Thursday, Jun 13 2024 | Time 13:24 Hrs(IST)
image
भारत


भारतीय संस्कृति में स्त्रियों का सम्मान , पर समाज में नहीं: कर्ण सिंह

नई दिल्ली 28 जुलाई (वार्ता) वयोवृद्ध राजनेता एवम चिंतक डॉ कर्ण सिंह ने कहा है कि आजादी के बाद भारत में बहुत बड़ा बदलाव आया है और इस बदलाव का नतीजा है कि देश में पहली बार एक आदिवासी महिला राष्ट्रपति बनी हैं।
डॉ सिंह ने बुधवार शाम इंडिया इंटरनेशनल सेंटर में हिंदी की सुप्रसिद्ध लेखिका अलका सरावगी को स्त्री शक्ति दयावती मोदी सम्मान प्रदान करते हुए यह बात कही। इस अवसर पर उन्होंने “ महाकवि कालिदास की कृतियों का रचयिता कौन?(कालिदास या उनकी पत्नी काशी की राजकुमारी विदुषी विद्योत्तमा)” नामक प्रकाशनाधीन पुस्तक के कवर का लोकार्पण भी किया ।
91 वर्षीय डॉ सिंह ने कहा कि भारत जब आजाद हुआ था तब उनकी उम्र 16 साल थी और तब से लेकर उन्होंने सभी प्रधानमंत्रियों को देखा और उनके सम्पर्क में रहे चाहे पंडित जवाहरलाल नेहरू हों या नरेंद्र मोदी । साथ ही उन्होंने डॉ राजेंद्र प्रसाद से लेकर बाद के राष्ट्रपतियों को भी देखा। उन्होंने कहा कि पच्चहत्तर वर्ष अपने मुल्क को देखने के बाद वह अपने अनुभव से कह रहे हैं कि आजादी के समय जो भारत था वह बदल चुका है। देश में बहुत परिवर्तन हुए । उस समय दलितों और आदिवासियों के बारे में कोई सोचता तक नहीं था। उनकी कोई गिनती नहीं होती थी लेकिन आज इस बदलाव का नतीजा है कि देश के सर्वोच्च पद पर एक आदिवासी महिला आसीन है।
स्त्री शक्ति की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति में महिलाओं का बहुत सम्मान और आदर किया जाता रहा लेकिन भारतीय समाज में स्त्रियों को बराबरी के भाव से नहीं देखा गया और यह चिंता की बात है लेकिन अब स्तिथियाँ बदल रही हैं। लड़कियां शिक्षा के क्षेत्र में आगे आ रहीं हैं।
उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति में विद्या की देवी सरस्वती और धन की देवी लक्ष्मी तथा शक्ति की देवी महाकाली रही हैं। इतना ही नहीं महिषासुर का वध भी एक स्त्री दुर्गा ने किया था लेकिन भारतीय समाज में स्त्रियों को वह आदर और सम्मान तथा बराबरी का दर्जा नहीं मिला जिसकी वह हकदार है ।
संजीव
जारी वार्ता
More News
नीट में ग्रेस मार्क्स वाले 1563 उम्मीदवारों स्कोर-कार्ड रद्द

नीट में ग्रेस मार्क्स वाले 1563 उम्मीदवारों स्कोर-कार्ड रद्द

13 Jun 2024 | 12:20 PM

नयी दिल्ली,13 जून (वार्ता) मेडिकल स्नातक स्तर की पढ़ाई के लिए पांच मई को आयोजित की गई राष्ट्रीय पात्रता सह प्रवेश परीक्षा (नीट) 2024 के मामले में केंद्र सरकार ने गुरुवार को उच्चतम न्यायालय को बताया कि जिन 1563 उम्मीदवारों के ग्रेस मार्क्स दिए गए थे, उनके स्कोर-कार्ड रद्द करने का निर्णय लिया गया है और इसके साथ ही उन्हें दोबारा परीक्षा देने का विकल्प भी दिया गया है।

see more..
आतिशी ने उपराज्यपाल पर अभद्र टिप्पणी करने का लगाया आरोप

आतिशी ने उपराज्यपाल पर अभद्र टिप्पणी करने का लगाया आरोप

12 Jun 2024 | 11:31 PM

नयी दिल्ली 12 जून (वार्ता) दिल्ली की जलमंत्री आतिशी ने उपराज्यपाल वीके सक्सेना पर अभद्र टिप्पणी करने का आरोप लगाते हुए कहा है कि हमसे नफ़रत की वजह से दिल्ली वालों के हक़ का पानी मत रुकवाइये।

see more..
कुवैत आग दुर्घटनाः मृतक भारतीयों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये की अनुग्रह राशि देगी सरकार

कुवैत आग दुर्घटनाः मृतक भारतीयों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये की अनुग्रह राशि देगी सरकार

12 Jun 2024 | 11:13 PM

नयी दिल्ली 12 जून (वार्ता) सरकार ने कुवैत में आग दुर्घटना में मारे गए भारतीय श्रमिकों के परिजनों को दो-दो लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की है।

see more..
image