Monday, Jul 13 2020 | Time 03:57 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • तुर्की में कोरोना के 1012 नए मामले, संक्रमितों की संख्या 212,993 हुई
  • यमन में हवाई हमले में 10 नागरिकों की मौत-हाउती टीवी
  • चीन में बाढ़ से 141 लोगों की मौत
  • महाराष्ट्र के प्रत्येक जिले में होगी कोरोना प्रयोगशाला- ठाकरे
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


मध्यप्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने नमस्ते ओरछा महोत्सव-मोहंती

भोपाल, 11 दिसंबर (वार्ता) मध्यप्रदेश के मुख्‍य सचिव सुधि रंजन मोहंती ने आज कहा कि राज्य पर्यटन बोर्ड द्वारा प्रदेश में पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से तीन दिवसीय “नमस्ते ओरछा महोत्सव” 6 मार्च से प्रारंभ होगा।
श्री मोहंती ने यहां ट्रेवल और टूरिज्‍म इंडस्‍ट्री के लोगों और वरिष्‍ठ अधिकारियों की मौजूदगी में एक संवाददाता सम्‍मेलन में कहा कि तीन दिन चलने वाले इस महोत्‍सव में मध्‍यप्रदेश की सांस्‍कृतिक विरासत देखने को मिलेगा। यह कार्यक्रम
राज्‍य में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि मध्‍यप्रदेश में खजुराहो, उज्‍जैन, सांची भीमबेटका आदि होने के साथ ही हाल ही में सर्वश्रेष्‍ठ विरासत शहर का पुरस्‍कार पाने वाले ओरछा जैसे अन्‍य शानदार पर्यटन स्‍थल भी हैं जिनमें पर्यटन की संभावनाएं हैं।
उन्होंने बताया कि इस महोत्सव में जानेमाने सितार वादक और तानसेन सम्‍मान से सम्मानिक मंजु मेहता अपनी प्रस्‍तुति देंगीं।
उन्होंने बताया कि प्राचीन और विलक्षण शहर ओरछा में तीन दिन के इस महोत्‍सव में विविध गतिविधियां जैसे म्‍यूजिक, आर्ट, वैलनेस, ट्रेवल, नेचर, एडवेंचर, हिस्‍ट्री और कल्‍चर आदि संबंधी कार्यक्रम आयोजित होंगे। महोत्‍सव के दौरान पर्यटकों के लिए ग्राम और फार्म पर ठहरने की सुविधा दी जाएगी ताकि ग्रामीण उद्यमिता को बढ़ावा दिया जा सके। इस दौरान फोटोग्राफी, फिल्‍म मेकिंग परफॉर्मिंग आर्ट्स के लिए कार्यशालाएं और साइट विजिट भी होंगी।
मध्‍य प्रदेश की हस्‍तशिल्‍प विरासत को दिखाने के लिए प्रदर्शनी, मशहूर कारीगरों और ग्‍लोबल एवं लोकल ब्रांड्स के साथ फैशन और डिजाइन के दर्शन भी करवाए जाएंगे। स्‍थानीय बिजनेस के लिए भी यह एक सुनहरा अवसर होगा जिसके तहत वे पर्यटन सेवाओं और डेस्टिनेशनल वैडिंग संबंधी सेवाओं को राज्‍य में बढ़ावा दे सकते हैं।
उन्होंने बताया कि मध्‍यप्रदेश टूरिज्‍म बोर्ड ने हाल ही में 10 राष्‍ट्रीय पुरस्‍कार जीते हैं। प्रदेश सरकार ने पर्यटन को विकास के लिए प्रमुख सेक्‍टर्स में शामिल किया है और उसका लक्ष्‍य राज्‍य को घरेलू और विदेशी दोनों ही पर्यटकों के लिए आकर्षक स्‍थल के रूप में विकसित करने का है।
श्री मोहंती ने कहा कि ओरछा को राष्‍ट्रीय पर्यटन पुरस्‍कार 2017.18 में सर्वश्रेष्‍ठ विरासत शहर के पुरस्‍कार से नवाजा गया है और यह पहले ही यूनेस्‍को वर्ल्‍ड हेरिटेज साइट्स की सूची में है। ओरछा में भारत आने वाले पर्यटकों के लिए गोल्‍डन ट्रैंगल अतिरिक्‍त पर्यटन स्‍थल के रूप में शामिल होने की पूरी क्षमता है। इस हेरिटेज टाउन में हर साल एक महोत्‍सव का विचार है।
सांस्‍कृतिक विभाग के प्रमुख सचिव पंकज राग ने कहा “नमस्‍ते ओरछा के जरिए राज्‍य की विविध संस्‍कृतियां एक मंच पर आएंगी और एक सुंदर प्रदर्शन के साथ ही महोत्‍सव के प्रतिभागियों को मध्‍यप्रदेश की छिपी हुई धरोहर से परिचित करवाएंगी।
प्रदेश के पर्यटन सचिव और मध्‍य प्रदेश पर्यटन बोर्ड के मैनेजिंग डायरेक्‍टर फैज़ अहमद किदवई ने कहा मध्‍यप्रदेश देश के सबसे पसंदीदा पर्यटन स्‍थलों में से एक है और पर्यटकों को आकर्षित करने की अपार क्षमता रखता है। मुख्‍यमंत्री कमलनाथ के नेतृत्‍व में पर्यटन को प्रमुख फोकस एरिया में शामिल किया गया है।
बेतवा नदी के किनारे बसे और झांसी से मात्र 15 किलोमीटर की दूरी पर ओरछा अपनी समृद्ध स्‍थापत्‍य विरासत और पौराणिक महत्‍व के लिए विख्‍यात है। यहां बहुत ही समृद्ध वन्‍यजीव और सघन वन्‍य संपदा भी है जिससे ओरछा वन्‍यजीव अभ्‍यारण्‍य का निर्माण हुआ है।
नाग
वार्ता
image