Tuesday, Aug 16 2022 | Time 10:26 Hrs(IST)
image
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


इंदौर में लड़ाई धन के पुजारी और ज्ञान के पुजारी के बीच : शिवराज

इंदौर, 18 जून (वार्ता) मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज कहा कि इंदौर में महापौर पद की लड़ाई धन के पुजारी और ज्ञान के पुजारी के बीच है एवं भाजपा इंदौर के विकास की परंपरा को कायम रखेगी।
श्री चौहान ने यहां इंदौर से भाजपा प्रत्याशी पुष्यमित्र भार्गव के नामांकन दाखिल करने के दौरान आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि पार्टी ने एक व्यक्ति के पास एक पद रखना तय किया। कांग्रेस में तो एक ही आदमी विधायक, सांसद और महापौर का उम्मीदवार है। कांग्रेस के पास या तो कार्यकर्ता ही नहीं है, या कार्यकर्ता हैं तो उनकी कोई इज्जत नहीं है।
उन्होंने कहा कि इंदौर में लड़ाई धन के पुजारी और ज्ञान के पुजारी के बीच में है। महापौर प्रत्याशी पुष्यमित्र भार्गव की छवि स्वस्थ है। इंदौर के विकास की जो परंपरा रही है, उसे बरकरार रखा जाएगा।
श्री चौहान ने कहा कि इंदौर उनके सपनों का शहर है। आने वाले 10 सालों में इंदौर बैंगलोर और हैदराबाद को पीछे छोड़ देगा। इंदौर का विकास, ग्रीन सिटी इंदौर, क्लीन सिटी इंदौर, आईटी सिटी इंदौर, मेट्रो सिटी इंदौर, स्मार्ट सिटी इंदौर इन्वेस्टर्स सिटी इंदौर के लिए सरकार का रोडमैप तैयार है।
उन्होंने कहा कि 21 हजार करोड़ रुपये के काम मिशन नगरोदय के तहत कर रहे हैं, 1700 करोड़ रुपये के कार्य इंदौर में किए जा रहे हैं। अगर कांग्रेस आ गई, तो इंदौर बर्बाद हो जाएगा। भाजपा इंदौर के विकास और जनता के कल्याण में कोई कसर नहीं छोड़ेगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि कांग्रेस जनता को साड़ियाँ और कपड़े बाँटने का काम कर रही है, लेकिन किसी को भी कांग्रेसियों के जाल में नहीं फँसना है।
गरिमा
वार्ता
image