | 6:26 PM

नयी दिल्ली, 16 जून (वार्ता) संसद के सोमवार से शुरु हो रहे सत्र में नयी सरकार के समक्ष तीन तलाक सहित दस महत्वपूर्ण अध्यादेशों को पारित कराने की चुनौती होगी ,वहीं विपक्षी दल सरकार को किसानों, बेरोजगारी, धर्मनिरपेक्षता, इलेक्ट्रोनिक वोटिंग मशीन जैसे कई मुद्दों पर घेरने का प्रयास करेगी।

see more..
image