Tuesday, Oct 20 2020 | Time 17:59 Hrs(IST)
image
BREAKING NEWS:
  • ओखा-मुंबई सेंट्रल स्पेशल ट्रेन खंभालिया पर रुकेगी
  • गोधरा में 500-1000 रुपये के पुराने नोट बरामद
  • ईपीएफओ का कार्य मॉडल सरकार के अन्य विभागों में भी अपनाया जाए: गंगवार
  • भरूच में कंपनी में विस्फोट से कर्मी की मौत
  • महाराष्ट्र में नीट 2020 में शून्य अंक मिलने पर छात्रा के किया हाईकोर्ट का रूख
  • विस्फोट में जिला पुलिस प्रमुख समेत 12 कर्मियों की मौत
  • निशंक ने बाल सुरक्षा के लिए ऑनलाइन कार्यक्रम का शुभारंभ किया
  • डीजीपी ने शहीद इंस्पेक्टर के परिजनों से की मुलाकात
  • फोटो कैप्शन पहला सेट
  • हिम्मत के नाबाद 94 रनों जीता रण स्टार
  • हिम्मत के नाबाद 94 रनों जीता रण स्टार
  • परिचालक भर्ती पेपर लीक मामले में एसआईटी गठित
  • बागेश्वर पुलिस ने किया चरस तस्कर को गिरफ्तार
  • सिरसा में पराली जलाने वालेे किसानों पर 45 हजार रुपये जुर्माना
  • कोच लालचंद राजपूत के बिना पाकिस्तान पहुंची जिम्बाब्वे क्रिकेट टीम
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


रोजगारोन्मुखी पैरामेडिकल पाठ्यक्रम शुरू किये जायें: सारंग

भोपाल, 25 सितंबर (वार्ता) मध्यप्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने कहा है कि रोजगारोन्मुखी पैरामेडिकल पाठ्यक्रमों को बढ़ावा देकर प्रारंभ किया जाये, जिससे प्रदेश में रोजगार के अवसर बढ़ाये जा सकें।
आधिकारिक जानकारी के अनुसार श्री सारंग मध्यप्रदेश-सह-चिकित्सीय परिषद की 22वीं वार्षिक बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। श्री सारंग ने कहा कि पंजीकृत-सह-चिकित्सीय कर्मी को उनकी योग्यता के अनुसार विभागों में कार्य दिया जाये एवं उनकी योग्यता अनुसार अतिरिक्त अंक दिये जायें। सभी पंजीकृत-सह-चिकित्सीय कर्मी का एक राज्य रजिस्टर तैयार किया जाये और रजिस्टर में रोजगार संबंधी जानकारी शामिल की जाये।
श्री सारंग ने कहा कि वित्त संबंधी कार्यों के लिये वित्तीय समिति का निर्माण किया जाये, जिससे कि परिषद के वित्तीय कार्यों का सुचारु संचालन हो सके। उन्होंने परिषद कार्यालय के उपयोगार्थ रिक्त भूमि पर कौंसिल के भवन निर्माण करवाये जाने के लिये निर्देशित किया। भवन निर्माण संबंधी सभी औपचारिकताएँ दो माह में पूर्ण कर भवन निर्माण संबंधी कार्य प्रारंभ करने के निर्देश भी दिये।
श्री सारंग ने कहा कि पैरामेडिकल कार्यों के सफलतापूर्वक संचालन के लिये समितियों का निर्माण किया जाये। परिषद में 5 सामाजिक कार्यकर्ताओं को भी सदस्य के रूप में रखा जाये, जिससे नये नित सामाजिक विचारों से परिषद अवगत हो सके। उन्होंने कहा कि पैरामेडिकल पाठ्यक्रमों की गुणवत्ता एवं पंजीकृत पैरामेडिक्स की गुणवत्ता का ध्यान रखा जाये। उन्होंने परिषद में तकनीकी कार्यों की गुणवत्ता एवं उन्नयनता के लिये शासकीय आईटी. संस्थान मैप आईटी, एनआईसी, एम.पी. ऑनलाइन के योग्य व्यक्तियों को शामिल कर तकनीकी कार्यों के लिये एक समिति का निर्माण करने को कहा।
बैठक में परिषद कार्यालय के लिये वित्तीय वर्ष 2020-21 का बजट पारित किया गया। इस मौके पर आयुक्त चिकित्सा शिक्षा निशांत वरवड़े और संचालक डॉ उल्का श्रीवास्तव उपस्थित थीं।
बघेल
वार्ता
More News
मैं क्यों माफी मांगूंगा - कमलनाथ

मैं क्यों माफी मांगूंगा - कमलनाथ

20 Oct 2020 | 4:00 PM

भोपाल, 20 अक्टूबर (वार्ता) मध्यप्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ ने 'आइटम' शब्द को लेकर मचे बवाल के बीच आज साफ शब्दों में कहा कि वे इस मामले को लेकर माफी क्यों मांगेंगे।

see more..
image