Thursday, May 28 2020 | Time 10:07 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • महाराष्ट्र-तमिलनाडु में कोरोना से अब तक 75493 संक्रमित, 2030 की मौत
  • औरंगाबाद में कोरोना के 35 नये मामले, संक्रमितों की संख्या 4000 के करीब
  • देश में कोरोना संक्रमण के नये मामले फिर बढ़े, संक्रमितों की संख्या 1 58 लाख पर
  • विश्व में कोरोना संक्रमितों की संख्या 57 लाख के करीब, 3 55 लाख लोगों की मौत
  • केरल में मछुआरों को समुद्र से दूर रहने की सलाह
  • चीन ने की मेंग को हिरासत में लिये जाने की निंदा
  • कोरोना काल में विदेशी विद्वानों ने किया प्रेमचंद को याद
  • आज का इतिहास (प्रकाशनार्थ 29 मई)
  • अमेरिका रुस को 150 और वेंटिलेंटर भेजेगा
  • कोरोना वायरस से दुनियाभर में 3 49 लाख लोगों की मौत
  • ओमान में कोरोना संक्रमितों की संख्या बढ़कर 8373 हुई
  • अमेरिका में कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा एक लाख के पार पहुंचा
  • तुर्की में कोरोना के 1035 मामले सामने आए
  • पोंपियो ने इंडोनेशिया के विदेश मंत्री से आर्थिक सहयोग पर की चर्चा
लोकरुचि


59 वर्ष के हुये संजय दत्त

..जन्म दिन 29 जुलाई के अवसर पर ..
मुंबई 29 जुलाई(वार्ता) बॉलीवुड में संजय दत्त का नाम उन गिने चुनेअभिनेताओं में शुमार किया जाता है जिन्होंने लगभग तीन दशक से अपने दमदार अभिनय से दर्शकों के दिल में आज भी एक ख़ास मुकाम बना रखा है।
संजय दत्त को फिल्म इंडस्ट्री में आये लगभग तीन दशक बीत चुके है लेकिन इसके बाद भी वह हर फिल्म से अभिनय के नये शिखर को छूते जा रहे है और काम के प्रति उनका समर्पण बरकरार है। संजय दत्त अपनी हर नयी फिल्म को अपनी पहली फिल्म मानते है. इसी कारण वह अपने काम के प्रति लापरवाह नहीं होते और यही वजह है कि उनकी मांग आज भी बरकरार है।
मुंबई में 29 जुलाई 1959 को जन्में संजय दत्त को अभिनय की कला विरासत में मिली। उनके पिता सुनील दत्त अभिनेता और मां नरगिस जानी मानी फिल्म अभिनेत्री थी। घर में फिल्मी माहौल रहने के कारण संजय दत्त अक्सर अपनी माता-पिता के साथ शूटिंग देखने जाया करते थे। इस वजह से उनका भी रूझान फिल्मों की ओर हो गया और वह भी अभिनेता बनने के ख्वाब देखने लगी। संजय दत्त ने बतौर बाल कलाकार अपने सिने करियर की शुरूआत अपने पिता के बैनर तले बनी फिल्म रेशमा और शेरा . से की।बतौर अभिनेता उन्होंने अपने करियर की शुरूआत वर्ष 1981 में प्रदर्शित फिल्म ‘रॉकी’ से की। दमदार निर्देशन, पटकथा और गीत-संगीत के कारण फिल्म टिकट खिड़की पर सुपरहिट साबित हुयी ।
प्रेम.संजय
जारी.वार्ता
More News
लाकडाउन ने नट समुदाय को समझाया जड़ का महत्व

लाकडाउन ने नट समुदाय को समझाया जड़ का महत्व

27 May 2020 | 8:49 PM

मुरादाबाद 26 मई (वार्ता) वैश्विक महामारी कोविड-19 के कारण जारी लाकडाउन ने लोगों के जीने के अंदाज को बदल दिया है और इसमें नट समुदाय भी अछूता नहीं है।

see more..
कई कारोबारियों के बिजनेस पार्टनर है ‘ठाकुर’

कई कारोबारियों के बिजनेस पार्टनर है ‘ठाकुर’

25 May 2020 | 5:24 PM

मथुरा 25 मई (वार्ता) व्यापार को चमकाने के लिए ‘ठाकुर’ को ’बिजनेस पार्टनर’ बनाने की निराली परंपरा भक्तों द्वारा ब्रज के मंदिरों में लम्बे समय से अपनाई जा रही है।

see more..
महोबा में जागरूकता अभियान के साथ अनूठे अंदाज में मनाई गई आल्हा की जयंती

महोबा में जागरूकता अभियान के साथ अनूठे अंदाज में मनाई गई आल्हा की जयंती

25 May 2020 | 12:55 PM

महोबा, 25मई (वार्ता) उत्तर प्रदेश के महोबा में बारहवीं शताब्दी के महान योद्धा चंदेल सेनानायक, महाबली आल्हा की जयंती सोमवार को कोरोना जागरूकता अभियान के साथ अनूठे अंदाज में मनाई गई।

see more..
प्रकृति की खातिर हर साल 21 दिन का लॉकडाउन जरूरी: पर्यावरणविद

प्रकृति की खातिर हर साल 21 दिन का लॉकडाउन जरूरी: पर्यावरणविद

24 May 2020 | 4:01 PM

इटावा, 24 मई (वार्ता) कोरोना संक्रमण के चलते देशव्यापी लाकडाउन ने सरकार और आम आदमी की मुश्किलों में इजाफा किया है लेकिन आपदा की इस घड़ी ने प्रकृति के सौंदर्य को बरकरार रखने के लिये नियमित अंतराल में मानव दखलदांजी पर रोक लगाने को लेकर एक नयी बहस को जन्म दे दिया है।

see more..
लाकडाउन ने कछुओं को दिया वंश वृद्धि का मौका

लाकडाउन ने कछुओं को दिया वंश वृद्धि का मौका

22 May 2020 | 10:03 PM

इटावा 22 मई (वार्ता) वैश्विक महामारी कोविड-19 के कारण जारी लाकडाउन ने कलकल बहती चंबल नदी में विचरण करते दुर्लभ प्रजाति के कछुओं को सुरक्षित प्रजनन का मौका दे दिया है।

see more..
image