Wednesday, Feb 20 2019 | Time 14:37 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • जीएसटीआर 3बी भरने की अंतिम तिथि दो दिन बढ़ी
  • राज्यों के विरोध के कारण जीएसटी परिषद की बैठक अब 24 फरवरी को
  • सोना 210 रुपये सस्ता; चाँदी 450 रुपये चमकी
  • खोसा का झूठी गवाही देने वालों को उम्र कैद के संकेत
  • एरिक्सन मामला: अनिल अम्बानी अवमानना के दोषी
  • राजनाथ से मिले अमेरिका, पाकिस्तान में भारतीय मिशन प्रमुख
  • त्रिपुरा में मोटर चालित पैडल रिक्शा पर लगा प्रतिबंध
  • खनन में स्वच्छ प्रौद्योगिकी विकसित करने की जरूरत : कोविंद
  • पुलवामा मुठभेड़ में घायल जवान की मौत
  • रुपये की संदर्भ दर
  • डॉलर टूटा;पाउंड,यूरो मजबूत
  • चेन्नई सर्राफा के शुरुआती भाव
  • गुटेरेस ने भारत-पाक के बीच तनाव पर जताई चिंता मध्यस्थता की पेशकश
  • स्टार्टअप के लिए राज्यों की रैंकिंग प्रक्रिया शुरू
  • विपक्ष के हंगामे के कारण विधानसभा की कार्यवाही स्थगित
लोकरुचि Share

भगवान महाकालेश्वर की निकली आज पहली सवारी

भगवान महाकालेश्वर की निकली आज पहली सवारी

उज्जैन, 30 जुलाई (वार्ता) मध्यप्रदेश के उज्जैन में श्रावण एवं भादौ महिने में परपंरागत रूप से निकलने वाली भगवान श्री महाकालेश्वर की आज श्रावण माह में पहली सवारी बडे़ ही शाही ठाटबांट से निकली।



श्रावण मास के आज पहले सोमवार को भगवान श्री मनमहेश पालकी में सवार होकर उज्जयिनी के भ्रमण पर अपनी प्रजा को दर्शन देने के लिए निकले। इसके पहले भगवान की मंदिर के सभामंडप में विधिवत पूजन-अर्चन की गई। पालकी जैसे ही मंदिर के मुख्य द्वार पर पहुंची, सशस्त्र पुलिस बल के जवानों द्वारा भगवान को सलामी दी गई। पालकी को कांधा देकर नगर भ्रमण के लिए रवाना किया गया।



शिव की इस नगरी में श्रावण के प्रथम सोमवार पर दर्शन करने वालों की काफी भीड जमा थी। मंदिर में भगवान के दर्शन के लिये दर्शनार्थी बेरिकेट्स में कतार लगे हुए खड़े थे। हालांकि जिला प्रशासन एवं मंदिर प्रबंध समिति ने देश के विभिन्न प्रांतो से यहां आने वाले लाखों दर्शनार्थियो की सुविधा एवं सुरक्षा के लिये व्यापक इंतजाम किये गयें है। मंदिर के आसपास नोव्हीकल जोन बनाया गया एवं सवारी मार्ग के आसपास पर बेरिकेट्स लगाये गयें।



भगवान महाकालेश्वर की सवारी जैसे ही पवित्र क्षिप्रा नदी के रामघाट पहुँची श्रद्धालुओं द्वारा हर-हर महादेव, जय महाकाल से वातावरण गूंज उठा। सूर्यास्त के समय मोक्षदायिनी मां शिप्रा के पावन जल से भगवान का जलाभिषेक किया गया। सवारी मार्ग पर हजारों की संख्या में श्रद्धालुओं ने भगवान पर पुष्पवर्षा किया। भगवान श्री महाकालेश्वर का षोड़शोपचार से पूजन और जलाभिषेक मुख्य पुजारी आशीष गुरु द्वारा किया गया। पूजन के पश्चात पुरोहितों द्वारा रुद्रपाठ किया गया।

नदी के सामने स्थित दत्त अखाड़े द्वारा परम्परानुसार भगवान श्री महाकालेश्वर की पूजा और आरती की गई। इस दौरान पूरा प्रशासकीय अमला मौजूद था। प्रशासन की ओर से पूरी चाक-चौबन्द व्यवस्था की गई थी, ताकि श्रद्धालुओं को सुगमता से भगवान के दर्शन हो सकें। इसके पश्चात पुलिस दल द्वारा भगवान की पालकी को सलामी दी गई और पालकी अपने निर्धारित मार्ग से होते हुए श्री महाकाल मंदिर की ओर रवाना हुई।

सं नाग

वार्ता

More News
राजधानी पटना में अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त राकबैंड करेंगे परफाॅर्म

राजधानी पटना में अंतर्राष्ट्रीय ख्याति प्राप्त राकबैंड करेंगे परफाॅर्म

12 Feb 2019 | 10:47 AM

पटना 12 फरवरी (वार्ता) राजधानी पटना में अंतर्राष्ट्रीय स्तर के रॉकबैंड पाटिलीपुत्रा ओपन एयर तले परफाॅर्म करने जा रहे हैं।

 Sharesee more..
आकर्षक तरीके से दे रही है टीकाकरण कराने संदेश

आकर्षक तरीके से दे रही है टीकाकरण कराने संदेश

12 Feb 2019 | 10:08 AM

बड़वानी, 12 फरवरी (वार्ता) मध्यप्रदेश के बड़वानी से कुछ दूर बड़वानी खुर्द की ए एन एम चंद्रलता सोलंकी निराले अंदाज में टीकाकरण का संदेश देकर आकर्षण का केंद्र बिंदु बनी हुई है।

 Sharesee more..
औरंगाबाद में देव सूर्य महोत्सव का आयोजन कल से

औरंगाबाद में देव सूर्य महोत्सव का आयोजन कल से

11 Feb 2019 | 4:44 PM

औरंगाबाद 11 फरवरी (वार्ता) बिहार में औरंगाबाद जिले के ऐतिहासिक पौराणिक और धार्मिक स्थल देव को पर्यटन के राष्ट्रीय मानचित्र पर सुस्थापित करने तथा देसी-विदेशी सैलानियों को आकर्षित करने के उद्देश्य से दो दिवसीय देव सूर्य महोत्सव का आयोजन कल से शुरू होगा।

 Sharesee more..
तितलियों ने चंबल घाटी में बिखेरी इंद्रधनुषी छटा

तितलियों ने चंबल घाटी में बिखेरी इंद्रधनुषी छटा

05 Feb 2019 | 4:43 PM

इटावा, 05 फरवरी (वार्ता) शहरीकरण की अंधाधुंध रफ्तार के बीच लगभग गायब हो चुकी रंग बिरंगी तितलियों ने चंबल घाटी को सतरंगी बना रखा है।

 Sharesee more..
image