Tuesday, Feb 7 2023 | Time 00:06 Hrs(IST)
image
राज्य » मध्य प्रदेश / छत्तीसगढ़


राहुल गांधी की संसद और कानून का मखौल उड़ाना पुरानी आदत: शर्मा

भोपाल, 28 नवंबर (वार्ता) मध्यप्रदेश भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने आज कहा कि पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की संविधान, कानून और संवैधानिक संस्थाओं का मखौल उड़ाना पुरानी आदत रही है। उन्हीं की सरकार में प्रधानमंत्री रहे डॉ मनमोहन सिंह के कार्यकाल में श्री गांधी ने संसद द्वारा पारित बिल को संसद में फाड़कर फेंक दिया था।
श्री शर्मा ने यहां मीडिया से चर्चा में कहा कि एक सांसद का इस प्रकार आचरण असामान्य है। उन्होंने कहा कि श्री गांधी की यात्रा भारत जोड़ो नहीं, भारत तोड़ो यात्रा है। इसी यात्रा में देश विरोधी नारे लगते हैं। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि इसकी जांच होगी। श्री शर्मा ने कहा कि सारी दुनिया जानती है कि अलकायदा आतंकवाद का चेहरा है। लेकिन श्री गांधी कहते हैं कि अलकायदा से ज्यादा खतरा आरएसएस से है। यह उनका चरित्र रहा है।
प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि इंदौर में श्री गांधी की यात्रा बड़ा गणपति से प्रारंभ होने वाली थी, परंतु श्री गांधी वहां गाड़ी से नहीं उतरे। उनका यह व्यवहार हिंदू देवी-देवताओं के प्रति उनकी भावनाओं को प्रदर्शित करता है। उन्होंने कहा कि श्री गांधी कहते हैं कि चाइना से हमें खतरा नहीं है। श्री गांधी से यह देश जानना चाहता है कि इस तरह का गैर जिम्मेदाराना बयान एक राजनीतिक दल के प्रमुख व्यक्ति के द्वारा दिया जाना क्या देश के लिए दुर्भाग्यजनक नहीं है। उन्होंने कहा कि श्री गांधी ने देश की सुरक्षा और स्वाभिमान पर आघात किया है, वे इसकी कड़ी आलोचना करते हैं।
श्री शर्मा ने कहा कि वर्ष 2018 में श्री गांधी जब मध्यप्रदेश में आए थे तो उन्होंने कहा था कि हम किसानों का कर्जा माफ कर देंगे और बेरोजगारों को भत्ता दिया जाएगा। झूठ, भ्रम और छल कपट के आधार पर कांग्रेस की सरकार बनी जिसने 15 महीने के अंदर दुरावस्था में धकेल दिया। उन्होंने कहा कि कांग्रेस की उस सरकार ने मध्यप्रदेश में गरीबों के हक को छीना था, जिसे लौटाने का काम भाजपा की सरकार ने किया है।
बघेल
वार्ता
image