Sunday, Dec 17 2017 | Time 13:41 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • खाद्य तेल, चीनी, चना कमजोर, गुड़, गेहूँ मजबूत
  • हिंसा छोड़ मुख्यधारा में लौटा एक और युवक
  • शाहरूख को सबसे रोमांटिक हीरो मानती है करीना
  • शाहरूख को सबसे रोमांटिक हीरो मानती है करीना
  • शाहरूख को सबसे रोमांटिक हीरो मानती है करीना
  • शाहरूख को सबसे रोमांटिक हीरो मानती है करीना
  • सुचित्रा सेन और ऐश्वर्या राय के बाद ऋचा चड्ढा बनेगी पारो
  • सस्पेंस थ्रिलर बनायेंगे सिद्धार्थ राय कपूर
  • सस्पेंस थ्रिलर बनायेंगे सिद्धार्थ राय कपूर
  • दूरदर्शन पर एयर होस्टेस के जीवन पर कार्यक्रम का प्रसारण
  • सस्पेंस थ्रिलर बनायेंगे सिद्धार्थ राय कपूर
  • सस्पेंस थ्रिलर बनायेंगे सिद्धार्थ राय कपूर
  • सलमान-गोविंदा फिर बनेंगे पार्टनर!
  • सलमान-गोविंदा फिर बनेंगे पार्टनर!
  • ट्रक की चपेट में आने से युवक की मौत
भारत Share

तीन महीने में बनाना होगा भू संपदा नियामक प्राधिकरण

नयी दिल्ली 21 अप्रैल (वार्ता) केंद्र सरकार ने बहुचर्चित और महत्वपूर्ण भू संपदा (नियामक एवं विकास ) अधिनियम 2016 को अधिसूचित कर दिया गया है जिसके अनुसार सभी राज्यों को तीन महीने के भीतर भू संपदा नियामक प्राधिकरण का गठन करना होगा।
केंद्रीय आवास एवं शहरी गरीबी उन्मूलन मंत्रालय ने आज यहां बताया कि कल रात जारी की गयी अधिसूचना के अनुसार सभी राज्यों को एक मई से तीन महीने के भीतर भू संपदा नियामक प्राधिकरण बनाना होगा। मंत्रालय ने कहा है कि भवन निर्माता कंपनियों को अपनी चालू और नयी परियोजनाओं को इसी अवधि के भीतर प्राधिकरण के पास अनिवार्य रुप से पंजीकृत कराना होगा। इसी अवधि के भीतर एजेंटों को अपना पंजीकरण प्राधिकरण के पास कराना होगा। अभी तक केवल मध्यप्रदेश ने भू संपदा नियामक प्राधिकरण का गठन किया है।
फिलहाल 13 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने भू संपदा अधिनियम के तहत नियमावली जारी कर दी है और 15 ने इन्हें तैयार कर लिया है। इसके अलावा तीन राज्य गोवा, मणिपुर और पश्चिम बंगाल के बारे में कोई जानकारी नहीं है। सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश, मेघालय और नगालैंड ने इस संबंध में कानूनी राय मांगी है।
सत्या जितेन्द्र
जारी वार्ता
image