Sunday, Dec 8 2019 | Time 03:39 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • कर्नाटक में भूस्खलन, तीन श्रमिकों की मौत, एक घायल
  • फ्रांस में पुलिस ने 13 लोगों को हिरासत में लिया
  • चीन में ट्रक पलटने से सात की मौत, दो घायल
  • सर्विस मेंबर ने ईरान में तीन पुलिसकर्मिया की हत्या की
  • अमेरिका और तालिबान के बीच शांति वार्ता दोबारा शुरू
  • सेवानिवृत न्यायाधीश की सुरक्षा वापस ली गयी
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


प्रजापति और कावरे ने स्वतंत्रता दिवस की प्रदेशवासियों को दी बधाई

भोपाल, 14 अगस्‍त (वार्ता) मध्‍यप्रदेश विधानसभा के अध्‍यक्ष एन.पी. प्रजापति तथा उपाध्‍यक्ष हिना कावरे ने 73 वें स्‍वाधीनता दिवस पर प्रदेश वासियों को शुभकामनाएं दी हैं।
विधानसभा अध्‍यक्ष श्री प्रजापति ने प्रदेशवासियों को स्‍वतंत्रता दिवस की शुभकामनाएं देते हुए कहा है कि स्‍वतंत्रता दिवस हमें उन बलिदानियों की याद दिलाता है, जिन्‍होंने देश की स्‍वाधीनता के लिए अपने प्राणों की आहुति दी है। हमें उन्‍हीं अमर सेनानियों के सपनों को साकार करने के लिए अपने आप में राष्‍ट्रीयता की भावना को जागृत करना होगा।
विधानसभा उपाध्‍यक्ष सुश्री कावरे ने स्‍वतंत्रता दिवस पर अपने संदेश में कहा है कि इस अवसर पर हमें आपसी प्रेम, भाईचारे और परस्‍पर सहयोग की भावना के साथ मिल-जुल कर देश के साहसी सपूतों के सपनों को साकार करने का संकल्‍प लेना होगा ताकि हम देश की स्‍वतंत्रता को अक्षुण्‍ण बनाकर उसे प्रगति के पथ पर आगे ले जा सकें।
विधानसभा अध्‍यक्ष कल नरसिंहपुर जिला मुख्‍यालय में आयोजित स्‍वतंत्रता दिवस समारोह में राष्‍ट्रीय ध्‍वज फहराएंगे। विधानसभा अध्‍यक्ष को गार्ड ऑफ ऑनर दिया जायेगा, तदुपरांत वे परेड का निरीक्षण कर सलामी लेंगे।
मध्‍यप्रदेश विधानसभा सचिवालय में स्‍वाधीनता दिवस (15 अगस्‍त) को प्रात: आठ बजे ध्‍वजारोहण होगा। विधानसभा के प्रमुख सचिव ए.पी. सिंह सचिवालय प्रांगण में ध्‍वाजारोहण करेंगे तथा परेड की सलामी लेंगे। स्‍वतंत्रता दिवस के अवसर पर विधानसभा भवन को आकर्षक रोशनी से सजाया गया है।
बघेल
वार्ता
More News
युवा देश में सकारात्मक बदलाव लाने की चुनौती स्वीकारें-कमलनाथ

युवा देश में सकारात्मक बदलाव लाने की चुनौती स्वीकारें-कमलनाथ

07 Dec 2019 | 10:39 PM

इन्दौर, 07 दिसम्बर (वार्ता) मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि विद्यार्थियों और युवा वर्ग के सामने आज विश्व के निरंतर बदलते परिदृश्य में नयी चुनौतियां हैं। ग्राम्य भारत उनकी ओर आशाओं भरी दृष्टि से देख रहा है। वे देश में सकारात्मक बदलाव लाने की चुनौती स्वीकार करें और इसी के अनुरूप कार्य करें।

see more..
image