Tuesday, Jul 23 2024 | Time 17:57 Hrs(IST)
image
राज्य » जम्मू-कश्मीर


यासीन मलिक के मामले की समीक्षा और उस पर पुनर्विचार होना चाहिए: महबूबा

श्रीनगर, 27 मई (वार्ता) राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) द्वारा कश्मीरी अलगाववादी नेता एवं जम्मू-कश्मीर लिबरेशन फ्रंट (जेकेएलएफ) के प्रमुख यासीन मलिक के लिए मौत की सजा की मांग को लेकर दिल्ली उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाये जाने के एक दिन बाद पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने कहा कि इस मामले की समीक्षा और इस पर पुनर्विचार किया जाना चाहिए।
श्रीमती मुफ्ती के पूर्व पार्टी सहयोगी अल्ताफ बुखारी ने कहा कि देश की सुरक्षा को खतरा पैदा करने की कोशिश करने वालों के खिलाफ निवारक उपाय किए जाने चाहिए।
पीपुल्स कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष सज्जाद लोन ने एनआईए की याचिका को खतरनाक करार दिया।
एनआईए ने आतंकवादी फंडिंग मामले में दोषी ठहराए गए यासीन के लिए मौत की सजा की मांग करते हुए, शुक्रवार को दिल्ली उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया। न्यायालय सोमवार को इस मामले की सुनवाई करेगा। यासीन को इस मामले में दोषी ठहराए जाने के बाद, पिछले साल मई में विशेष एनआईए अदालत ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई
थी।
अपनी पार्टी के प्रमुख श्री बुखारी ने ट्वीट किया, “यासीन मलिक के लिए मौत की सजा की मांग करने वाली एनआईए की याचिका जम्मू-कश्मीर में आतंकवादी फंडिंग से निपटने के महत्व पर प्रकाश डालती है। हमें यह सुनिश्चित करना चाहिए कि न्याय कायम रहे और जो लोग हमारे देश की सुरक्षा को खतरे में डालने की कोशिश कर रहे हैं, उनके खिलाफ निवारक उपाय किए जाएं।”
श्रीमती मुफ्ती ने यासीन को लेकर श्री बुखारी के बयानों पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की और कहा कि नए राजनीतिक इख्वान (पाखण्डी) द्वारा उनकी फांसी का समर्थन हमारे सामूहिक अधिकारों के लिए एक गंभीर खतरा है।
उन्होंने ट्वीट कर कहा “भारत जैसे लोकतंत्र में जहां एक प्रधानमंत्री के हत्यारों को भी माफ कर दिया गया था, यासीन मलिक जैसे राजनीतिक कैदी के मामले की समीक्षा की जानी चाहिए और उस पर पुनर्विचार किया जाना चाहिए। उनकी फांसी का समर्थन करने वाला नया राजनीतिक इख्वान हमारे सामूहिक अधिकारों के लिए गंभीर खतरा है,।”
सज्जाद लोन ने यासीन पर एनआईए की याचिका को खतरनाक करार दिया। उन्होंने नेशनल कांफ्रेंस (नेकां) और पूर्व मुख्यमंत्री का नाम लिए बिना कहा कि यासीन मलिक जैसे युवाओं को हथियार उठाने के लिए प्रेरित करने के वास्ते पार्टी जिम्मेदार है।
जांगिड़, यामिनी
वार्ता
More News
स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रमों का सुचारू आयोजन सुनिश्चित करें अधिकारी: सिन्हा

स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रमों का सुचारू आयोजन सुनिश्चित करें अधिकारी: सिन्हा

23 Jul 2024 | 12:04 AM

श्रीनगर, 22 जुलाई (वार्ता) जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने सोमवार को जिला प्रशासन को प्रदेश में आगामी स्वतंत्रता दिवस समारोहों के सुचारू आयोजन के लिए सभी व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।

see more..
बारामूला में मानव तस्करी गिरोह से तीन और किशोरियों को बचाया गया

बारामूला में मानव तस्करी गिरोह से तीन और किशोरियों को बचाया गया

22 Jul 2024 | 7:48 PM

श्रीनगर, 22 जुलाई (वार्ता) जम्मू-कश्मीर के बारामूला जिले में पुलिस ने मानव तस्करी में कथित रूप से शामिल दो और लोगों को गिरफ्तार किया और तीन किशोरियों को बचाया है।

see more..
भारत और पाकिस्तान के कुछ लोग नहीं चाहते जम्मूू-कश्मीर में शांति: फारूक अब्दुल्ला

भारत और पाकिस्तान के कुछ लोग नहीं चाहते जम्मूू-कश्मीर में शांति: फारूक अब्दुल्ला

22 Jul 2024 | 7:45 PM

श्रीनगर, 22 जुलाई (वार्ता)जम्मू-कश्मीर के जम्मू संभाग में आतंकवादी हमलों में वृद्धि के बीच, नेशनल कॉन्फ्रेंस (नेकां) के अध्यक्ष फारूक अब्दुल्ला ने सोमवार को आरोप लगाया कि भारत और पाकिस्तान में कुछ लोग हैं जो जम्मू-कश्मीर में शांति नहीं चाहते हैं।

see more..
कारगिल युद्ध वीरता की गाथा, बहादुर सैनिकों का सर्वोच्च बलिदान:सिन्हा

कारगिल युद्ध वीरता की गाथा, बहादुर सैनिकों का सर्वोच्च बलिदान:सिन्हा

21 Jul 2024 | 11:07 PM

श्रीनगर 21 जुलाई (वार्ता) केन्द्र शासित प्रदेश जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने रविवार को अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम में कारगिल युद्ध के नायकों को श्रद्धांजलि अर्पित की और विजय दिवस को देश के बहादुर सैनिकों की शानदार वीरता और सर्वोच्च बलिदान की भावना की गाथा बताया।

see more..
अग्रवाल ने जम्मू फ्रंटियर का दौरा कर सुरक्षा की समीक्षा की

अग्रवाल ने जम्मू फ्रंटियर का दौरा कर सुरक्षा की समीक्षा की

21 Jul 2024 | 8:14 PM

जम्मू 21 जुलाई (वार्ता) सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के महानिदेशक (डीजी) नितिन अग्रवाल ने रविवार को जम्मू फ्रंटियर का दौरा किया और सुरक्षा स्थिति की समीक्षा की।

see more..
image