Sunday, Jan 19 2020 | Time 18:55 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • यूपी के खिलाफ दिल्ली की पकड़ मजबूत
  • सिरसा में महिला, बालक के शव मिले
  • बर्फबारी से अपनी ही शादी में नहीं पहुंच सका जवान
  • यशस्वी, प्रियम और ध्रुव के अर्धशतक
  • यशस्वी, प्रियम और ध्रुव के अर्धशतक
  • आरिफ खान ने केरल सरकार से सीएए को लेकर रिपोर्ट मांगी
  • मुजफ्फरनगर के छात्र की लखनऊ सड़क दुर्घटना में मृत्यु
  • निर्भया: पवन के एक और दाव पर सोमवार को सुनवाई
  • हलवा रस्म के साथ कल से बजट की छपाई होगी शुरू
  • नागरिकता (संशोधन) कानून की आवश्यकता नहीं : शेख हसीना
  • नैनीताल में धुंए से दम घुटने से मां, बेटे की मौत
  • बुलंदशहर में अवैध वूसली के आरोप में दो पुलिसकर्मी निलंबित
  • मुख्यमंत्री से कोई विवाद नहीं है : विज
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


सभी को बेहतर चिकित्सा सेवा मिले, यही हमारी कोशिश:कमलनाथ

इंदौर, 07 दिसम्बर (वार्ता) मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने यहां जिले के ग्राम निपानिया में संजीवनी क्लीनिक का शुभारंभ करते हुए कहा कि स्वास्थ्य सुविधाओं के क्षेत्र में अनेक चुनौतियाँ हैं। इसके बावजूद हमारी कोशिश है कि सभी को बेहतर चिकित्सा सुविधा मिले। इसलिये पूरे प्रदेश में ऐसी बस्तियों में संजीवनी क्लीनिक खोले जा रहे हैं, जो स्वास्थ्य संस्थाओं से बहुत अधिक दूरी पर स्थित हैं।
श्री कमलनाथ ने कहा कि आज एक बड़ी चुनौती नौजवानों के भविष्य को सुरक्षित करना है। नौजवानों में तड़प है व्यवसाय करने की। उन्होंने कहा कि इस बात को ध्यान में रखकर प्रदेश में निवेश के माध्यम से आर्थिक गतिविधियाँ बढ़ाने के प्रयास किये जा रहे हैं क्योंकि निवेश ही आर्थिक गतिविधियाँ बढ़ाने का सशक्त जरिया है। उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी निवेश बढ़ेगा क्योंकि निवेश, विश्वास चाहता है। उन्होंने किसानों की क्रय शक्ति बढ़ाने की प्रतिबद्धता दोहराई।
उन्होंने लोगों से कहा कि मैं घोषणा नहीं करता हूँ, मैं चाहता हूँ कि आप लोग घोषणा करें। मुझे आपका सर्टिफिकेट चाहिए कि काम हो गया है। उन्होंने कहा कि हम ऐसे मध्यप्रदेश का निर्माण करने के लिये तत्पर हैं, जहाँ के रहवासी प्रदेश पर गर्व करें।
लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री तुलसीराम सिलावट ने कहा कि समाज के अंतिम व्यक्ति तक नि:शुल्क स्वास्थ्य सेवाएँ मुहैया कराना मुख्यमंत्री की प्राथमिकताओं में शामिल है। इसलिये स्वास्थ्य विभाग के बजट में 33 प्रतिशत वृद्धि की गई है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में स्वास्थ्य का अधिकार अधिनियम लागू करने का निर्णय मुख्यमंत्री की सकारात्मक सोच का परिणाम है।
उन्होंने बताया कि मोहल्ला क्लीनिक योजना के अंतर्गत पहले चरण में इंदौर, सागर, ग्वालियर और जबलपुर में आज संजीवनी क्लीनिक शुरू किये गए हैं। दूसरे चरण में शेष संभागों में संजीवनी क्लीनिक शुरू किये जाएंगे।
मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने शुभारंभ समारोह में संजीवनी सामग्री का विमोचन किया और क्लीनिक के कक्षों का अवलोकन किया।
इस अवसर पर इंदौर जिले के प्रभारी गृह एवं जेल मंत्री बाला बच्चन, उच्च शिक्षा मंत्री जीतू पटवारी, लोक निर्माण मंत्री सज्जन सिंह वर्मा, विधायक संजय शुक्ला, सदाशिव यादव, विनय बाकलीवाल, प्रमोद टंडन और नरेन्द्र सलूजा उपस्थित थे।
नाग
वार्ता
image