Friday, Aug 23 2019 | Time 14:15 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मनमोहन ने राज्यसभा सदस्य के रूप में ली शपथ
  • आईएनएक्स मीडिया: ईडी मामले में चिदम्बरम को अंतरिम संरक्षण
  • मोदी को खलनायक की तरह पेश करना गलत: सिंघवी
  • पाकिस्तान के रेलमंत्री शेख रशीद पर लंदन में अंडे फेंके गए
  • आईएनएक्स मीडिया: चिदम्बरम की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में सोमवार को सुनवाई
  • बंगाल में भगदड़ से चार लोगों की मौत, 26 घायल
  • मोदी शुक्रवार को यूएई की यात्रा पर जाएंगे
  • तीन तलाक: केंद्र सरकार को सुप्रीम कोर्ट का नोटिस
  • लघु उद्योगों के प्रोत्साहन से अर्थव्यवस्था होगी मजबूत
  • अफगानिस्तान में तीन पुलिसकर्मी, पांच आंतकवादी मारे गये
  • डिजिटल प्रौद्योगिकी पर फ्रांस,भारत के बीच समझौता
  • छह-सात महीनों में करीब 55 प्रतिशत अपराध बढे-कटारिया
  • ‘पूजो’ के मूड में नजर आने लगा बंगाल
  • केंद्र सरकार को सुप्रीम कोर्ट का नोटिस
  • तीन तलाक मामला: सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र को जारी किया नोटिस
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


खेल अधिकारी की नियुक्ति के मामले में नोटिस जारी

जबलपुर, 14 अगस्त (वार्ता) मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय ने खेल एवं युवा कल्याण विभाग में पदस्थ एक अधिकारी की नियुक्ति को लेकर दायर याचिका के सिलसिले में आज खेल एवं युवा कल्याण विभाग तथा उच्च शिक्षा विभाग के सचिवों के अलावा संबंधित अधिकारी को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है।
न्यायाधीश संजय द्विवेदी की एकलपीठ ने इस मामले में अगली सुनवायी के लिए 30 सितंबर की तिथि निर्धारित की है।
भोपाल निवासी एक व्यक्ति रामगोपाल की ओर से दायर याचिका में खेल एवं युवा कल्याण विभाग के संयुक्त संचालक विनोद प्रधान की नियुक्ति को चुनौती दी गयी है। इसमें कहा गया है कि श्री प्रधान उच्च शिक्षा विभाग में सहायक प्राध्यापक थे, लेकिन उनकी नियुक्ति नियम विरूद्ध तरीके से खेल एवं युवा कल्याण विभाग में की गयी है। श्री प्रधान के मामले में ऐसा उनकी पारिवारिक राजनैतिक पृष्ठभूमि के चलते किया गया है।

याचिका में खेल एवं युवा कल्याण विभाग तथा उच्च शिक्षा विभाग के सचिवों के अलावा श्री प्रधान को अनावेदक बनाया गया है। प्रारंभिक सुनवाई के बाद न्यायालय ने अनावेदकों को नोटिस जारी कर जवाब पेश करने के निर्देश दिये हैं।
सं प्रशांत
वार्ता
image