Wednesday, Aug 12 2020 | Time 20:20 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • सोनीपत में कोरोना के 21 नए मामले, एक और मरीज की मौत
  • रक्षा राज्य मंत्री श्रीपद नाइक कोरोना से संक्रमित
  • लातेहार में युवक ने की आत्महत्या
  • ओडिशा में बढ़ायेंगे कोरोना जांच की संख्या: पटनायक
  • वीनस और सेरेना में होगी भिड़ंत
  • वीनस और सेरेना में होगी भिड़ंत
  • विक्रम साराभाई के नाम पर खोला गया पुस्तकालय
  • कर्नाटक में कोरोना वायरस के 7883 नये मामले, 7034 हुए स्वस्थ
  • बसपा सांसद दानिश ने बेंगलुरु हिंसा को दुर्भाग्यपूर्ण बताया
  • संतकबीरनगर में 22 नए कोरोना पाॅजिटिव, संख्या हुई 1438
  • पंजाब में कोरोना ने ली 39 और जानें, मृतकों की संख्या हुई 675
  • नांदेड़ जिले में कोरोना वायरस से 99 लोग संक्रमित पाये गये
  • राजनाथ करेंगे मनाली में रोहतांग सुरंग का निरीक्षण
  • बरोदा उपचुनाव में मुकाबला जनता अौर भाजपा के बीच: हुड्डा
  • राजनीतिक दलों के टकराव में ‘कन्वीनियंट पंचिंग बैग’बन सकता है राज्यपाल: धनखड़
भारत


अधिकांश युवा देश में पुरूष और महिलाओं के लिए समान अधिकार के पक्षधर

नयी दिल्ली 28 नवंबर (वार्ता) देश के अधिकांश युवाओं ने लैंगिक समानता की वकालत करते हुये महिला और पुरूषों को समान अधिकार दिये जाने के पक्षधर है।
इस संबंध में अक्षरा सेंटर द्वारा ‘बिग स्मॉल स्टेप्स’ शीर्षक से जारी एक सर्वेक्षण रिपोर्ट में यह खुलासा हुआ है। इस सर्वेक्षण में 15 से 29 आयु वर्ग के 6428 युवाओं ने भाग लिया जिसमें देश के आठ राज्यों के 3364 युवक और 3064 युवतियां शामिल थीं। इसमें मुंबई, दिल्ली, चेन्नई और कोलकाता के साथ विजयवाड़ा, लुधियाना, अहमदाबाद और भुवनेश्वर को भी शामिल किया गया था।
इसमें शामिल युवाओं में से 79.2 फीसदी युवकों और 87.4 फीसदी युवतियों ने पुरुषों और महिलाओं को समान अधिकार दिये जाने की वकालत की। अधिकांश युवा सामाजिक रूप से प्रगतिशील थे और उन्होंने पारंपरिक विचारों और सामाजिक मानदंडों को उचित नहीं मानते हैं। इसमें शामिल 58.7 फीसदी युवक और 78.7 फीसदी युवतियों ने धर्मस्थलों के गर्भगृह में महिलाओं के प्रवेश की अनुमति नहीं देने वाली सामाजिक वर्जना से असहमत थे। वे इस बात से भी सहमत नहीं थे कि माहवारी के दौरान महिलाओं को घर में खाना नहीं बनाना चाहिए।
इसमें शामिल 48.8 फीसदी युवकों का मानना है कि माता-पिता का अंतिम संस्कार बेटे द्वारा किया जाना चाहिए जबकि 31.3 फीसदी युवतियां इससे सहमत दिखी। महिलाओं के प्रति होने वाली घरेलू हिंसा को युवाओं ने सिरे से खारिज किया। हालांकि 42.6 फीसदी युवाओं ने कहा कि अगर हिंसा होती है तो महिलाओं को परिवार को एक साथ रखने के लिए इसे सहन करना चाहिए।
शेखर
वार्ता
More News
‘कारगिल गर्ल’ फिल्म पर वायु सेना ने जतायी आपत्ति

‘कारगिल गर्ल’ फिल्म पर वायु सेना ने जतायी आपत्ति

12 Aug 2020 | 8:13 PM

नयी दिल्ली 12 अगस्त (वार्ता) वायु सेना ने आज नेटफिल्क्स पर रिलीज होने वाली फिल्म ‘ गुंजन सक्सेना द कारगिल गर्ल’ में उसकी गलत छवि दिखाने की शिकायत करते हुए केन्द्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड को पत्र लिखा है।

see more..
बिड़ला ने प्रणव मुखर्जी की सेहत का कुशलक्षेम जाना

बिड़ला ने प्रणव मुखर्जी की सेहत का कुशलक्षेम जाना

12 Aug 2020 | 8:05 PM

नयी दिल्ली 12 अगस्त (वार्ता) लोकसभा अध्यक्ष ओम बिड़ला ने बुधवार को पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी की बेटी शर्मिष्ठा मुखर्जी जीके को फोन कर उनके पिता की सेहत का कुशलक्षेम जाना।

see more..
जांच में उत्कृष्टता के लिए 121 पुलिसकर्मी गृह मंत्री के पदक से सम्मानित

जांच में उत्कृष्टता के लिए 121 पुलिसकर्मी गृह मंत्री के पदक से सम्मानित

12 Aug 2020 | 7:38 PM

नयी दिल्ली 12 अगस्त (वार्ता) केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने कहा है कि किसी भी मामले की विस्तृत जांच पीड़ित को न्याय दिलाने में प्रमुख भूमिका निभाती है।

see more..
image