Wednesday, Jan 22 2020 | Time 22:59 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • आईईडी भेजने के आरोप में बीएसएफ जवान गिरफ्तार
  • तुर्की में विफल तख्ता पलट मामलेे में 131 को सजा
  • हवाई अड्डे पर बम रखने का आरोपी मेंगलुरु पुलिस के हवाले
  • ट्रंप के शीघ्र पाकिस्तान दौरे की संभावना : कुरैशी
  • दहेज में बाइक नहीं देने पर विवाहिता की हत्या
  • हेमंत ने सात ग्रामीणों की हत्या की जांच के लिए दिया एसआईटी गठित करने का आदेश
  • फोटो कैप्शन तीसरा सेट
  • महिला सशक्तीकरण पर आधारित फिल्म है ‘छोटकी ठकुराइन’
  • महाराष्ट्र ने 256 पदकों के साथ बरकरार रखा अपना खिताब
  • महाराष्ट्र ने 256 पदकों के साथ बरकरार रखा अपना खिताब
  • मनोरंजन संग संदेश देगी ‘शुभ मंगल ज्यादा सावधान’ : आयुष्मान
  • राजपथ पर दिखेगी यूपी के सर्वधर्म समभाव की झलक
  • पटना में बनेगा 25 हजार अभ्यर्थियों के बैठने की क्षमता वाला परीक्षा केंद्र
लोकरुचि


हरियाली तीज पर चित्रकूट में उमड़ा आस्था का सैलाब

हरियाली तीज पर चित्रकूट में उमड़ा आस्था का सैलाब

चित्रकूट 1 अगस्त (वार्ता) उत्तर प्रदेश की पौराणिक नगरी चित्रकूट में गुरूवार को हरियाली अमावस्या के पावन पर्व के मौके पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच 15 लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने मंदाकिनी नदी में आस्था की डुबकी लगायी और कामदगिरि की परिक्रमा की।

पौराणिक तीर्थ स्थल पर तड़के से ही श्रद्धालुओं का जमावड़ा शुरू हो गया था। श्रद्धालुओं ने मंदाकिनी नदी में डुबकी लगाकर कामदगिरि की परिक्रमा लगाई। लोगों ने जगह-जगह श्रद्धालुओं के लिए भंडारों का भी आयोजन किया।

मुख्य द्वार के संत मदन दास ने बताया कि आज के दिन मंदाकिनी नदी में डुबकी लगाकर कामदगिरि की परिक्रमा लगाने से मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है। किसानों को बेहतर खेती मिलती है वहीं व्यापारियों को व्यापार में लाभ मिलता है।

पौराणिक मान्यताओं के अनुसार अनादि काल से लोग बड़े भाव से मंदाकिनी में डुबकी लगाकर कामदगिरि की परिक्रमा लगाते हैं और अन्न दान करते हैं। आज दंडवती(लेटलेट कर) परिक्रमा लगाने वालों की भी भारी भीड़ दिखाई पड़ी जिसमें महिलाओं की भी संख्या खूब रही। प्रशासन द्वारा दंडवती परिक्रमा लगाने वालो के लिए अलग से व्यवस्था की गई है। जिससे लेट लेट कर परिक्रमा लगाने वालों को काफी सुविधा दिखाई पड़ी।

मंदाकिनी नदी रामघाट के ऊपर बने अनादि मत्यगयेन्द्र (शंकर भगवान) जी के मंदिर में भी जबरदस्त भीड़ दिखाई पड़ी। प्रशासनिक आंकड़ों के मुताबिक आज करीब दो लाख से अधिक श्रद्धालुओं ने शंकर जी पर जल चढ़ाया। मंदिर के व्यवस्था पुजारी प्रदीप कुमार ने बताया कि यह अनादि मंदिर है जब भगवान ब्रह्मा जी ने सृष्टि की रचना की थी तब उन्होंने अपने हाथ से भगवान शिव के लिंग की स्थापना करने के बाद सृष्टि की रचना प्रारंभ की थी यह वही अनादि शिवलिंग है।

जिलाधिकारी शेषमणि पांडे और पुलिस अधीक्षक मनोज कुमार झा लगातार मेला क्षेत्र में मौजूद रहे उन्होंने वहां रहकर प्रबंधन का कार्य देखा।

सं प्रदीप

वार्ता

More News
पर्यटको की आमद से इटावा सफारी पार्क हुआ गुलजार

पर्यटको की आमद से इटावा सफारी पार्क हुआ गुलजार

17 Jan 2020 | 4:56 PM

इटावा, 17 जनवरी (वार्ता)उत्तर प्रदेश में चंबल के बीहड़ों में स्थित इटावा सफारी पार्क पर्यटकों को खूब भा रहा है। सफारी पार्क में गत 25 नंबवर से 15 जनवरी तक 34 हजार से अधिक पर्यटको ने अपनी मौजूदगी से सुखद एहसास कराया है।

see more..
योगी ने गोरखनाथ मंदिर में चढ़ायी खिचड़ी

योगी ने गोरखनाथ मंदिर में चढ़ायी खिचड़ी

15 Jan 2020 | 6:50 PM

गोरखपुर 15 जनवरी (वार्ता) सूर्य के बुधवार तड़के मकर राशि में प्रवेश के साथ ही नाथ सम्प्रदाय के प्रसिद्ध शिवावतारी गोरक्षनाथ मंदिर में परम्परागत रूप से खिचड़ी चड़ाने का क्रम शुरू हो गया है।

see more..
बिहार में धूमधाम से मनायी जा रही मकर संक्रांति

बिहार में धूमधाम से मनायी जा रही मकर संक्रांति

15 Jan 2020 | 11:11 AM

पटना 15 जनवरी (वार्ता) बिहार में मकर संक्राति का पर्व धूमधाम से मनाया जा रहा है।

see more..
आध्यात्म, वैराग्य और ज्ञान की ऊर्जा सतत प्रवाहित होती है संगम की रेत में

आध्यात्म, वैराग्य और ज्ञान की ऊर्जा सतत प्रवाहित होती है संगम की रेत में

13 Jan 2020 | 4:59 PM

प्रयागराज, 13 जनवरी (वार्ता) पतित पावनी गंगा, श्यामल यमुना और अन्त:सलीला स्वरूप में प्रवाहित सरस्वती के त्रिवेणी की रेत वैराग्य, ज्ञान और आध्यात्मिक शक्ति से ओतप्रोत है।

see more..
मकर संक्रांति के दिन पतंग उड़ाने की परंपरा आज भी है बरकरार

मकर संक्रांति के दिन पतंग उड़ाने की परंपरा आज भी है बरकरार

13 Jan 2020 | 12:51 PM

पटना,13 जनवरी (वार्ता) मकर संक्रांति के दिन उमंग, उत्साह और मस्ती का प्रतीक पतंग उड़ाने की लंबे समय से चली आ रही परंपरा मौजूदा दौर में काफी बदलाव के बाद भी बरकरार है।

see more..
image