Friday, Jul 19 2019 | Time 21:50 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • वज्रपात से आठ बच्चों की मौत से लालजी टंडन मर्माहत
  • अरुणाचल प्रदेश में भूकंप के झटके
  • छात्रों और शिक्षकों पर लाठियां बरसाने से बेहतर नहीं होगी शिक्षा : उपेंद्र
  • नीतीश ने वज्रपात से आठ बच्चों की मौत पर जताया शोक, मुआवजे की घोषणा
  • प्रियंका को सोनभद्र जाने से रोकने के खिलाफ वाराणसी में कांग्रेस का प्रदर्शन
  • लखनऊ में सड़को की खुदाई ,गंदगी एवं नालों को लेकर उच्च न्यायालय सख्त
  • जगमग हुआ सफदरजंग मकबरा
  • बागपत में अवकाश प्राप्त वृद्ध कर्मचारी की हत्या से हडकंप
  • नाइजीरिया में संघर्ष, 16 लोगों की मौत
  • ठुकराये जाने पर की थी लड़की की हत्या, मिली उम्रकैद की सजा
  • उप्र में छुट्टा पशुओं के मामले में उच्च न्यायालय सख्त
  • विवेक कुमार बने प्रधानमंत्री के निजी सचिव
  • फाेटो कैप्शन: तीसरा सेट
  • ब्रिटेन में एक वर्ष में जितने अनाज का उपभोग किया जाता है उतना भारत में सड़ता है
  • बहराइच में ट्रैक्टर-ट्राली पलटने से महिला समेत दो की मृत्यु,आठ घायल
राज्य


आषाढ़ अमावस्या पर लाखों श्रद्धालुओं ने मंदाकिनी में लगाई डुबकी

आषाढ़ अमावस्या पर लाखों श्रद्धालुओं ने मंदाकिनी में लगाई डुबकी

चित्रकूट, 13 जुलाई (वार्ता) उत्तर प्रदेश के पौराणिक एवं ऐतिहासिक तीर्थ स्थल चित्रकूट में शुक्रवार को हल हरणी आषाढ़ अमावस्या का पावन पर्व धूमधाम से मनाया गया तथा 10 लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने मंदाकिनी नदी में डुबकी लगाकर कामदगिरि की परिक्रमा लगाई।

पुलिस के अनुसार भारी भीड़ के चलते 13 लोग गहरे पानी में चले गए थे जिनको पुलिस के गोताखोरों ने सकुशल बाहर निकाल लिया है।

मेला अधिकारी के अनुसार प्रातः काल से ही श्रद्धालुओं का जमावड़ा राम घाट एवं राघव प्रयाग घाट में लग गया था और श्रद्धालुओं ने मंदाकिनी में डुबकी लगाकर मत्तगयेनद्र शंकर भगवान को जल चढ़ाकर कामदगिरि की परिक्रमा लगाई।

उन्होंने बताया कि गुप्त गोदावरी, अनुसूइया जी ,स्फटिक शिला, जानकी कुंड, हनुमान धारा में भारी भीड़ दिखाई दी। गुप्त गोदावरी में अत्यधिक भीड़ बढ़ जाने के कारण गुफा में कई श्रद्धालु फंस गए थे जिन्हें लोगों और वहां के कर्मचारियों ने सकुशल बाहर निकाल लिया।

सं तेज

वार्ता

image