Tuesday, Aug 11 2020 | Time 22:00 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • मिजोरम में डॉक्टर विधायक ने कराई गर्भवती महिला की डिलीवरी
  • बंगाल में कोरोना मामले एक लाख के पार, 2149 की मौत
  • पटना जजशिप में 12 अगस्त से ऑनलाइन सुनवाई शुरू
  • मथुरा में 50 और कोरोना संक्रमित मिले,संख्या 1250 पहुंची
  • कोरोना मामले 23 22 लाख के पार, 16 33 लाख से अधिक स्वस्थ
  • श्रीकृष्ण आज ही जेल में जन्म लिये थे और आप बाहर जाना चाहते हैं : सीजेआई
  • पश्चिम चंपारण में सिकरहना नदी में डूबने से दो बच्चों की मौत
  • नीतीश ने मशहूर शायर राहत इंदौरी के निधन पर जताया शोक
  • कोरोना वैक्सीन को मंजूरी देने वाला पहला देश बना रूस; एक जनवरी से होगी उपलब्ध
  • दुमका में सड़क हादसे में मां-बेटा समेत तीन की मौत
  • स्टुअर्ट ब्रॉड पर उनके पिता क्रिस ब्रॉड ने लगाया जुर्माना
  • 1118 नये मामले, 23 मौतें, 1140 और हुए स्वस्थ, सक्रिय मामलों में कमी का सिलसिला जारी
  • देश में कोरोना मामले 23 लाख के पार, 16 33 लाख से अधिक स्वस्थ
  • भाषाएं हमें समृद्ध करती हैं :बिरला
  • भारतीय संविधान की पवित्रता को बनाए रखना हम सभी की ज़िम्मेदारी
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


जैन ने किया कोयला खदानों का अवलोकन

कोरबा 27 नवम्बर (वार्ता) केन्द्र सरकार के कोयला सचिव अनिल कुमार जैन ने आज कोल इंडिया की दीपका एवं गेवरा कोयला खदानों का अवलोकन किया।
श्री जैन ने सबसे पहले दीपका खदान देखी। इसके बाद वे गेवरा माइंस पहुंचे और व्यू पाइंट से खदान का जायजा लिया। इस दौरान उन्होंने खदान के भीतर पहुंचकर उत्पादन की स्थिति देखी। एसईसीएल के अधिकारियों ने नक्शे के जरिए खदान के प्रोडक्शन व डिस्पेच की जानकारी दी। कोल सेक्रेटरी ने सेलो का भी निरीक्षण किया और लोडिंग का कार्य देखा।
उन्होंने गेवरा हाउस में एसईसीएल की सभी परियोजनाओं के महा प्रबंधकों की बैठक ली। वे कल कुसमुण्डा खदान का निरीक्षण करेगे।
देश व राज्य के विद्युत संयंत्रों को अनुबंध के अनुरूप कोयला नहीं मिल रहा है। ईंधन की कमी के कारण कई बिजलीघरों से उत्पादन घट गया है। इधर, कोयला मंत्रालय ने 2024 तक एक बिलियन टन कोल प्रोडक्शन का टारगेट रखा है। इस प्रवास को बिजलीघरों को आवश्यकता के अनुरूप कोयला की उपलब्धता सुनिश्चित करने की दृष्टि से महत्वपूर्ण माना जा रहा है।
सं नाग
वार्ता
image