Friday, Sep 20 2019 | Time 17:17 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • दुबई से 20 लाख का अवैध सोना लाते पांच बदमाश गिरफ्तार
  • जेल में बंद सजायाफ्ता कैदी की मौत
  • मैक्स बूपा और इंडियन बैंक की साझेदारी
  • श्रीलंका का पाकिस्तान दौरा तय कार्यक्रम से होगा
  • सीआईआई ने कार्पोरेट टैक्स दरों में कटौती का किया स्वागत, अर्थव्यवस्था को मिलेगी रफ्तार
  • अंतर्राष्ट्रीय क्रेता-विक्रेता सम्मेलन में 08 एम ओ यू पर हस्ताक्षर हुए
  • पाकिस्तानी प्रतिनिधिमंड़ल से कोई बातचीत नहीं होगी: अकबरुद्दीन
  • चने की दो बेहतर किस्में विकसित
  • गाजियाबाद रन टू ब्रीथ 15 दिसंबर को,10 हजार धावक हिस्सा लेंगे
  • गाजियाबाद रन टू ब्रीथ 15 दिसंबर को,10 हजार धावक हिस्सा लेंगे
  • तीन दिवसीय त्रि सेवा कमांड़र सम्मेलन संपन्न
  • ग्रीनबग बैग से प्लास्टिक थैली का बेहतर विकल्प
  • कॉलेजों में विषय बंद करने के विरोध में प्रदेशभर में आंदोलन चलाएगी एसएफआई
भारत


तिरुपति बालाजी मंदिरों में ब्रह्मोत्सव बुधवार से

नयी दिल्ली 14 मई (वार्ता) आँध्र प्रदेश के तिरुमला स्थित तिरुपति बालाजी मंदिर और दिल्ली तथा देश के अन्य शहरों में स्थित उसके केंद्रों में 11 दिन का ब्रह्मोत्सव बुधवार से शुरू होगा।
दिल्ली में आँध्र प्रदेश के स्थानिक आयुक्त प्रवीण प्रकाश ने यहाँ उद्यान मार्ग स्थित तिरुपति बालाजी मंदिर में एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि 15 मई की शाम छह बजे ‘अंकुरारोपण’ के साथ ब्रह्मोत्सव की शुरुआत होगी और 25 मई की शाम छह बजे ‘श्री पुष्पयागम’ के साथ उसका समापन होगा।
श्री प्रकाश ने बताया कि मान्यताओं के अनुसार ब्रह्माजी के आग्रह पर भगवान वेंकटेश्वर 11 दिन के लिए परिवार सहित अपने मंदिर से बाहर आते हैं और मंदिर की परिक्रमा करते हैं। यह उत्सव ब्रह्माजी का है, इसलिए इसे ब्रह्मोत्सव के नाम से जाना जाता है। तिरुमाला स्थित तिरुपति बालाजी मंदिर में और उसकी देश भर में फैली 36 शाखाओं में इसे हर साल पूरे धूमधाम से मनाया जाता है। दिल्ली के आसपास कुरुक्षेत्र और ऋषिकेश स्थित तिरुपति बालाजी मंदिरों में भी 15 से 25 मई के बीच ब्रह्मोत्सव मनाया जायेगा।
इन 11 दिनों के दौरान भगवान वेंकटेश्वर की 11 यात्राएँ होंगी। हर बार वह अलग-अलग वाहनों पर परिक्रमा करेंगे। हर दिन कुछ विशेष पूजा तथा कार्यक्रमों का आयोजन होने के साथ ही होम, अभिषेक और कल्याण पूजा का दैनिक आयोजन किया जायेगा। यहाँ आने वाले श्रद्धालु रोजाना सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी लुत्फ उठा सकते हैं।
ब्रह्मोत्सव के दौरान सभी दिन तिरुमाला से लाये गये विशेष लड्डू भी उपलब्ध होंगे। लोग मंदिन प्रांगण में बने स्टॉलों से ये लड्डू खरीद सकते हैं। इन स्टॉलों पर मूर्तियाँ तस्वीरें, पुस्तकें, कांचीवरम् साड़ियाँ आदि भी खरीदे जा सकते हैं।
अजीत संजीव
वार्ता
More News
उर्वरकों को लेकर किसान संगठनों से भी बातचीत हो: रुपाला

उर्वरकों को लेकर किसान संगठनों से भी बातचीत हो: रुपाला

20 Sep 2019 | 4:44 PM

नयी दिल्ली 20 सितम्बर (वार्ता) कृषि राज्य मंत्री परषोत्तम रुपाला ने आज आश्वासन दिया कि इस वर्ष राज्यों ने दबे या खुले स्वर से उर्वरकों की कमी को लेकर जो शिकायतें कीं थीं जो रबी फसल के दौरान नहीं होंगी।

see more..
दिल्ली कांग्रेस सरकारी स्कूलों में शिक्षा की दुर्दशा पर करेगी जनांदोलन: नरेश

दिल्ली कांग्रेस सरकारी स्कूलों में शिक्षा की दुर्दशा पर करेगी जनांदोलन: नरेश

20 Sep 2019 | 4:29 PM

नयी दिल्ली, 20 सितम्बर (वार्ता) अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य नरेश कुमार ने अरविंद केजरीवाल सरकार के पांच वर्ष के कार्यकाल के दौरान दिल्ली के सरकारी स्कूलों से एक लाख बच्चों के पढ़ाई छोड़ने का आरोप लगाते हुए कहा है कि मुख्यमंत्री शिक्षा में सुधार के जो आंकड़े प्रस्तुत कर रहे हैं, स्थिति उसके बिल्कुल विपरीत है।

see more..
image